PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का बुलेटिन

Posted On: 22 APR 2021 7:09PM by PIB Delhi

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002SI5N.pnghttps://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0012JIC.jpg

 

 

  • भारत का कुल वैक्सीनेशन कवरेज 13.23 करोड़ से ज्यादा हुआ
  • बीते 24 घंटे में  22 लाख से ज्यादा वैक्सीन की खुराकें दी गयीं
  • देश के कुल सक्रिय मामलों में 5 राज्यों की 60 प्रतिशत हिस्सेदारी
  • बीते 24 घंटे में 1.78 लाख से ज्यादा संक्रमण से मुक्त
  • महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश के लिए क्रमशः विशाखापट्टनम और बोकारो से लिक्विड  मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) लेकर जाने के लिए ऑक्सीजन एक्सप्रेस तैयार

 

#Unite2FightCorona

#IndiaFightsCorona

 

पत्र सूचना कार्यालय

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय

भारत सरकार

 

 

Image

 

 

 

देश में कोविड-19 टीके की दी जा चुकी खुराक की कुल संख्या 13.23 करोड़ से अधिक। पिछले 24 घंटों के दौरान 22 लाख से अधिक खुराक दी गई हैं

 

विश्व में सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के तहत देश में कोविड-19 टीके की दी जा चुकी खुराक की कुल संख्या 13.23 करोड़ से अधिक हो गई है। आज सुबह सात बजे तक मिली अस्थायी रिपोर्ट के अनुसार19,28,118 सत्रों के जरिए कोविड वैक्सीन की कुल 13,23,30,644खुराक दी जा चुकी हैं। टीकाकरण लाभार्थियों की कुल संख्या में वे 92,19,544 एचसीडब्ल्यू शामिल हैं, जिन्होंने वैक्सीन की पहली खुराक ली है और 58,52,071 ऐसे एचसीडब्ल्यू भी शामिल हैं, जिन्होंने वैक्सीन की दूसरी खुराक ले ली है।

 

टीकाकरण अभियान के 96वें दिन (21 अप्रैल, 2021) तक कोविड-19 के22,11,334टीके की खुराक दी गई। इसमें से 15,01,704लाभार्थियों को 35,499 सत्रों के जरिए पहली खुराक तथा 7,09,630 लाभार्थियों को टीके की दूसरी खुराक दी गई।

 

पिछले 24 घंटों में कोविड-19 संक्रमण के 3,14,835 नयेमामले दर्ज किए गए। महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, कर्नाटक, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, बिहार, गुजरात और राजस्थान सहित 10 राज्यों में नये संक्रमण के 75.66% मामले दर्ज किए जा रहे हैं। महाराष्ट्र में सबसे अधिक 67,468 दैनिक नए मामले दर्ज किए गए हैं। इसके बाद 33,106 के साथ उत्तर प्रदेश दूसरे स्थान पर है, जबकि दिल्ली में 24,638 नए मामले सामने आए हैं।

 

भारत में कुल सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 22,91,428 हो गई है। यह संख्या देश के कुल संक्रमित मामलों का14.38 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटों के दौरान कुल सक्रिय मामलों की संख्या में 1,33,890 मामलों की बढ़ोतरी हुई है। भारत के कुल सक्रिय मामलों में पांच राज्यों- महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक और केरल का कुल मिलाकर 59.99 प्रतिशत योगदान है।

 

भारत में आज तक कुल मिलाकर 1,34,54,880 कोविड मरीज ठीक हुए है। राष्ट्रीय रिकवरी दर 84.46 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटों के दौरान 1,78,841 कोविड मरीज ठीक हुए है। कोविड से जुड़ी राष्ट्रीय मृत्यु दर गिर रही है और इस समय 1.16 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटों के दौरान 2,104कोविड मरीजों की मौत हुई है।10 राज्यों का मौत के नए मामलों में 81.08प्रतिशत योगदान है। महाराष्ट्र में सबसे अधिक 568लोगों की जान गई, इसके बाद दिल्ली में सबसे ज्यादा 249 लोगों की मौत हुई।

 

