वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्रालय

स्टार्टअप 2047 तक विकसित राष्ट्र बनने की दिशा में भारत की यात्रा में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं: श्री गोयल


श्री गोयल ने पिछले 8 वर्षों में स्टार्टअप क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रगति की सराहना की, कहा- जो कभी नई बात थी, आज वह राष्ट्रीय मुख्यधारा का अभिन्न हिस्सा है

पर्यटन अप्रयुक्त क्षमता वाला ऐसा क्षेत्र है जिसमें स्टार्टअप्स टिकाऊ पर्यटन के लिए नई संभावनाओं का पता लगाएं: श्री गोयल

श्री गोयल ने मार्ग पोर्टल के माध्यम से अधिक सहयोग और सलाह देने का आह्वान किया

मंत्री ने स्टार्टअप पुरस्कार और राज्य रैंकिंग पुरस्कार दिए; गुजरात, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु को शीर्ष पुरस्कार मिले

Posted On: 16 JAN 2024 3:22PM by PIB Delhi

केन्द्रीय वाणिज्य एवं उद्योग, उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण तथा वस्त्र मंत्री श्री पीयूष गोयल ने कहा कि स्टार्टअप 2047 तक विकसित राष्ट्र बनने की दिशा में भारत की यात्रा में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। आज नई दिल्ली में स्टार्टअप पुरस्कार और राज्य रैंकिंग पुरस्कार समारोह में उन्होंने पिछले आठ वर्षों में स्टार्टअप क्षेत्र में हुई उल्लेखनीय प्रगति की सराहना करते हुए कहा कि जो कभी नई बात थी, आज वह राष्ट्रीय मुख्यधारा का अभिन्न अंग बन गई है।

श्री गोयल ने मेडटेक, फिनटेक, एग्रोटेक से लेकर विमानन क्षेत्र, ड्रोन और सिमुलेटर तक विभिन्न क्षेत्रों पर प्रकाश डाला जिनमें स्टार्टअप महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं। उन्होंने पर्यटन को अप्रयुक्त क्षमता वाले क्षेत्र के रूप में रेखांकित किया और स्टार्टअप को टिकाऊ पर्यटन के क्षेत्र में नवीन विचारों का पता लगाने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की सुझाई गई वेड-इन-इंडिया पहल पर संभावित स्टार्टअप को ध्यान देना चाहिए। उन्होंने बताया कि पीएम ने वाइब्रेंट गुजरात में कहा था कि भारत की प्राथमिकता न्यू एज स्किल्स, फ्यूचरिस्टिक टेक, एआई और इनोवेशन है।

श्री गोयल ने युवाओं और बुजुर्गों दोनों की उद्यमशीलता की भावना पर भरोसा जताया और उनसे स्टार्टअप इको-सिस्टम में अपने अद्वितीय दृष्टिकोण और विचारों का योगदान करने का आग्रह किया। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि नए विचारों से जुड़ने और नवाचार को बढ़ावा देने में उम्र बाधा नहीं बननी चाहिए। उन्होंने लोगों से उम्र की परवाह किए बिना स्टार्टअप इको-सिस्टम में सक्रिय रूप से भाग लेने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति में भारत के विकास में योगदान करने की क्षमता है।

श्री गोयल ने कहा कि भारत विश्व स्तर पर तीसरे सबसे बड़े स्टार्टअप इको-सिस्टम के रूप में उभरा है, जो अनगिनत उद्यमियों के सपनों को साकार कर रहा है और व्यापार करने के नवीन तरीकों को पेश कर रहा है। मोटे अनाज और खाद्य प्रसंस्करण जैसे क्षेत्रों में उपलब्धियों की सराहना करते हुए श्री गोयल ने स्टार्टअप से कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) जैसे नए क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करने का आग्रह किया। उन्होंने स्टार्टअप से ऐसे विचारों के साथ आगे आने के लिए प्रोत्साहित किया जो जीवन को आसान बनाते हैं और काम करने के मौजूदा तरीकों में क्रांतिकारी बदलाव लाते हैं।

