कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन मंत्रालय

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र ने कहा कि 2022 की शुरूआत से केंद्र सरकार की नौकरियों के लिए भर्ती में शामिल होने वाले उम्मीदवारों की स्क्रीनिंग और शॉर्टलिस्ट के लिए पूरे देश में एक सामान्य पात्रता परीक्षा का आयोजन किया जाएगा

नॉर्थ ब्लॉक में आईएएस अधिकारियों की ई-बुक सिविल लिस्ट-2021 का शुभारंभ

Posted On: 06 JUL 2021 5:59PM by PIB Delhi

केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास (डोनर), पीएमओ, कार्मिक, लोक शिकायत, पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष राज्य मंत्री, डॉ. जितेंद्र सिंह ने आज कहा कि 2022 की शुरूआत से पूरे देश में नौकरी की चाहत रखने वाले उम्मीदवारों के लिए एक सामान्य पात्रता परीक्षा (सीईटी) का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार में नौकरी के लिए भर्ती में शामिल होने वाले उम्मीदवारों की स्क्रीनिंग और शॉर्टलिस्ट के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के व्यक्तिगत हस्तक्षेप के साथ शुरू की जाने वाली इस अनूठी पहल का प्रारंभ इस वर्ष के अंत में ही किया जाना था जो कि अपने प्रकार की पहला परीक्षा होगी, लेकिन कोविड महामारी के कारण इसमें विलंब होने की संभावना है।

भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों की ई-बुक सिविल लिस्ट-2021 जारी करने के बाद, डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि सामान्य प्रवेश परीक्षा, कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) द्वारा नौकरी की चाहत रखने वाले युवा उम्मीदवारों के लिए 'ईज ऑफ रिक्रूटमेंट' लाने की दिशा में किया गया एक अग्रणी सुधार है और यह युवाओं, विशेष रूप से दूर-दराज और दूरस्थ क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए एक बहुत बड़ा वरदान साबित होगा। उन्होंने कहा कि यह ऐतिहासिक सुधार, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की युवाओं के प्रति गहरी और संवेदनशील चिंताओं और पूरे देश के युवाओं को समान अवसर प्रदान करने वाले उनके दृष्टिकोण का परिचायक भी है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image00181HN.jpg

डॉ. जितेंद्र सिंह ने बताया कि केंद्रीय मंत्रिमंडल से मंजूरी प्राप्त होने के बाद सामान्य पात्रता परीक्षा का आयोजन करने के लिए नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी (एनआरए) का गठन किया गया है। एनआरए द्वारा सरकारी क्षेत्र में नौकरियों के लिए उम्मीदवारों की स्क्रीनिंग/ शॉर्टलिस्ट करने का काम सीईटी द्वारा किया जाएगा, जिनके लिए वर्तमान समय में कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी), रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) और बैंकिंग कार्मिक चयन संस्थान (आईबीपीएस) द्वारा भर्ती की जाती है।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि एनआरए एक मल्टी-एजेंसी निकाय होगा जो ग्रुप बी और सी (गैर-तकनीकी) पदों के लिए उम्मीदवारों की स्क्रीनिंग और शॉर्टलिस्ट के लिए कॉमन टेस्ट का आयोजन करेगा। उन्होंने कहा कि इस सुधार की सबसे महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि देश के प्रत्येक जिले में कम से एक परीक्षा केंद्र होगा, जिससे दूर-दराज इलाकों में रहने वाले उम्मीदवारों तक पहुंच प्राप्त करने को काफी बढ़ावा मिलेगा।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि इस ऐतिहासिक सुधार से सभी उम्मीदवारों को समान अवसर प्राप्त होंगे, चाहे उनकी पृष्ठभूमि या सामाजिक-आर्थिक स्थिति कुछ भी हो। इससे महिलाओं और दिव्यांग उम्मीदवारों और उन लोगों को भी बहुत बड़ा लाभ प्राप्त होगा जो कई केंद्रों पर जाकर कई परीक्षा देने के लिए अपने आपको आर्थिक रूप सक्षम नहीं पाते हैं।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि पिछले सात वर्षों में नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा डीओपीटी को प्रदान किए गए प्रोत्साहन के परिणामस्वरूप आम लोगों की भलाई के लिए कई नवाचार और सुधार किए गए हैं। मई 2014 के बाद लीक से हटकर किए गए कई फैसलों का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि राजपत्रित अधिकारी से दस्तावेजों का सत्यापन कराने वाली पुरानी प्रथा को खत्म करना और उसको स्वंय-सत्यापन से बदलने का निर्णय, आईएएस अधिकारियों के लिए उनके करियर की शुरुआत में केंद्र सरकार में सहायक सचिव के रूप में तीन माह का कार्यकाल जैसे निर्णय दूरगामी प्रकृति के हैं।

ई-बुक आईएएस सिविल लिस्ट-2021 के संदर्भ में बोलते हुए डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि यह डायनेमिक लिस्ट, उपलब्ध प्रोफाइल के आधार पर सही कार्यभार प्रदान करने के लिए सही अधिकारी का चयन करने में सहायता प्रदान करेगा और आम लोगों के लिए विभिन्न पदों पर तैनात अधिकारियों के संदर्भ में जानकारी प्रदान करने वाला एक महत्वपूर्ण स्रोत बनेगा। उन्होंने कहा कि ई-बुक आईएएस सिविल लिस्ट, विभाग द्वारा भारत सरकार की डिजिटल इंडिया पहल में योगदान देने की दिशा में एक प्रयास है। उन्होंने कहा कि इस प्रयास के माध्यम से सरकारी खजाने पर बोझ में कमी लाकर संसाधनों का आर्थिक उपयोग भी सुनिश्चित किया जाएगा।

यह सिविल लिस्ट का 66वां संस्करण है और पीडीएफ में ई-बुक का पहला संस्करण है, जो कि अद्वितीय सर्च सुविधाओं और एक क्लिक पर सूचना प्राप्त करने में आसानी के लिए सामग्री की हाइपरलिंकिंग के साथ उपलब्ध कराया गया है। डीओपीटी द्वारा ई-बुक आईएएस सिविल लिस्ट 2021 के प्रकाशन की शुरुआत करके बड़ी संख्या में आईएएस सिविल लिस्ट के मुद्रण को समाप्त कर दिया गया है। आईएएस सिविल लिस्ट में अधिकारियों के बैच, संवर्ग, वर्तमान तैनाती, वेतनमान, योग्यता और सेवानिवृत्ति की तारीख के साथ-साथ उनकी समग्र कैडर-वार संख्या, 1969 से अबतक सिविल सेवा परीक्षा के माध्यम से नियुक्त किए गए आईएएस अधिकारियों की संख्या सहित अगले पांच वर्षों में सेवानिवृत्त होने वाले आईएएस अधिकारियों की संख्या के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी शामिल की गई है। इस लिस्ट में आईएएस अधिकारियों की तस्वीरें भी शामिल की गई है। ई-बुक आईएएस सिविल लिस्ट, 2021 विभाग की वेबसाइट https://dopt.gov.in पर भी उपलब्ध है।

<><><><><>

एमजी/एएम/एके/डीवी



(Release ID: 1733209) Visitor Counter : 331