पिछले 24 घंटों के दौरान नौ राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों में कोविड से किसी रोगी की मौत नहीं हुई है। इन राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों के नाम हैं- लद्दाख, दमन दीव औरदादर नगर हवेली, त्रिपुरा, सिक्किम,मिजोरम, लक्षदीप, नगालैंड, अंडमान-निकोबार दीप समूह और अरुणाचल प्रदेश।

जानकारी के लिये

 

 

प्रधानमंत्री ने ऑक्‍सीजन की आपूर्ति और उपलब्‍धता पर उच्‍चस्‍तरीय बैठक की

 

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने देश भर में ऑक्सीजन की आपूर्ति और इसकी उपलब्धता को बढ़ाने के तरीकों और उपायों की समीक्षा करने के लिए एक उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता की। अधिकारियों ने उन्हें पिछले कुछ हफ्तों में ऑक्सीजन की आपूर्ति में सुधार के लिए किए गए प्रयासों की जानकारी दी।

प्रधानमंत्री ने अनेक दिशाओं में तेजी से काम करने की आवश्यकता बताई। इनमें ऑक्सीजन का उत्पादन बढ़ाना, वितरण की गति बढ़ाना और स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए ऑक्सीजन की सहायता प्रदान करने के लिए अभिनव तरीकों का उपयोग करना शामिल है।

प्रधानमंत्री को जानकारी दी गई कि राज्‍यों की ऑक्सीजन की मांग की पहचान करने और उसके अनुसार पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए उनके साथ मिलकर विस्तृत कार्य किया जा रहा है। प्रधानमंत्री को जानकारी दी गई कि किस प्रकार राज्यों को ऑक्सीजन की आपूर्ति लगातार बढ़ाई जा रही है। 20 राज्यों की प्रतिदिन 6,785 मीट्रिक टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की मांग के बजाय, भारत सरकार ने 21 अप्रैल से इन राज्यों को प्रतिदिन 6,822 मीट्रिक टन ऑक्‍सीजन आवंटित की है।

यह चर्चा की गई कि पिछले कुछ दिनों में, निजी और सार्वजनिक इस्पात संयंत्रों, उद्योगों, ऑक्सीजन निर्माताओं के योगदान के साथ-साथ गैर-आवश्यक उद्योगों के लिए ऑक्सीजन की आपूर्ति पर रोक लगाकर लिक्‍वड मेडिकल ऑक्‍सीजन की उपलब्धता में प्रतिदिन लगभग 3,300 मीट्रिक टन की वृद्धि हुई है।

अधिकारियों ने प्रधानमंत्री को सूचित किया कि वे जल्द से जल्द स्वीकृत पीएसए ऑक्सीजन संयंत्रों को चालू कराने के लिए राज्यों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि विभिन्न राज्यों में निर्बाध तरीके से ऑक्सीजन की आपूर्ति हो। उन्होंने कहा कि किसी प्रकार की बाधा पहुंचाने के मामले में स्थानीय प्रशासन की जिम्मेदारी तय की जानी चाहिए। उन्होंने मंत्रालयों से ऑक्सीजन के उत्पादन और आपूर्ति को बढ़ाने के लिए विभिन्न नवीन तरीकों का पता लगाने के लिए भी कहा

जानकारी के लिये

 

प्रधानमंत्री ने कोविड-19 हालात की समीक्षा के लिए होने वाली उच्च स्तरीय बैठकों के चलते अपना पश्चिम बंगाल दौरा रद्द किया

प्रधानमंत्री वर्तमान कोविड-19 हालात की समीक्षा के लिए कल उच्च स्तरीय बैठकों की अध्यक्षता करेंगें।

श्री मोदी ने ट्वीट किया, “कल, कोविड-19 के मौजूदा हालात की समीक्षा के लिए उच्च स्तरीय बैठकों की अध्यक्षता करूंगा। इस कारण, मैं पश्चिम बंगाल नहीं जाऊंगा।

जानकारी के लिये

 

 

महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश के लिए क्रमशः विशाखापट्टनम और बोकारो से लिक्विड  मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) लेकर जाने के लिए ऑक्सीजन एक्सप्रेस तैयार हुई

 

