वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्रालय

भारत से कुल निर्यात वित्त वर्ष 2021-22 की तुलना में वित्त वर्ष 2022-23 के दौरान 13.84 प्रतिशत बढ़कर 770.18 अरब अमेरिकी डॉलर होने के साथ ही नई ऊंचाइयों पर पहुंचने का अनुमान


वस्‍तु निर्यात ने वित्त वर्ष 2022-23 के दौरान 6.03% की वृद्धि के साथ 447.46 अरब अमेरिकी डॉलर का अब तक का सर्वाधिक वार्षिक निर्यात दर्ज किया है, जो कि पिछले वर्ष (वित्त वर्ष 2021-22) के 422.00 अरब अमेरिकी डॉलर के रिकॉर्ड निर्यात से अधिक है  

सेवा निर्यात ने समग्र निर्यात वृद्धि में अगुवाई की है और वित्त वर्ष 2021-22 की तुलना में वित्त वर्ष 2022-23 के दौरान 26.79 प्रतिशत की वृद्धि दर के साथ 322.72 अरब अमेरिकी डालर का एक नया वार्षिक रिकॉर्ड दर्ज किए जाने का अनुमान है  

Posted On: 13 APR 2023 3:56PM by PIB Delhi
  • मार्च 2023* में भारत से कुल निर्यात (वस्तुओं और सेवाओं को मिलाकर) 66.14 अरब अमेरिकी डॉलर का होने का अनुमान है, जो कि मार्च 2022 की तुलना में (-) 7.53 प्रतिशत की ऋणात्मक वृद्धि को दर्शाता है। मार्च 2023* में कुल मिलाकर आयात 72.18 अरब अमेरिकी डॉलर का होने का अनुमान है जो कि मार्च 2022 की तुलना में (-) 7.98 प्रतिशत की ऋणात्मक वृद्धि को दर्शाता है।

तालिका 1: मार्च 2023*  के दौरान व्यापार  

 

 

मार्च 2023

 (अरब अमेरिकी डॉलर)

मार्च 2022

(अरब अमेरिकी डॉलर)

 वस्‍तुएं

निर्यात

38.38

44.57

आयात

58.11

63.09

सेवाएं*

निर्यात

27.75

26.95

आयात

14.07

15.35

 कुल व्यापार

(Merchandise +Services) (वस्तुएं  + सेवाएं) *

निर्यात

66.14

71.52

आयात

72.18

78.44

व्यापार संतुलन

-6.04

-6.92

* नोट: आरबीआई द्वारा सेवा क्षेत्र के लिए जारी किया गया नवीनतम डेटा फरवरी 2023 के लिए है। मार्च 2023 का डेटा एक अनुमान है, जिसे आरबीआई की बाद की विज्ञप्ति के आधार पर संशोधित किया जाएगा। (ii) वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) और अप्रैल-दिसंबर 2022 के डेटा को भुगतान संतुलन के तिमाही डेटा का उपयोग करते हुए समानुपातिक आधार पर संशोधित किया गया है।

ग्राफ 1: मार्च 2023 के दौरान समग्र व्यापार*

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001GDJB.png

  • वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च) में भारत से समग्र निर्यात (वस्‍तुओं और सेवाओं को मिलाकर) के वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) की तुलना में 13.84 प्रतिशत की सकारात्मक वृद्धि दर्शाने का अनुमान है। चूंकि वैश्विक सुस्‍ती के बीच भारत में मांग स्थिर रही है, इसलिए वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च) में कुल आयात वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) की तुलना में 17.38 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाने का अनुमान है।  

तालिका 2: वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च)* के दौरान व्यापार

 

 

2022-23

 (अरब अमेरिकी डॉलर)

2021-22

(अरब अमेरिकी डॉलर)

वस्‍तुएं

निर्यात

447.46

422.00

आयात

714.24

613.05

सेवाएं*

 निर्यात

322.72

254.53

आयात

177.94

147.01

कुल व्यापार (वस्‍तुएं + सेवाएं) *

निर्यात

770.18

676.53

आयात

892.18

760.06

व्यापार संतुलन

-122.00

-83.53

 

ग्राफ 2: वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च)* के दौरान समग्र व्यापार

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0027PVU.png

वस्तु व्यापार

  • मार्च 2023 में वस्तु निर्यात 38.38 अरब अमेरिकी डॉलर का हुआ, जबकि मार्च 2022 में यह 44.57 अरब अमेरिकी डॉलर था।
  • मार्च 2023 में वस्तु आयात 58.11 अरब अमेरिकी डॉलर का हुआ, जबकि मार्च 2022 में यह 63.09 अरब अमेरिकी डॉलर था।

ग्राफ3: मार्च 2023 के दौरान वस्तुओं का व्यापार

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003SZJA.png

  • वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च) में वस्‍तु निर्यात 447.46 अरब अमेरिकी डॉलर का हुआ, जबकि वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) के दौरान यह 422.00 अरब अमेरिकी डॉलर का हुआ था।
  • वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च) में वस्‍तु आयात वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) के 613.05 अरब अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 714.24 अरब अमेरिकी डॉलर का हुआ।
  • वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) के 191.05 अरब अमेरिकी डॉलर की तुलना में वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च) में वस्‍तु व्यापार घाटा 266.78 अरब अमेरिकी डॉलर रहने का अनुमान लगाया गया।

ग्राफ 4: वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च) के दौरान वस्तुओं का व्यापार

