संस्‍कृति मंत्रालय

वंदे भारतम की सिग्नेचर ट्यून जारी


संस्कृति मंत्रालय को गणतंत्र दिवस 2022 के दौरान अनुकरणीय पहल के लिए विशेष पुरस्कार ट्रॉफी से सम्मानित किया गया

Posted On: 22 FEB 2022 7:03PM by PIB Delhi

आजादी का अमृत महोत्सव के तहत एक आयोजन में, संस्कृति मंत्रालय द्वारा 22 फरवरी, 2022 को आईजीएनसीए, दिल्ली में सांस्कृतिक शाम के साथ "एकम भारतम" नामक अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। संस्कृति और विदेश राज्य मंत्री श्रीमती मीनाक्षी लेखी ने ग्रैमी अवार्ड विजेता रिकी केज और ऑस्कर दावेदार बिक्रम घोष द्वारा रचित "वंदे भारतम" के लिए सिग्नेचर ट्यून जारी की। इसके बाद इन कलाकारों द्वारा संगीत कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

राष्ट्रीय गणतंत्र दिवस कार्यक्रम 2022 के लिए नई दिल्ली के राजपथ पर संस्कृति मंत्रालय द्वारा प्रस्तुत नृत्य उत्सव, वंदे भारतम के लिए 'वंदे भारतम' गीत की रचना की गई थी।

संस्कृति मंत्रालय के सचिव श्री गोविंद मोहन, ग्रैमी विजेता रिकी केज और तबला वादक बिक्रम घोष भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

संस्कृति तथा विदेश राज्य मंत्री श्रीमती मीनाक्षी लेखी द्वारा 'वंदे भारतम' गीत को औपचारिक रूप से जारी करने के बाद वंदे भारतम गीत के रचयिता रिकी केज और बिक्रम घोष के द्वारा आकर्षक लाइव प्रस्तुति की गई, जिसने सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया।

 

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्रीमती मीनाक्षी लेखी ने भारतीय संस्कृति के महान गुरुओं को श्रद्धांजलि अर्पित की, जिन्होंने सदियों से हमारी संस्कृति को सुरक्षित और संरक्षित करने में मदद की है। श्रीमती मीनाक्षी लेखी ने कहा कि हमारी संस्कृति हमारी विरासत है और हमें इसे आगे ले जाने के लिए युवाओं को प्रोत्साहित करना चाहिए।

वंदे भारतम गीत की मोहकता की सराहना करते हुए, श्रीमती मीनाक्षी लेखी ने कहा कि यह हमें वंदे मातरम की भावना की याद दिलाती है, जिसने देशवासियों को अपनी स्वतंत्रता हेतु लड़ने के लिए प्रेरित किया। श्रीमती लेखी ने कहा कि जिस प्रकार हमारे पूर्वजों ने एक स्वतंत्र भारत का सपना देखा था, उसी तरह आने वाले 25 वर्षों में हमें एक नए भारत के सपने को साकार करने का सपना देखना है। उन्होंने कहा कि हम आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं और भारत @ 100 के लिए नई ऊंचाइयों की की ओर बढ़ने में वंदे भारतम हमारी ताकत बन सकता है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए, श्री गोविंद मोहन ने कहा कि वंदे भारतम, नृत्य उत्सव की सफलता उन 480 युवा कलाकारों और 4 संगीतकारों के लिए एक धन्यवाद ज्ञापन है, जिन्होंने पूरी अवधारणा को एक साथ रखा और अगस्त में राजपथ पर देश के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री की गरिमामय उपस्थिति में एक उत्कृष्ट प्रस्तुति दी। उन्होंने कहा कि इसके अलावा संस्कृति मंत्रालय की नई पहल जैसे वंदे भारतम और कला-कुंभ कार्यशालाओं में निर्मित स्क्रॉल संस्कृति के लोकतंत्रीकरण की भावना के उत्कृष्ट उदाहरण हैं, जो अब देश में सांस्कृतिक परिदृश्य में अपना स्थान बना रहे हैं।

दो संगीतकारों, रिकी केज और बिक्रम घोष ने कहा कि वंदे भारतम के लिए स्कोर देना उनके लिए सम्मान की बात है, जो संगीत का एक बहुत समृद्ध हिस्सा और भारतीय परंपराओं पर आधारित होने के साथ-साथ इसमें आधुनिक विशेषताएं और संलयन भी हैं।

रक्षा मंत्रालय ने गणतंत्र दिवस कार्यक्रम 2022 के दौरान संस्कृति मंत्रालय के अनुकरणीय प्रयासों को मान्यता देते हुए विशेष ट्रॉफी से सम्मानित किया।

एक मिनी फूड फेस्टिवल में देश भर के व्यंजनों के साथ इस खूबसूरत शाम का समापन हुआ। इस कार्यक्रम में विभिन्न प्रतिष्ठित व्यक्ति, कलाकार, मशहूर हस्तियां और मीडिया के लोग उपस्थित थे।

***

एमजी/ एएम/ एसकेएस/वाईबी



(Release ID: 1800390) Visitor Counter : 537


Read this release in: Urdu , Tamil , English