भारतीय रेल कोविड-19 के खिलाफ अपनी लड़ाई के तहत ऑक्सीजन एक्सप्रेस का संचालन कर रही है। लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) टैंकरों के साथ पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस आज रात से विशाखापट्टनम से मुंबई के लिए अपनी पहली यात्रा शुरू करने जा रही है। विशाखापट्टनम पर एलएमओ से भरे टैंकरों की भारतीय रेल की रो-रो सेवा के माध्यम से भेजा जा रहा है।

 

एक अन्य ऑक्सीजन एक्सप्रेस ने उत्तर प्रदेश में मेडिकल ऑक्सीजन की जरूरत पूरी करने के लिए वाराणसी के रास्ते लखनऊ से बोकारो के लिए अपनी यात्रा शुरू कर दी है। ट्रेन की यात्रा के लिए लखनऊ से वाराणसी के बीच एक ग्रीन कॉरिडोर तैयार किया गया था। ट्रेन ने 270 किलोमीटर की दूरी 62.35 किमी प्रति घंटा की औसत गति के साथ 4 घंटे 20 मिनट में तय की थी। ट्रेनों के माध्यम से ऑक्सीजन की ढुलाई लंबी दूरियों पर सड़क परिवहन की तुलना में तेज है। ट्रेनें एक दिन में 24 घंटे तक चल सकती हैं, लेकिन ट्रक के चालकों को आराम आदि की जरूरत होती है।

 

यह खुशी की बात हो सकती है कि टैंकरों की लोडिंग/ अनलोडिंग को आसान बनाने के लिए एक रैम्प की जरूरत होती है। कुछ स्थानों पर रोड ओवर ब्रिज्स (आरओबी) और ओवरहेड इक्विपमेंट (ओएचई) की ऊंचाई की सीमाओं के कारण, रोड टैंकर का 3320 मिमी ऊंचाई वाला टी 1618 मॉडल 1290 मिमी ऊंचे फ्लैट वैगनों पर रखे जाने के लिए व्यवहार्य पाया गया था।

For details

 

केंद्र सरकार ने कोविड के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र 19 राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों को रेमडेसिवीर की आपूर्ति का आवंटन किया

 

भारत सरकार ने विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में हाल ही में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के प्रभावी प्रबंधन हेतु सामने आने वाले मुद्दों के समाधान के लिए अनेक कदम उठाए हैं। केंद्र सरकार द्वारा समग्र रूप से उठाए गए इन सक्रिय उपायों की नियमित रूप से उच्चतम स्तर पर समीक्षा और निगरानी भी की जा रही है।

 

अस्पतालों में गंभीर कोविड-19 रोगियों की संख्या के बढ़ने से प्रभावी नैदानिक प्रबंधन के लिए रेमडेसिवीर की मांग में वृद्धि हुई है, जबकि राज्यों को सलाह दी गई है कि स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा इस दवा के विवेकपूर्ण उपयोग को ही बढ़ावा दिया जाए, क्योंकि इसे एक जांच चिकित्सा के रूप में सूचीबद्ध किया गया है। राज्यों को दवा की संभावित जमाखोरी और कालाबाजारी के खिलाफ कार्रवाई करने की भी सलाह दी गई है।

 

कोविड-19 चिकित्सा के लिए आवश्यक रेमडेसिवीर इंजेक्शन की मांग में देश में अचानक हुई वृद्धि को ध्यान में रखते हुए, घरेलू रेमडेसिवीर निर्माताओं की विनिर्माण क्षमता में वृद्धि की गई है। इस प्रयास में सरकार द्वारा निर्माताओं को सभी तरह की सहायता दी जा रही है। उत्पादन क्षमता के मौजूदा स्तर को प्रति माह 38 लाख शीशियों से बढ़ाकर 74 लाख शीशी प्रति माह किया जा रहा है और 20 अतिरिक्त विनिर्माण स्थलों को मंजूरी दी गई है। घरेलू आपूर्ति को बढ़ाने के लिए 11 अप्रैल, 2021 को रेमडेसिवीर का निर्यात भी प्रतिबंधित कर दिया गया है।

 

