स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय

मंत्रियों के उच्च स्तरीय समूह ने कोविड-19 की वर्तमान स्थिति तथा इसके  रोकथाम और प्रबंधन के लिए किए जाने वाले कार्यों की समीक्षा की

Posted On: 11 MAR 2020 7:21PM by PIB Delhi

      प्रधानमंत्री के निर्देश पर मंत्रियों के एक उच्च स्तरीय समूह (जीओएम) का गठन किया गया जो  देश में नोवेल कोरोना वायरस बीमारी (कोविड-19) के प्रबंधन के बारे में तैयारियों और उपायों की समीक्षा, निगरानी और मूल्यांकन करेगा। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन की अध्यक्षता में आज मंत्री समूह की बैठक हुई।

      इस बैठक में नागरिक उड्डयन मंत्री श्री हरदीप एस पुरी, विदेशी मामलों के मंत्री डॉ एस जयशंकर, गृह राज्य मंत्री श्री नित्यानंद राय,  पोत परिवहन राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) तथा  रसायन एवं उर्वरक मंत्री श्री मनसुख मंडाविया, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्‍य मंत्री श्री अश्विनी कुमार चौबे तथा मंत्री समूह (जीओएम) के सदस्‍य उपस्थित थे। 

      जीओएम के समक्ष कोविड​​-19 की वर्तमान स्थिति पर आधारित एक प्रस्तुति दी गई। इसमें कोविड​​-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए किए गए कार्यों को दिखाया गया। 10 मार्च, 2020 को जारी किए गए यात्रा परामर्शों को भी इस प्र‍स्‍तुति में शामिल किया गया था। बचाव के उपाय के तहत चीन, हांगकांग, कोरिया गणराज्य, जापान, इटली, थाईलैंड, सिंगापुर, ईरान, मलेशिया, फ्रांस, स्पेन और जर्मनी से आए यात्रियों को अपने आगमन के दिन से अगले 14 दिनों तक स्‍वयं द्वारा लागू क्‍वॉरन्‍टीन में रहना चाहिए। इस अवधि के दौरान उनके नियोक्‍ताओं को इन्‍हें घर से ही काम करने की सुविधा देनी चाहिए।

      इस बैठक में संबंधित मंत्रालयों/विभागों के सचिवों तथा अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारियों ने भाग लिया।      

      सुश्री प्रीति सूदन ने मंत्री समूह को जानकारी देते हुए कहा कि राज्‍य/केंद्रशासित  प्रदेशों को कठोर आईईसी करने और लोगों को सावधानियां, लक्षण तथा हेल्‍पलाइन नंबर के बारे में जागरूक बनाने की सलाह दी गई हैराज्‍य/केंद्रशासित प्रदेश अतिरिक्‍त क्‍वॉ‍रन्‍टीन सुविधाओं की पहचान कर रहे हैं, आइसोलेशन वार्डों को विकसित कर रहे हैं तथा स्‍वास्‍थ्‍य कर्मिंयों एवं डॉक्‍टरों को प्रशिक्षण दे रहे हैं। राज्‍यों/केंद्रशासित प्रदेशों को नियमित रूप से परामर्श और दिशा-निर्देश दिए जा रहे हैं। चीन, सिंगापुर, थाईलैंड, हांगकांग, जापान, दक्षिण कोरिया, वियतनाम, मलेशिया, नेपाल, इंडोनेशिया, ईरान और इटली से आने वाले सभी यात्रियों की स्‍क्रीनिंग की जा रही हैं।

      समिति ने सावधानी के अन्‍य उपायों के बारे में विस्‍तार से चर्चा की। मंत्री समूह ने कोविड-19 का सामना करने में विभिन्‍न मंत्रालयों/विभागों, राज्‍यों/केंद्रशासित प्रदेशों की तैयारी और प्रयासों पर संतोष व्‍यक्‍त किया।

      कैबिनेट सचिव ने आज संबंधित मंत्रालयों के सचिवों और सेना व आईटीबीपी के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। निर्णय लिया गया कि स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय द्वारा सभी राज्‍यों/केंद्रशासित प्रदेशों को यह सलाह दी जानी चाहिए कि वे महामारी अधिनियम 1897 की धारा 2 के प्रावधानों को लागू करें ताकि मंत्रालय द्वारा जारी सभी परामर्शों को लागू किया जा सके। इटली से आज आने वाले 83 यात्रियों को सेना सुविधा केंद्र, मानेसर में क्‍वॉरन्‍टीन किया गया।

 

एएम/जेके/एसके- 6310



(Release ID: 1606815) Visitor Counter : 99