वित्‍त मंत्रालय
azadi ka amrit mahotsav

डीआरआई ने हैदराबाद अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर भारत आए यात्रियों से 80 करोड़ रुपये मूल्य की 8 किलो कोकीन जब्त की

Posted On: 02 MAY 2022 6:29PM by PIB Delhi

विशिष्ट खुफिया जानकारी पर आगे कदम उठाते हुए राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) के अधिकारियों ने 1 मई 2022 को देर रात की गई अपनी कार्रवाई के तहत हैदराबाद अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कोकीन की बरामदगी के दो मामलों का खुलासा किया है।

1 मई 2022 को दो हवाई यात्रियों को मादक पदार्थ लाने के संदेह में डीआरआई ने गिरफ्तार किया। इन हवाई यात्रियों में से एक पुरुष तंजानियाई नागरिक था, जो बिजनेस वीजा पर दुबई के रास्‍ते केप टाउन से हैदराबाद पहुंचा और एक महिला यात्री थी जो अंगोला से अपने यात्रा कार्यक्रम के तहत एक पर्यटक वीजा पर अंगोला - मोजाम्बिक - लुसाका एवं दुबई होते हुए हैदराबाद पहुंची।

IMG_256

इन यात्रियों के ट्रॉली बैग के सबसे निचले नकली या बनावटी हिस्‍से में छि‍पाए गए पैकेटों से कुल 8 किलो कोकीन जब्‍त की गई। इनमें से प्रत्येक यात्री से 4 किलो कोकीन जब्‍त की गई। जब्त कोकीन की अनुमानित कीमत अवैध बाजार में 80 करोड़ रुपये है। .

Description: A suitcase full of clothesDescription automatically generated with low confidenceDescription: A picture containing floor, indoorDescription automatically generated

हवाई यात्रा पर लगे प्रतिबंधों में ढील दिए जाने और यात्री यातायात में वृद्धि होने के साथ ही हवाई मार्ग से नशीली दवाओं की तस्करी किए जाने की घटनाएं बढ़ गई हैं। वैसे तो भारतीय कस्‍टम विभाग ने क्‍लीयरेंस को काफी सुगम बना दिया है, लेकिन सतर्क अधिकारियों ने देश भर में कई मौकों पर नशीली दवाओं की तस्करी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है और इनसे जुड़े लोगों को अपनी मजबूत गिरफ्त में ले लिया है। मादक द्रव्यों को लाने-ले जाने के चालाकी भरे तरीकों का पता यात्रियों के बैग में बड़ी बारीकी से रखी गई नशीली दवाओं की लेमिनेटिंग के जरिए देखा गया है जिन्‍हें सामान्‍य रूप से देख पाना लगभग असंभव होता है या इन्‍हें शैंपू और खाद्य पदार्थों में छि‍पाकर ले जाया जाता है या कभी-कभी कई यात्री लैमिनेटेड कैप्सूल में दवाओं को अंतर्ग्रहण करके अपने शरीर में किसी तरह से छि‍पाकर ले जाते हैं।

 

***

एमजी/एएम/आरआरएस /वाईबी                                           



(Release ID: 1822144) Visitor Counter : 154


Read this release in: English , Urdu