देश के कुछ क्षेत्रों में रेमडेसिवीर की कमी की रिपोर्ट और इसकी सुचारू अंतर-राज्यीय आपूर्ति की सुविधा हेतु, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा औषध विभाग के साथ समन्वय के माध्यम से 19 राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों के लिए 30 अप्रैल, 2021 तक रेमडेसिवीर का अंतरिम आवंटन किया गया है

जानकारी के लिये

 

 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने उद्योग जगत को सरकार के समर्थन का भरोसा दिलाया, उद्योग जगत को स्थिति का आकलन करने के लिए इंतजार करना चाहिए

केंद्रीय वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने आज यहां उद्योग जगत को कोविड​​-19 महामारी की दूसरी लहर की स्थिति का आकलन करने के लिए अगले कुछ दिनों तक इंतजार करने का आग्रह किया है। वित्त मंत्री ने उद्योग जगत को सरकार की तरफ से पूर्ण सहायता का आश्वासन भी दिया।

 

वर्चुअल माध्यम से फिक्की राष्ट्रीय कार्यकारी समिति के सदस्यों को संबोधित करते हुए श्रीमती सीतारमण ने कहा कि नए टीकाकरण दिशानिर्देशों के साथ और कोविड-19 मामलों के प्रबंधन में अपनाई गई पांच स्तरीय रणनीति, टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट, कोविड-19 प्रोटोकॉल और टीकाकरण का पालन करना चाहिए। इस रणनीति से एक भरोसा भी जगता है।

इन सभी कदमों के साथ, हमें उम्मीद है कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर जिस तरह से आगे बढ़ रही है, उसमें एक सकारात्मक बदलाव देखने को मिलेगा। उद्योग जगत भी इस पर नजर बनाए हुए है और मैं चाहती हूं कि आप (उद्योग) उत्सुकता से देखें कि क्या चल रहा है और हम इस (महामारी) में उद्योग जगत के साथ हैं। मुझे यकीन है कि हम सभी एक साथ समझेंगे कि कैसे इस स्थिति से बाहर निकलने में मदद मिलेगी और विकास की गति को बनाए रखा जा सकेगा, जिसे हम सभी अंतिम तिमाही और इस तिमाही के बीच देखना चाहते हैं।

 

वित्त मंत्री ने कहा, "मैं उद्योग जगत से अनुरोध करूंगी कि अगले कुछ दिनों में थोड़ा धैर्य रखें और फिर खुद आकलन करें कि यह तिमाही कैसी होगी।"

 

श्रीमती सीतारमण ने आगे कहा कि हॉस्पिटेलिटी ,विमानन, यात्रा, पर्यटन और होटल जैसे क्षेत्रों को कोविड-19 महामारी की शुरुआत से ही बड़ी कठिनाई का सामना करना पड़ा है। वित्त मंत्री ने कहा, "हमने इन क्षेत्रों के लिए आपातकालीन क्रेडिट लाइन गारंटी योजना (ईसीजीएलएस 2.0) को आगे बढ़ाया है और मैं उस प्रदर्शन को सुनिश्चित करूंगी। और यहां तक कि पर्यटन और विमानन क्षेत्र जैसा पिछले साल प्रदर्शन कर रहा था

जानकारी के लिये

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से प्राप्त जानकारी

महाराष्ट्र: महाराष्ट्र में जेल प्रशासन के मुताबिक राज्य भर की 47 जेलों में 246 कैदी वायरस से संक्रमित हुए हैं। कोविड-19 का प्रसार रोकने के लिए आज रात 8 बजे से कठोर प्रतिबंध लागू किये जाएंगे। ये प्रतिबंध उस वक्त लगाये जा रहे हैं, जब महाराष्ट्र में बुधवार को 67 हजार से ज्यादा मामले और 568 मृत्यु दर्ज की गयीं। एक सप्ताह से भी कम समय में यह दूसरी बार है जब राज्य ने कोरोना के 67 हजार मामले दर्ज किये। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि सरकार धीरे धीरे सख्त लॉकडाउन की तरफ बढ़ रही है। उन्होने कहा कि किसी भी परिस्थिति में जिलों के बीच गैर जरूरी आवागमन को मंजूरी नहीं दी जायेगी।

