इलेक्ट्रानिक्स एवं आईटी मंत्रालय
azadi ka amrit mahotsav

क्वालकॉम और एमईआईटीवाई का सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ एडवांस कंप्यूटिंग (सी-डैक) पार्टनर भारतीय सेमीकंडक्टर स्टार्टअप्स में सहयोग करेगा


यह सहयोग सरकार के एक हिस्से के रूप में होनहार सेमीकंडक्टर डिजाइन स्टार्टअप्स के एक समूह को सहयोग करेगा और सेमीकंडक्टर स्पेस में नवाचार को प्रोत्साहित करने के लिए उद्योग के चल रहे प्रयासों में सहयोग करेगा

Posted On: 29 APR 2022 4:02PM by PIB Delhi

क्वालकॉम कंपनियों के समूह (नैसडेक : क्‍यूकॉम) का हिस्सा, क्वालकॉम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (क्वालकॉम इंडिया), संरक्षण तकनीकी प्रशिक्षण और उद्योग  की पहुंच प्रदान करने और उसे आगे बढ़ाने, के इरादे से भारत में सेमीकंडक्टर स्पेस से चुनिंदा स्टार्टअप के लिए क्वालकॉम® सेमीकंडक्टर मेंटरशिप प्रोग्राम ('क्यूएसएमपी') 2022 शुरू करने और उसे चलाने की योजना बना रहा है। 2022 के लिए, क्वालकॉम इंडिया ने भारत सरकार के इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की एक स्वायत्त वैज्ञानिक सोसाइटी, सी-डैक के साथ सहयोग की घोषणा की है, जो कार्यक्रम के लिए एक पहुंच भागीदार होगा और भाग लेने वाले स्टार्टअप के लिए एक्सपोजर की सुविधा प्रदान करेगा। इस सहयोग के अंतर्गतसी-डैक और क्वालकॉम इंडिया का निम्नलिखित व्यापक उद्देश्यों की दिशा में काम करने का इरादा है:

  • भारतीय इकोसिस्‍टम में सेमीकंडक्टर डिजाइन के लिए आवश्यक तकनीकी प्रगति और बौद्धिक संपदा संचालित नवाचार और उत्पाद विकास को बढ़ावा देना
  • नवोन्मेष में जोखिम को कम करने में मदद करना, व्यवसाय विकास की गति को तेज करना और सेमीकंडक्टर डिजाइन में लगे भारतीय स्टार्टअप के व्‍यक्तित्‍व की विशिष्‍टता  (सॉफ्ट स्किल) और ज्ञान के आधार का विकास करना।
  • चयनित स्टार्टअप के लिए डोमेन विशेषज्ञों, वीसी, एक्सेलेरेटर, इन्क्यूबेटरों, उद्योग संघों और बड़ी कंपनियों के साथ पहुंच की सुविधा प्रदान करें जो उन्हें अपने व्यवसाय को बढ़ाने में मदद कर सकें।
  • ऐसे प्लेटफ़ॉर्म और फ़ोरम बनाएं जो उच्च-विकास-क्षमता वाले छोटे व्यवसायों और स्टार्टअप्स के साथ काम करने के अवसर प्रदान करें, जिनके पास संभावित रूप से बाजार के सामान्‍य कार्य को प्रभावित करने वाली प्रौद्योगिकियां हैं जो भविष्य में सेमीकंडक्टर आपूर्ति श्रृंखलाओं को विकसित कर सकती हैं या फिर से आकार दे सकती हैं।

क्वालकॉम इंडिया क्यूएसएमपी 2022 के लिए 10 भारतीय सेमीकंडक्टर स्टार्टअप की संक्षिप्‍त सूची (शॉर्टलिस्ट) बनाएगा। प्रत्येक संक्षिप्‍त सूची स्टार्टअप को उत्पाद योजना और विकास पर परामर्श के लिए क्वालकॉम इंडिया लीडर के साथ जोड़ा जाएगा। स्टार्टअप और सलाहकार समय-समय पर व्यक्तिगत रूप से या ऑनलाइन बैठकों के माध्यम से मिलेंगे। क्वालकॉम इंडिया सेमीकंडक्टर डिजाइन पहलुओं जैसे डिजाइन, परीक्षण और सत्यापन पैकेजिंग के साथ-साथ पिच, आईपीआर, मार्केटिंग, सरकारी प्रोत्साहन/ अवसरों जैसे गैर-तकनीकी विषयों पर शॉर्टलिस्ट किए गए स्टार्टअप के लिए "मास्टरक्लास" कार्यशालाओं और टीमों को बढ़ाने की सुविधा प्रदान करेगा। सी-डैक और क्वालकॉम इंडिया इन स्टार्टअप्स के लिए बैठकों, वेबिनार, सेमिनारों या ट्रेडशो के माध्यम से सरकारी हितधारकों के लिए एक्सपोजर की सुविधा प्रदान करेंगे।

क्वालकॉम इंडिया और सार्क के वीपी और अध्यक्ष राजेन वागड़िया ने कहा, "सेमीकंडक्टर आपूर्ति श्रृंखला ने उद्योगों में जरूरतों के लिए घरेलू समाधान खोजने की मांग को रेखांकित किया है। सेमीकंडक्‍टर अधिकांश प्रौद्योगिकी प्लेटफार्मों और जुड़े उपकरणों के लिए आवश्यक मूलभूत अंग हैं। सरकार द्वारा प्रदान किए गए प्रोत्साहनों के कारण भारतीय सेमीकंडक्टर स्टार्टअप के लिए काफी अवसर हैं। क्वालकॉम इंडिया नवाचारों को चलाने के लिएभारत के डिजाइन और इंजीनियरिंग प्रतिभा का लाभ उठाने के लिए सेमीकंडक्टर डिजाइन स्टार्टअप की मदद करने के लिए प्रतिबद्ध हैजिससे न केवल भारत बल्कि दुनिया के बुद्धिजीवी को ताकत मिलेगी।"

