वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्रालय

गोवा में स्टार्टअप 20 की तीसरी बैठक उत्साहपूर्ण माहौल में शुरू हुई


बैठक के पहले दिन देश-विदेश के 250 से अधिक प्रतिनिधियों ने भाग लिया

Posted On: 03 JUN 2023 5:40PM by PIB Delhi

जी20 के स्टार्टअप 20 एंगेजमेंट ग्रुप ने पूर्ण ऊर्जा और प्रतिबद्धता के माहौल में आज गोवा में अपनी तीसरी बैठक, गोवा संकल्पना की शुरुआत की। दिन की शुरुआत बहुप्रतीक्षित नीति परिपत्र के साथ हुई। इसके बाद स्टार्टअप इनोवेशन एंड कोलैबोरेशन पर चर्चा करते हुए आकर्षक सत्रों और भाषणों की एक श्रृंखला हुई जो स्टार्टअप नवाचार और सहयोग पर बातचीत को आगे बढ़ा रही थी।

सुबह के सत्र की शुरुआत स्टार्टअप 20 के माननीय अध्यक्ष डॉ. चिंतन वैष्णव द्वारा दिए गए गर्मजोशी भरे स्वागत भाषण से हुई।

जी20 सदस्य देशों के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए, स्टार्टअप 20 एंगेजमेंट ग्रुप के अध्यक्ष, डॉ. चिंतन ने कहा, "मैं बेहद गर्व और आभारी हूं कि हम ग्लोबल स्टार्टअप इकोसिस्टम के भविष्य को आकार देने के अपने मिशन में एक साथ आए हैं। आज पेश किया गया नीति परिपत्र हमारे सामूहिक प्रयासों और गहन विवेकपूर्ण प्रक्रिया के प्रति हमारी प्रतिबद्धता का प्रमाण है। जब हम एक साथ आते हैं, तो हमारे पास बाधाओं को तोड़ने, समावेशिता को बढ़ावा देने और जिम्मेदार नवाचार चलाने की शक्ति होती है। आइए हम इस अवसर का उपयोग एक परिवर्तनकारी प्रभाव पैदा करने के लिए करें जो आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित करेगा। हमारी आज की कार्रवाई दुनिया भर में स्टार्टअप्स के भविष्य को आकार देगी।"

डॉ. चिंतन वैष्णव ने जी20 देशों को संबोधित करते हुए नीति परिपत्र के महत्व पर जोर दिया। उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि यह दस्तावेज विचारों के व्यापक आदान-प्रदान और शामिल हितधारकों द्वारा ठोस प्रयासों के उच्चतम स्तर का प्रतिनिधित्व करता है। डॉ. वैष्णव ने जी20 देशों से अपनी विशेषज्ञता, दृष्टिकोण और सिफारिशों का सक्रिय रूप से योगदान देने का आग्रह किया जो परिपत्र को अंतिम रूप देने में मदद करेगा। दुनिया भर में स्टार्टअप्स के विकास और सफलता को बढ़ावा देने के लिए यह एक मजबूत ढांचा तैयार करेगा। उन्होंने कहा कि नीतियों को आकार देने के लिए सामूहिक ज्ञान और साझा जिम्मेदारी महत्वपूर्ण है, जो दुनिया भर में स्टार्टअप इकोसिस्टम के लिए आदर्श बन जाएगा।

डॉ. वैष्णव ने जी-20 देशों से आग्रह किया कि वे साथ आएं, अपनी सामूहिक शक्ति का लाभ उठाएं और साथ मिलकर काम करें ताकि नीतिगत चर्चाओं में उल्लिखित विजन को साकार किया जा सके। इससे स्टार्टअप्स के फलने-फूलने, नवाचार करने और वैश्विक अर्थव्यवस्था पर लंबे समय तक चलने वाले प्रभाव के लिए एक सक्षम वातावरण तैयार किया जा सकेगा।