गुजरात: गुजरात में पहली बार बुधवार को 12 हजार से ज्यादा नये मामले दर्ज किये गये और 121 लोगों की मौत हुई। सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 76,500 हो गयी है। 1200 बेड के अहमदाबाद सिविल अस्पताल के बाहर 108 एम्बुलेंस में पहुंचे कोरोना मरीजों का अब शुरुआती उपचार अस्पताल पहुंचने से पहले ही शुरू कर दिया गया है। अस्पताल की मेडिकल स्टाफ टीम ने ऐसे मरीजों की देखभाल शुरू कर दी है, जिसमें ऑक्सीजन से लेकर एंटीबायोटिक्स भी शुरू की गयी है। इसे ट्रीटमेंट ऑन व्हील्स का नाम दिया गया है।   

 

मध्य प्रदेश: राज्य में 18 साल से अधिक आयुवर्ग के करीब 3.32 करोड़ को मुफ्त में टीका लगेगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने एक वर्चुअल बैठक की, जिसमें 14 मंत्रियों को संक्रमण पर नियंत्रण के लिए राज्य स्तरीय जिम्मेदारियां आवंटित की गयी हैं। उन्होने श्रमिकों से अपील की है कि वो रोजगार की तलाश में बाहर न निकलें, क्योंकि राज्य मुफ्त राशन के साथ सभी मदद दे रहा है। मुख्यमंत्री ने इसके साथ ही ऐलान किया सार्वजनिक क्षेत्र की बीना रिफायनरी राज्य के अस्पतालों को ऑक्सीजन की आपूर्ति करेगी। रिफायनरी ने ऑक्सीजन के परिवहन की समस्याओं से निपटने के लिए वहां 1000 बेड का अस्पताल स्थापित करने का फैसला भी किया है। एमपी में दिन में 13107 नये मामले आये थे। भोपाल में 1729 नए मामले थे। भोपाल जिला प्रशासन ने टीकाकरण केंद्रों पर पहुंचने वालों की संख्या बढ़ाने को लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए ‘घर घर कुंडी खटकाओ’ अभियान शुरू किया है।

 

छत्तीसगढ़: छत्तीसगढ़ कोविड-19 स्वास्थ्य कर्मियों के टीकाकरण में दूसरे स्थान पर है, और राज्य में पंजीकृत स्वास्थ्य कर्मियों में 90 प्रतिशत को टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है। जारी लॉकडाउन की अवधि में, पिछले 4 दिनों के दौरान छत्तीसगढ़ में 56,323 नये कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान की गयी। जबकि इस दौरान 57908 मरीज संक्रमण मुक्त हो गये। हालांकि कोरोना संक्रमण से मौतें अभी भी चिंता का विषय हैं। बीते 4 दिनों में छत्तीसगढ़ में 699 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हो गयी।

 

 

राजस्थान: बुधवार को 14,622 कोविड-19 मामलों के साथ राजस्थान ने लगातार छठे दिन रिकॉर्ड दैनिक बढ़त दर्ज की, जिससे राज्य के संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 4,53,407 हो गयी। बिमारी की वजह से 62 और लोगों की मौत के साथ राज्य में मरने वालों की संख्या बढ़कर 3,330 पर पहुंच गयी। राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 96,366 पर थी। राज्य सरकार ने सभी सरकारी और निजी स्कूलों में 22 अप्रैल से 6 जून तक ग्रीष्मावकाश की घोषणा की है। ये कदम महामारी की स्थिति को देखते हुए लिया गया है।

 

गोवा: राज्य सरकार ने बुधवार को कई प्रतिबंध लगाये हैं, जिसमें 30 अप्रैल तक आवश्यक सेवायें प्रदान करने वालों के आवागमन को छोड़कर बाकी सभी के आवागमन पर रोक के साथ रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रात्रि कर्फ्यू शामिल है। गोवा सरकार ने कैसिनो, रेस्टोरेंट, पब, जिम, सिनेमा हॉल, थियेटर में प्रवेश को क्षमता के 50 प्रतिशत तक प्रतिबंधित कर दिया है। साथ ही सरकार ने स्वीमिंग पूल, स्कूल, कॉलेज को बंद करने और किसी तरह की समागमों पर रोक लगाने का फैसला किया है। गोवा सरकार मेडिकल ऑक्सीजन के लिए और अधिक आपूर्तिकर्ताओं को साथ ले रही है।