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image004LBIV.png

  • मार्च 2023 में गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न एवं आभूषण निर्यात 30.20 अरब अमेरिकी डॉलर का हुआ, जबकि मार्च 2022 में यह 30.99 अरब अमेरिकी डॉलर था।
  • मार्च 2023 में गैर-पेट्रोलियम, गैर-रत्न और आभूषण (सोना, चांदी एवं बेशकीमती धातुएं) आयात 35.60 अरब अमेरिकी डॉलर का हुआ, जबकि मार्च 2022 में यह 37.35 अरब अमेरिकी डॉलर था।

 तालिका 3: मार्च 2023 के दौरान पेट्रोलियम और रत्न एवं आभूषण को छोड़ व्यापार

 

मार्च 2023

 (अरब अमेरिकी डॉलर)

मार्च 2022

(अरब अमेरिकी डॉलर)

गैर-पेट्रोलियम निर्यात

32.95

34.77

गैर-पेट्रोलियम आयात

41.99

41.95

 गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न एवं आभूषण निर्यात

30.20

30.99

गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न एवं आभूषण आयात

35.60

37.35

नोट: रत्न और आभूषण आयात में सोना, चांदी और मोती, कीमती और अर्द्ध कीमती पत्थर शामिल हैं

 

ग्राफ 5: मार्च 2023 के दौरान पेट्रोलियम और रत्न एवं आभूषण को छोड़ व्यापार

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0059X4N.png

 

  • वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च) के दौरान गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न और आभूषण निर्यात 314.98 अरब अमेरिकी डॉलर का हुआ, जबकि वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) में यह 315.43 अरब अमेरिकी डॉलर था।
  • वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च) में गैर-पेट्रोलियम, गैर-रत्न और आभूषण (सोना, चांदी और बेशकीमती धातु) आयात 433.65 अरब अमेरिकी डॉलर का हुआ, जबकि वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) में यह 370.79 अरब अमेरिकी डॉलर था।

तालिका 4: वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च) के दौरान पेट्रोलियम और रत्न एवं आभूषण को छोड़ व्यापार

 

2022-23

(अरब अमेरिकी डॉलर)

2021-22

(अरब अमेरिकी डॉलर)

गैर-पेट्रोलियम निर्यात

352.94

354.53

गैर-पेट्रोलियम आयात

504.66

451.24

गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न एवं आभूषण निर्यात

314.98

315.43

गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न एवं आभूषण आयात

433.65

370.79

नोट: रत्न और आभूषण आयात में सोना, चांदी और मोती, कीमती एवं अर्द्ध कीमती पत्थर शामिल हैं

ग्राफ 6: वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च) के दौरान पेट्रोलियम और रत्न एवं आभूषण को छोड़ व्यापार

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image006585U.png

सेवा व्यापार

  • मार्च 2023* में सेवा निर्यात का अनुमानित मूल्य 27.75 अरब अमेरिकी डॉलर है, जबकि मार्च 2022 में यह 26.95 अरब अमेरिकी डॉलर था।
  • मार्च 2023* में सेवा आयात का अनुमानित मूल्य मार्च 2022 के 15.35 अरब अमेरिकी डॉलर की तुलना में 14.07 अरब अमेरिकी डॉलर है। .

ग्राफ 7: मार्च 2023*  के दौरान सेवा व्यापार

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image007H7TO.png

 

  • वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च)* में सेवा निर्यात का अनुमानित मूल्य वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) के 254.53 अरब अमेरिकी डॉलर की तुलना में 322.72 अरब अमेरिकी डॉलर है।
  • वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च)* में सेवा आयात का अनुमानित मूल्य वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) के 147.01 अरब अमेरिकी डॉलर की तुलना में 177.94 अरब अमेरिकी डॉलर है। .
  • वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च)* में सेवा व्यापार अधिशेष 144.78 अरब अमेरिकी डॉलर रहने का अनुमान है, जबकि वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) में यह 107.52 अरब अमेरिकी डॉलर था।

 

ग्राफ 8: वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च)* के दौरान सेवा व्यापार

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0086S6H.png

 

  • व्‍यापक प्रतिकूल वैश्विक हालात के बावजूद वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-मार्च) की तुलना में वित्त वर्ष 2022-23 (अप्रैल-मार्च) के दौरान भारत से कुल निर्यात 13.84 प्रतिशत बढ़ने का अनुमान है।  
  • वस्‍तु निर्यात के तहत 30 प्रमुख क्षेत्रों में से 13 क्षेत्रों ने मार्च 2023 में पिछले वर्ष की इसी अवधि (मार्च 2022) की तुलना में धनात्मक वृद्धि दर्शाई। इनमें तेल खली (156.56%), तिलहन (99.5%), इलेक्ट्रॉनिक सामान (57.36%), कॉफी (17.86%), समुद्री उत्पाद (12.85%), फल और सब्जियां (11.37%), चावल (10.02%), सिरेमिक उत्पाद और ग्लासवेयर (9.73%), लौह अयस्क (6.85%), ड्रग्स और फार्मास्यूटिकल्स (4.19%), मांस, डेयरी और पोल्ट्री उत्पाद (3.44%), तंबाकू (3.04%), और दलिया एवं विविध प्रसंस्कृत आइटम (2.7 %) शामिल हैं।

* त्वरित अनुमान के लिए लिंक

 

***

एमजी/एमएस/आरआरएस ... 



(Release ID: 1916368) Visitor Counter : 17978


Read this release in: English , Urdu , Tamil