नीति आयोग
azadi ka amrit mahotsav

नीति आयोग ने राष्ट्रीय डेटा और एनालिटिक्स प्लेटफॉर्म लॉन्च किया

Posted On: 13 MAY 2022 5:48PM by PIB Delhi

नीति आयोग ने आज मुक्‍त एवं सार्वजनिक उपयोग के लिए राष्ट्रीय डेटा एवं एनालिटिक्‍स प्लेटफॉर्म (एनडीएपी) लॉन्च किया। इस प्‍लेटफॉर्म का उद्देश्य डेटा को सुलभ, अंत:प्रचालनीय, संवादमूलक बनाकर सार्वजनिक सरकारी डेटा तक पहुंच का लोकतंत्रीकरण करना है और इसे उपयोगकर्ता के अनुकूल प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कराना है। यह विभिन्‍न सरकारी एजेंसियों से मूलभूत डेटा सेट होस्‍ट करता है और सटीक रूप से प्रस्‍तुत करने के साथ-साथ एनालिटिक्‍स और मानसिक चित्रण के लिए उपकरण भी प्रदान करता है। यह सार्वजनिक लॉन्च अगस्त 2021 में प्लेटफ़ॉर्म के बीटा रिलीज़ का अनुकरण करता है जिसने परीक्षण और फीडबैक के लिए सीमित संख्या में उपयोगकर्ताओं तक पहुँच उपलब्‍ध कराई थी।

एनडीएपी यह सुनिश्चित करने के लिए उपयोग-मामला आधारित दृष्टिकोण का अनुसरण करता है कि प्लेटफ़ॉर्म पर होस्ट किए गए डेटासेट सरकार, शिक्षा, पत्रकारिता, नागरिक समाज और निजी क्षेत्र के डेटा उपयोगकर्ताओं की आवश्यकताओं के अनुरूप हैं। सभी डेटासेट को एक सामान्य स्कीमा के लिए मानकीकृत किया जाता है, जिससे डेटासेट को मर्ज करना और क्रॉस-सेक्टरल विश्लेषण करना आसान हो जाता है।

मंच का शुभारंभ नीति आयोग के उपाध्यक्ष श्री सुमन बेरी ने श्री अमिताभ कांत, सीईओ, नीति आयोग; डॉ. अनंत नागेश्वरन, भारत सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार; और नीति आयोग के अन्य वरिष्ठ अधिकारी, विभिन्न मंत्रालयों और राज्य सरकारों, शिक्षाविदों और शोधकर्ताओं की उपस्थिति में किया।

श्री सुमन बेरी ने इस विषय पर एक पैनल चर्चा का संचालन किया, "इंटरऑपरेबिलिटी: सिस्टम, डेटासेट और एक साथ काम करने वाली एजेंसियों की शक्ति का लाभ उठाना।" श्री बेरी ने कहा, "एनडीएपी जो मुख्य मूल्य जोड़ता है, वह प्रमुख मूलभूत डेटासेट को एक-दूसरे के साथ इंटरऑपरेबल बना रहा है। यह आसान क्रॉस-सेक्टोरल विश्लेषण को सक्षम करेगा और भारत सरकार के डेटा के उपयोग का लोकतंत्रीकरण करेगा।” पैनल में सरकार, शिक्षाविदों और नागरिक समाज के विशेषज्ञ शामिल थे। कार्यक्रम में एनडीएपी द्वारा आयोजित एक शोध प्रतियोगिता के विजेताओं को प्रमाण पत्र और स्मृति चिन्ह दिए गए।

श्री अमिताभ कांत ने कहा, "डेटा और डिजिटल प्रौद्योगिकियों का उदय तेजी से अर्थव्यवस्थाओं और समाजों को बदल रहा है, जिसका सरकारों के दैनिक कार्यों पर भारी प्रभाव पड़ रहा है। एनडीएपी एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है- जिसका उद्देश्य डेटा-संचालित प्रकटीकरण, निर्णय लेने और अंतिम मील तक कनेक्टिंग डेटा की उपलब्धता सुनिश्चित करके भारत की प्रगति में सहायता करना है, यह एक उदाहरण है कि डेटा की शक्ति का लाभ कैसे उठाया जा सकता है।"

इस पहल का नेतृत्व करने वाली वरिष्ठ सलाहकार सुश्री अन्ना रॉय ने कहा, “भारत में एक समृद्ध डेटा इकोसिस्‍टम है जो डेटा उत्पन्न करता है जो निर्णय लेने और अनुसंधान के लिए अमूल्य है। एनडीएपी डेटा इकोसिस्‍टम को और मजबूत करने के लिए इन प्रयासों को जोड़ रहा है। हम यह सुनिश्चित करने के लिए प्लेटफॉर्म पर डेटा जोड़ना और अपडेट करना जारी रखेंगे कि यह उपयोगी बना रहे।”

एनडीएपी को http://ndap.niti.gov.in पर एक्सेस किया जा सकता है और प्लेटफॉर्म पर सभी डेटासेट को मुफ्त में डाउनलोड और मर्ज किया जा सकता है।  

****

एमजी/एएम/आईपीएस/एसएस



(Release ID: 1825816) Visitor Counter : 94


Read this release in: English , Urdu , Odia , Tamil