केरल: आज से राज्य में प्रतिबंध और सख्त कर दिये गये हैं। सार्वजनिक स्थलों पर भीड़ लगाने की अनुमति नहीं है। राज्य ने पुष्टि किये गये 22,414 मामलों के साथ सर्वाधिक एकदिवसीय बढ़त दर्ज की है, जिसके साथ टीपीआर 18.41 प्रतिशत पर पहुंच गया है। राज्य की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने कहा कोविड वैक्सीनेशन अभियान की योजना और क्रियान्वयन के लिए 6 दिशानिर्देश जारी किये गये हैं। आज दोपहर तक कुल मिलाकर टीके की 63,625 पहली खुराक और 39,711 दूसरी खुराक दी जा चुकी हैं। अब तक कुल मिलाकर राज्य में कोविड टीके की 64,29,758 खुराकें दी जा चुकी हैं।

तमिलनाडु: बुधवार को तमिलनाडु में 53 मृत्यु के साथ कोविड मामले 11,681 संक्रमण के साथ नये उच्चस्तर पर पहुंच गये, इसके साथ ही 5 जिलों चेन्नई, चेंगलपट्टू, थिरूवल्लूर, कांचीपुरम और कोयंबटूर के मामलों की दिन के कुल मामलों में हिस्सेदारी 50 प्रतिशत थी। राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या अब 84,361 है और कोविड से मरने वालों की संख्या 13,258 पर पहुंच गयी है। बुधवार को राज्य में 73,461 लोगों को टीका लगाया गया। बीते दिन तक पूरे राज्य भर में कुल मिलाकर 49,65,949 को टीका लगाया जा चुका है, जिसमें से 42,23,499 को पहली खुराक और 7,42,450 को दूसरी खुराक मिल चुकी है। सिर्फ 10 दिन शेष रहते, मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि महामारी को देखते हुए सुरक्षा के प्रोटोकाल का पालन किये जाने के कारण 2 मई को चुनाव के नतीजों की घोषणा में थोड़ी देर होगी।  

कर्नाटक: राज्य सरकार के द्वारा जारी किये गये कोविड बुलेटिन के अनुसार, दर्ज किये गये नये मामले: 23,558; कुल सक्रिय मामले: 176188; कोविड से मृत्यु के नये मामले: 116; कोविड से कुल मृत्यु: 13762 । कल 60,248 को टीका लगाया गया, जिसके साथ अब तक राज्य में कुल मिलाकर 74,60,493 को टीका लगाया जा चुका है। कर्नाटक सरकार ने बुधवार को बेंगलुरू के अस्पतालों में रेमडिसिवर और मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति पर नजर रखने के लिए बेंगलुरू में वॉररूम का कामकाज शुरू किया। कोरोना पर नियंत्रण के लिए हाल ही मे लागू दिशानिर्देशों पर सख्ती से अमल के लिए शहर की पुलिस तैयार है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ के सुधाकर ने कहा, वर्तमान की मांग और खपत के अनुसार 1,500 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत है और इसी के अनुसार व्यवस्था की जा रही है।

 

