नागरिक उड्डयन मंत्रालय

जनवरी-मार्च 2023 के दौरान घरेलू यात्रियों की संख्या में 51.70% वार्षिक वृद्धि देखी गई


यात्रियों की शिकायतों में उल्लेखनीय कमी दर्ज की गई

Posted On: 19 APR 2023 4:49PM by PIB Delhi

नागर विमानन महानिदेशालय की मार्च 2023 की ट्रैफ़िक रिपोर्ट में कहा गया है कि घरेलू विमान सेवाओं के यात्रियों की संख्या जनवरी-मार्च 2023 के दौरान 375.04 लाख रही, जबकि जनवरी-मार्च 2022 की अवधि के दौरान यह संख्या 247.23 लाख थी। इस तरह इसमें 51.70% की वार्षिक वृद्धि और 21.41% की मासिक वृद्धि दर्ज की गई।

मार्च-2019 के आंकड़ों की तुलना इस प्रकार है:

जनवरी- मार्च 2019

जनवरी- मार्च 2023

बदलाव

354.53 लाख

375.04 लाख

20.51 लाख (+5.8%)

 

यात्री शिकायतें: यात्रियों की शिकायतों में काफी कमी देखी गई है और शिकायतों के समाधान में वृद्धि हुई है:

  • मार्च 2023 (347 शिकायतें) में मार्च 2019 (1684 शिकायतें) की तुलना में शिकायतों की संख्या कम हुई हैं
  • मार्च 2019 के 93.5% की तुलना में मार्च 2023 में शिकायतों का समाधान बढ़कर 99% (लगभग) हो गया।
  • 2019 में शिकायतों की प्रमुख वजह, उड़ान समस्या - 60.0%, सामान - 16.3%, रिफंड - 11.8% रही थी, जबकि मार्च 2023 की प्रमुख शिकायतों में उड़ान समस्या - 38.6%, सामान - 22.2%, रिफंड - 11.5%, अन्य - 11.5% शामिल रही।

 पैसेंजर लोड फैक्टर- मार्च 2019 की तुलना मार्च 2023

यह बात सामने आई है कि विस्तारा, एयर इंडिया, एयर एशिया और स्टार एयर ने मार्च 2019 की तुलना में मार्च 2023 में पीएलएफ में वृद्धि दिखाई है जबकि इंडिगो, स्पाइसजेट और गो एयर में कमी देखी गई है।

एयरलाइंस

मार्च 2019

मार्च 2023

एअर इंडिया

80.8

85.1

स्पाइस जेट

93.0

92.3

गो एयर

91.4

90.2

इंडिगो

86.0

84.0

एयर एशिया

87.5

88.6

विस्तारा

86.8

91.6

स्टार एयर

53.8

74.1

 

निर्धारित घरेलू एयरलाइंस की बाजार हिस्सेदारी: रिपोर्ट में कहा गया है कि इंडिगो, विस्तारा और एयर एशिया ने अपनी बाजार हिस्सेदारी में मार्च 2023 की तुलना में मार्च 2019 के दौरान वृद्धि दिखाई, जबकि एयर इंडिया, स्पाइसजेट, गोएयर ने कमी दिखाई।

एयरलाइंस

जनवरी- मार्च 2019

जनवरी- मार्च 2023

 

पैक्स कैरीड

मार्केट शेयर

पैक्स कैरीड

मार्केट शेयर

एअर इंडिया

45.01

12.7

33.70

9.0

जेट एयरवेज

31.61

8.9

-

-

जेट लाइट

5.08

1.4

-

-

स्पाइस जेट

48.05

13.6

25.99

6.9

गो एयर

32.63

9.2

29.11

7.8

इंडिगो

156.93

44.3

209.07

55.7

एयर एशिया

19.37

5.5

27.52

7.3

विस्तारा

14.13

4.0

33.07

8.8

ट्रूजेट

1.63

0.5

-

-

स्टार एयर

0.07

0.0

0.49

0.1

एलायंस एयर

-

-

4.10

1.1

अकासा एयर

-

-

11.38

3.0

फ्लाइबिग

-

-

0.56

0.2

 

 ऑन-टाइम परफॉरमेंस (ओटीपी)-निर्धारित घरेलू एयरलाइंस: अधिकांश एयरलाइंस के लिए ओटीपी मार्च 2019 की तुलना में कमी दर्शाती है। हालांकि, इंडिगो और एयर इंडिया ने अपने ओटीपी में सुधार किया है। चार मेट्रो हवाई अड्डों के लिए घरेलू एयरलाइंस- बैंगलोर, दिल्ली, हैदराबाद और मुंबई के ओटीपी की गणना की गई है. यह तुलना 2019 और 2023 के बीच की है:

एयरलाइंस

मार्च 2019

मार्च 2023

गो एयर

95.2

49.2

विस्तारा

91.9

83.7

एयर एशिया

91.9

76.6

इंडिगो

89.5

92.0

जेट एयरवेज+जेटलाइट

84.5

-

स्पाइसजेट

82.9

63.6

एअर इंडिया

69.0

82.1

अकासा एयर

 

94.2

अलायंस एयर

-

69.1

 

***

एमजी /एमएस/आरपी/केजे/एसएस



(Release ID: 1917988) Visitor Counter : 246