स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय

विदेशी नागरिक अब भारत में टीकाकरण के पात्र होंगे

भारत में रहने वाले विदेशी नागरिकों द्वारा कोविन पोर्टल पर पंजीकरण के लिए उनका पासपोर्ट उनकी पहचान का दस्तावेज होगा

Posted On: 09 AUG 2021 6:36PM by PIB Delhi

कोविड-19 से सुरक्षा सुनिश्चित करने की एक ऐतिहासिक पहल के रूप में, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने भारत में रहने वाले विदेशी नागरिकों को कोविड-19 का टीका लेने के लिए कोविन पोर्टल पर पंजीकरण कराने की अनुमति देने का निर्णय लिया है। ऐसे विदेशी नागरिक कोविन पोर्टल पर पंजीकरण के उद्देश्य से अपनी पहचान के दस्तावेज के रूप में अपने पासपोर्ट का उपयोग कर सकते हैं। उनके द्वारा एक बार इस पोर्टल पर पंजीकृत हो जाने के बाद, उन्हें टीकाकरण के लिए एक स्लॉट मिल जाएगा।

भारत में, विशेष रूप से बड़े महानगरीय इलाकों में, बड़ी संख्या में विदेशी नागरिक रह रहे हैं। इन इलाकों में जनसंख्या घनत्व अधिक होने के कारण कोविड-19 के फैलने की संभावना अधिक है। इस तरह के संक्रमण की संभावना को देखते हुए सभी पात्र लोगों का टीकाकरण करना जरूरी है।

इस पहल से भारत में रहने वाले विदेशी नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित होगी। यह कदम भारत में रहने वाले गैर-टीकाकृत व्यक्तियों से संक्रमण के फैलने की संभावनाओं को भी कम करेगा। यह कोविड-19 वायरस के आगे संचरण से समग्र सुरक्षा भी सुनिश्चित करेगा।

राष्ट्रीय कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम 16 जनवरी, 2021 से सभी राज्यों और केन्द्र - शासित प्रदेशों में चलाया जा रहा है। यह टीकाकरण कार्यक्रम अपने वर्तमान चरण में 18 वर्ष और उससे अधिक आयु के सभी नागरिकों को शामिल करता है। 9 अगस्त, 2021 तक  भारत ने देशभर में टीके की 51 करोड़ से अधिक खुराकें दी हैं।

 

****

एमजी/एएम/आर/डीवी



(Release ID: 1744198) Visitor Counter : 240


Read this release in: English , Marathi , Punjabi , Telugu