आंध्र प्रदेश: राज्य ने एक दिन में 9716 नए मामले और 38 मृत्यु दर्ज की है, जबकि बीते 24 घंटे में 3359 लोग संक्रमण से मुक्त हो गये हैं। कुल मामले: 9,86,703; सक्रिय मामले: 60,208; मृत्यु: 7510; डिस्चार्ज हुए: 9,18,985। पूरे राज्य भर में आज उन लोगों के लिए खास अभियान आयोजित हुआ जिनको कोविड टीके की दूसरी खुराक लेने की जरूरत है। बुधवार तक राज्य में कुल मिलाकर कोविड टीके की 49,68,504 खुराकें दी जा चुकी हैं, जिसमें 42,57,224 पहली खुराक और 7,11,280 दूसरी खुराक हैं। इसी बीच आज सुबह मुंबई से पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस विशाखापट्टनम में विशाखापट्टनम इस्पात की कॉर्पोरेट इकाई राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड (आरआईएनएल) पहुंची। कुल 100 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) की वहन क्षमता वाले 7 खाली क्रायोजनिक टैंकर को प्रोटोकॉल के मुताबिक भरने की प्रक्रिया पूरी होने, तौलने और सुरक्षा जांच पूरी होने में करीब 20 से 24 घंटे लगेंगे, जिसके बाद इसे कोविड मरीजों की चिकित्सीय अनिवार्य जरूरतों को पूरी करने के लिए महाराष्ट्र भेजा जा सकेगा।

तेलंगाना: केंद्र सरकार के द्वारा 30 अप्रैल तक 19 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को 11 लाख एंटी-वायरल दवा रेमेडिसिवर इंजेक्शन के अंतरिम आवंटन में तेलंगाना को 21,551 इंजेक्शन आवंटित किये गये हैं। यह सुनिश्चित करने के लिए कि लोगों के पास अस्पतालों में कोविड -19 बेड के बारे में जानकारी हो, बुधवार को राज्य सरकार ने पूरे तेलंगाना में निजी और सरकारी अस्पतालों में उपलब्ध बेड्स की वास्तविक समय की उपलब्धता  https://health.telangana.gov.in. पर देनी शुरू कर दी है। कोविड मामलों में तेज उछाल को देखते हुए राज्य सरकार हल्के लक्षणों वाले मरीजों के इलाज के लिए 4837 बेड क्षमता वाले 50 और कोविड केयर सेंटर को स्थापित करने का फैसला लिया है। राज्य में कल (बुधवार) सभी श्रेणियों में कुल मिलाकर 1,04,770 लोगों को पहली खुराक और 18035 को दूसरी खुराक मिली है। अब पहली खुराक पाने वाले लोगों की कुल संख्या 29,73,323 और दूसरी खुराक पाने वालों की कुल संख्या 4,18,167 है। इसी बीच राज्य में कल कुल मिलाकर 5567 नए दैनिक कोविड मामले और 23 मृत्यु दर्ज की गयी, जिससे राज्य में संक्रमित मामलों की कुल संख्या 3,73,468 पर और मृतकों की संख्या 1899 पर पहुंच गयी। अब राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 49,781 है।

असम: असम 18-45 आयुवर्ग में सभी को मुफ्त में वैक्सीन देगा। पिछले साल असम आरोग्य निधि के लिये जुटाया गयी रकम (118 करोड़ रुपये) वैक्सीन की खरीद में इस्तेमाल होंगे। असम में बुधवार को कुल 1665 नये कोविड -19 मामले 2.68 प्रतिशत की सकारात्मकता की दर के साथ दर्ज किये गये। कामरूप (मेट्रो) जिले सर्वाधिक 674 मामले दर्ज हुए। दिन के दौरान 5 मृत्यु दर्ज की गयीं। असम के स्वास्थ्य विभाग ने कोविड वैक्सीन पर उदारीकृत खरीद नीति के अंतर्गत भारत बायोटेक इंटरनेशनल और सीरम इंस्टीट्यूट से 2 करोड़ खुराकें मांगी हैं।

असम के स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि ऐसी स्थिति में जब गुवाहाटी मेट्रो में दैनिक मामले 1000 के स्तर पर पहुंच जायें, स्थानीय प्रशासन को शैक्षिक संस्थानों और छात्रावासों के बंद करने के लिए अधिकृत किया गया है।

मणिपुर: बीते 24 घंटे के दौरान मणिपुर में 2 और मृत्यु दर्ज होने के साथ मृतकों की संख्या 380 पर पहुंच गयी, जबकि इसी अवधि में 92 और लोग वायरस से संक्रमित पाये गये हैं। अब तक टीका पाने वाले लोगों की संख्या 1,13,651 है।