सी-डैक के महानिदेशक ई. मगेश, ने कहा, "कई अन्य उद्योगों के विकास के लिए सेमीकंडक्टर उद्योग महत्वपूर्ण है। हम भारतीय स्टार्टअप्स को आगे आने और सरकार के नेतृत्व वाले कार्यक्रमों जैसे ‘‘मेक इन इंडिया’’और डिजाइन लिंक्‍ड इंसेंटिव (डीएलआई) योजनाके सहयोग से सेमीकंडक्टर्स की वर्तमान और अनुमानित घरेलू मांग को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।  वर्तमान वैश्विक और घरेलू वातावरण स्थापित कंपनियों और स्टार्टअप दोनों के लिए अवसर प्रस्तुत करते हैं। क्वालकॉम इंडिया के साथ संयुक्त पहल हमें सबसे होनहार भारतीय सेमीकंडक्टर स्टार्टअप की पहचान करने, उनके साथ बातचीत करने और समर्थन बढ़ाने में सक्षम बनाएगी।

क्वालकॉम इंडिया 2016 से भारत में स्टार्टअप इकोसिस्टम के साथ जुड़ा हुआ है। क्वालकॉम® डिजाइन इन इंडिया चैलेंज, आईओटी और हार्डवेयर स्टार्टअप के लिए उत्पादों और समाधानों को डिजाइन करने के लिए कंपनी का प्रमुख इनक्यूबेशन कार्यक्रम है। इस कार्यक्रम ने इंजीनियरिंग कर्मियों को समर्पित किया है, स्टार्टअप्स का सहयोग करने के लिए बेंगलुरु में आधुनिक उपकरणों और प्रोटोटाइप मंचों के साथ एक प्रयोगशाला है। इससे पहले, 2020 में, क्वालकॉम इंडिया ने एक और स्टार्टअप पहल - क्वालकॉम® वीमेन एंटरप्रेन्योर इंडिया नेटवर्कशुरू की थी जो महिलाओं द्वारा स्थापित स्टार्टअप्स के लिए एक परामर्शदाता कार्यक्रम है।

क्वालकॉम के बारे में

क्वालकॉम दुनिया का अग्रणी वायरलेस टेक्नोलॉजी इनोवेटर है और 5G के विकास, लॉन्च और विस्तार के पीछे प्रेरक शक्ति है। जब हमने फोन को इंटरनेट से जोड़ा, तो मोबाइल क्रांति का जन्म हुआ। आज, हमारी मूलभूत प्रौद्योगिकियां मोबाइल इकोसिस्‍टम को सक्षम करती हैं और यह 3जी, 4जी और 5जी स्‍मार्टफोन में पाई जाती है। हम मोबाइल के लाभ ऑटोमेटिव, इंटरनेट के जरिये आपस में सम्‍पर्क, और कंप्यूटिंग सहित नए उद्योगों के लिए लाते हैं, और एक ऐसी दुनिया की ओर अग्रसर हैं जहां सब कुछ और हर कोई सहजता से संवाद और बातचीत कर सकता है।

क्वालकॉम इनकॉर्पोरेटेड में हमारा लाइसेंसिंग व्यवसाय, क्यूटीएल, और हमारे पेटेंट पोर्टफोलियो का बड़ा हिस्‍सा शामिल है। क्वालकॉम टेक्नोलॉजीज, इंक, क्वालकॉम इनकॉर्पोरेटेड की एक सहायक, काफी हद तक हमारे सभी इंजीनियरिंग, अनुसंधान और विकास कार्य, और काफी हद तक हमारे क्‍यूसीटी सेमीकंडक्टर व्यवसाय सहित हमारे सभी उत्पाद और सेवा व्यवसाय शामिल हैं।

क्वालकॉम एक ट्रेडमार्क या क्वालकॉम इनकॉर्पोरेटेड का पंजीकृत ट्रेडमार्क है।

सी-डैक के बारे में

सी-डैक इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (एमईआईटीवाई) का एक प्रमुख अनुसंधान और विकास संगठन है, जो इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में उत्पादों और समाधानों के डिजाइन, विकास और तैनाती के लिए अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में लगा हुआ है। सीडैक सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) क्रांति में सबसे आगे रहा है, उभरती/ सक्षम प्रौद्योगिकियों में लगातार क्षमता निर्माण कर रहा है और अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों के लिए सरकार के निर्देशानुसार आईटी उत्पादों और समाधानों को विकसित करने और तैनात करने के लिए अपनी विशेषज्ञता, क्षमता, कौशल को बढ़ा है।

सीडैक इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा अधिसूचित डिजाइन लिंक्ड इंसेंटिव (डीएलआई) को को निष्पादित करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है ताकि देश में सेमीकंडक्टर चिप डिजाइन इकोसिस्‍टम को मजबूत करने और स्टार्ट-अप और एमएसएमई के लिए सेमीकंडक्टर डिजाइन बुनियादी ढांचे तक पहुंच की सुविधा प्रदान करने के लिए में शामिल घरेलू उद्योग की अक्षमता कमी को दूर किया जा सके।

***

एमजी/एएम/केपी/सीएस



(Release ID: 1821419) Visitor Counter : 128


Read this release in: English , Urdu , Tamil