इसके बाद नीति परिपत्र को आकार देने वाले विभिन्न टास्क फोर्स द्वारा की गई सिफारिशों की प्रस्तुति पर ध्यान केंद्रित किया गया। फाउंडेशन टास्कफोर्स का नेतृत्व करने वाली प्रोफेसर श्रीवर्धनी झा ने स्टार्टअप डेफिनिशन फ्रेमवर्क को साझा किया। इसके बाद शिवकिरण एम. एस ने एलायंस टास्कफोर्स की सिफारिशें प्रस्तुत कीं और केंद्रों का वैश्विक नेटवर्क बनाने के लिए एक टेम्पलेट साझा किया। इसके बाद, राजन आनंदन ने फाइनेंस एक्शन टास्क फोर्स की सिफारिशों का अनावरण किया और 2030 तक स्टार्टअप्स में एक ट्रिलियन डॉलर के निवेश (वैश्विक जीडीपी का 1 प्रतिशत) का आह्वान किया। इसके बाद हरजिंदर कौर तलवार ने इनक्लूजन एक्शन टास्क फोर्स की सिफारिशें पेश कीं। अंत में, विनीत रॉय ने सस्टेनेबिलिटी टास्क फोर्स की सिफारिशों और एसडीजी-केंद्रित स्टार्टअप्स में इरादे और प्रभाव के निर्माण के लिए एक रूपरेखा साझा की। डॉ. चिंतन वैष्णव ने प्रस्तुत सिफारिशों का व्यापक संकलन प्रदान करके सत्र का समापन किया।

उसके बाद एक विशेष बैठक आयोजित की गई जिसमें भाग लेने वाले सदस्यों ने देश की स्थिति और नीति परिपत्र के अनुरूप सुधारात्मक योजना के विकास पर चर्चा की। इसके साथ ही, भारत इकोसिस्टम की बैठक में भारतीय स्टार्टअप वातावरण में परिपत्र को लागू करने के महत्वपूर्ण पहलू पर ध्यान केंद्रित करते हुए विचार-मंथन सत्र आयोजित किया गया।

दोपहर के सत्र में प्रभावशाली नेतृत्व वक्ताओं द्वारा भाषणों की एक श्रृंखला देखी गई। समारोह की शुरुआत प्रतीकात्मक दीप प्रज्जवलन से हुई, इसके बाद डॉ. चिंतन वैष्णव ने स्टार्टअप20 की गोवा की उल्लेखनीय यात्रा के बारे में बताया।

विशेष बैठक और भारत पारिस्थितिकी तंत्र बैठक ने विकासशील देशों की स्थिति, उपायों और नीति परिपत्र के कार्यान्वयन पर चर्चा करना जारी रखा।

"ब्रेकिंग बैरियर: हाउ स्टार्टअप्स आर बिल्डिंग एन इनक्लूसिव एंड रिस्पॉन्सिबल इंटरनेट इकोसिस्टम" शीर्षक वाले शाम के सत्र में उद्योग के विशेषज्ञों का एक विशिष्ट पैनल शामिल था। इसके बाद प्रख्यात वक्ताओं ने स्टार्टअप 20एक्स सीरीज के तहत प्रेरक भाषण दिए। इन वक्ताओं में अटल इनोवेशन मिशन के पूर्व मिशन निदेशक रामनन रामनाथन, अम्मारा एक्सपोर्ट्स के संस्थापक/निदेशक, आयशा सनोबर, वाकाओ फूड्स के संस्थापक और सीईओ, साईराज ढोंड, प्रोजेक्ट नोवेली की संस्थापक, नव्या नवेली नंदा और एएमटीजेड के प्रबंध निदेशक, डॉ. जितेंद्र शर्मा शामिल थे।

लगभग 250 से अधिक घरेलू और विदेशी प्रतिनिधियों ने पहले दिन स्टार्टअप्स 20 गोवा संकल्पना में भाग लिया और देश भर के लगभग 40 से अधिक स्टार्टअप्स ने अपने अभिनव उत्पादों का प्रदर्शन किया।

*******

एमएजी/एमएस/आरपी/डीवी



(Release ID: 1932331) Visitor Counter : 135


Read this release in: English , Urdu , Marathi