मेघालय: मेघालय सरकार ने फैसला लिया कि टीकाकरण अभियान को युद्ध स्तर पर बढ़ाया जायेगा। सभी 6.5 लाख पात्र लाभार्थियों को एक हफ्ते या 10 दिन में टीका लगाने का लक्ष्य है। मुख्यमंत्री कॉनराड के संगमा ने आज जानकारी दी कि राज्य ने अपने सभी 45 साल से ऊपर के 6.5 लाख नागरिकों को कोविड 19 के खिलाफ टीकाकरण अगले महीने तक पूरा करने का लक्ष्य रखा है। अब तक 1.88 लाख कोविड इंजेक्शन लगाये जा चुके हैं। बुधवार को 192 मामलों के दर्ज होने के साथ, राज्य में अब कोविड-19 के 1,021 सक्रिय मामले हैं। बुधवार को 3 और मौतों के साथ मृतकों की संख्या बढ़कर 157 हो गयी।

 

सिक्किम: सिक्किम में 50 नये कोविड मामले दर्ज किये गये। राज्य में सक्रिय कोविड मामलों की संख्या अब 536 है।

त्रिपुरा: त्रिपुरा में प्रवेश करने वालों के लिए यात्रा से 72 घंटे पहले तक हुए कोविड टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट रखना अनिवार्य होगा। अगर आने पर टेस्ट रिपोर्ट उपलब्ध नहीं होगी तो व्यक्ति की राज्य में प्रवेश स्थल पर जांच होगी। कोविड -19 के 92 नये मामलों के साथ राज्य में अब तक की सर्वाधिक एकदिवसीय बढ़त दर्ज हुई, जो कि दूसरी लहर का सबसे ऊंचा आंकड़ा है। 

 

नागालैंड: नागालैंड में बुधवार को 97 नये कोविड मामलों की पहचान की गयी। सक्रिय मामले 347 हैं, जबकि कुल संख्या बढ़कर 12,747 पहुंच गयी है। कोहिमा डीसी ने कहा कि राज्य की राजधानी में फिलहाल कोई लॉकडाउन या वाहनों पर प्रतिबंध नहीं है। दीमापुर में रात्रि कर्फ्यू लगाया गया है। वहीं मुख्य बाजार एक दिन छोड़कर एक दिन खुले रहेंगे।

 

पंजाब: जांच में सकारात्मक पाये गये मरीजों की कुल संख्या 3,14,269 है। सक्रिय मामलों की संख्या 3,88,66 है। मृतकों की कुल दर्ज संख्या: 8114 है। टीके की पहली खुराक पाने वालों (स्वास्थ्यकर्मी+ फ्रंटलाइन कर्मचारी) की कुल संख्या 5,27,972 है। कोविड 19 की दूसरी खुराक पाने वालों (स्वास्थ्यकर्मी+ फ्रंटलाइन कर्मचारी) की कुल संख्या 1,56,138 है। 45 से ऊपर टीके की पहली खुराक पाने वाले 1865948 हैं। 45 से ऊपर टीके की दूसरी खुराक पाने वाले 93329 हैं।

 

हरियाणा: आज की तारीख तक सकारात्मक पाये गये नमूनों की कुल संख्या 3,81,247 है। सक्रिय कोविड-19 मरीजों की कुल संख्या 55,422 है। मृतकों की संख्या 3528 है। टीकाकरण का कुल कवरेज 33,86,492 है। 

चंडीगढ़: प्रयोगशाला की जांच में सकारात्मक पाये गये कोविड-19 मामले 35,770 है। सक्रिय मामलों की कुल संख्या 4125 है। आज की तारीख तक कोविड-19 से मरने वालों की कुल संख्या 423 है।

हिमाचल प्रदेश: अब तक कोविड सकारात्मक मरीजों की कुल संख्या 81102 है। सक्रिय मामलों की कुल संख्या 10793 है। अब तक मृतकों की संख्या 1223 है।

A stamp of false on a social media post which is claiming that the export of oxygen from India has increased by 734% between Jan 2020 & Jan 2021.

A stamp of false on a media report which claims that export of oxygen from India rose over 700% in Jan'21 vs '20.

 

 

 

एमजी/एएम/एसएस



(Release ID: 1713531) Visitor Counter : 144