श्री गोयल ने अपने संबोधन में स्टार्टअप को और अधिक मदद देने के लिए की जाने वाली प्रमुख पहलों को रेखांकित किया, जिसमें अधिक केंद्रित कार्य के लिए विभिन्न क्षेत्रों में स्टार्टअप का वर्गीकरण, उनके स्थानों की पहचान करने के लिए डेटा का सैनिटाइजेशन और स्टार्टअप के विकास चरण को ट्रैक करना शामिल है। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित करने के प्रयास किए जा रहे हैं कि सभी स्टार्टअप उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग (डीपीआईआईटी) पोर्टल पर पंजीकृत हों।

केंद्रीय मंत्री ने मार्ग पोर्टल - मेंटरशिप, सलाह, सहायता, लचीलापन और स्टार्टअप इंडिया के विकास के माध्यम से अधिक सहयोग और मार्गदर्शन का आह्वान किया। उन्होंने सरकारी ई-मार्केटप्लेस (जीईएम) के साथ आउटरीच और ऑन-बोर्डिंग स्टार्टअप के महत्व पर जोर दिया क्योंकि स्टार्टअप को ऑनबोर्ड करने की प्रक्रिया को सरल बना दिया गया है। श्री गोयल ने स्टार्टअप्स को पेटेंट, कॉपीराइट और ट्रेडमार्क सुरक्षा हेतु पंजीकरण करने के लिए प्रोत्साहित किया क्योंकि स्टार्टअप्स के लिए शुल्क कम कर दिया गया है।

श्री गोयल ने मार्च 2024 में 'स्टार्टअप महाकुंभ' का आयोजन करने की घोषणा की। उन्होंने स्टार्टअप इको-सिस्टम के लिए निरंतर सरकारी मदद का आश्वासन दिया, उद्यमियों को विशाल उपभोक्ता बाजार का लाभ उठाने और एक उभरती हुई स्टार्टअप प्रणाली को विकसित स्टार्टअप प्रणाली में बदलने के लिए सहयोगात्मक रूप से काम करने के लिए आमंत्रित किया।

स्टेट्स स्टार्टअप रैंकिंग फ्रेमवर्क 2022 परिणाम

श्रेणी ए राज्य (जनसंख्या 1 करोड़ से अधिक)

 

प्रदर्शन

राज्य

बेस्ट परफॉर्मर

गुजरात

कर्नाटक

केरल

तमिलनाडु

टॉप परफॉर्मर

महाराष्ट्र

ओडिशा

पंजाब

राजस्थान

तेलंगाना

लीडर

आंध्र प्रदेश

असम

मध्य प्रदेश

उत्तर प्रदेश

उत्तराखंड

अस्पाइरिंग लीडर

बिहार

हरियाणा

उभरते इको-सिस्टम

छत्तीसगढ

दिल्ली

जम्मू और कश्मीर

 

श्रेणी बी राज्य (जनसंख्या 1 करोड़ से कम)

 

प्रदर्शन

राज्य

बेस्ट परफॉर्मर

हिमाचल प्रदेश

टॉप परफॉर्मर

अरुणाचल प्रदेश

मेघालय

लीडर

गोवा

मणिपुर

त्रिपुरा

अस्पाइरिंग लीडर

अंडमान व निकोबार द्वीप समूह

नागालैंड

उभरते इको-सिस्टम

चंडीगढ़

दादरा एवं नगर हवेली और दमन और दीव

लद्दाख

मिजोरम

पुदुचेरी

सिक्किम

 

राष्ट्रीय स्टार्टअप पुरस्कार 2023 के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

 

***

एमजी/एआर/एके/एसके



(Release ID: 1996740) Visitor Counter : 350


Read this release in: Marathi , English , Urdu , Gujarati