आईएफएससी प्राधिकरण

अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (फंड प्रबंधन) विनियमन, 2022

Posted On: 21 APR 2022 8:14PM by PIB Delhi

अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (आईएफएससीए) ने 19 अप्रैल, 2022 को आधिकारिक राजपत्र में निवेश फंड के लिए एक व्यापक नियामक ढांचे को अधिसूचित किया है।

विनियमनों की मुख्य विशेषताओं में शामिल हैं:

  1. फंड प्रबंधन इकाई का पंजीकरण: एक फंड प्रबंधन इकाई आईएफएससीए के साथ पंजीकृत होगी और पात्रता मानदंडों को पूरा करने के अध्यधीन विभिन्न प्रकार के फंड और योजनाओं का प्रबंधन करने में सक्षम होगी।
  2. ग्रीन चैनल: उद्यम पूंजी योजनाएं या मान्यता प्राप्त निवेशकों से धन की इच्छा रखने वाली गैर-खुदरा योजनाएं केवल एक ग्रीन चैनल अर्थात दायर की गई योजनाएं आईएफएससीए के साथ दाखिल करने के तुरंत बाद निवेशकों द्वारा सदस्यता के लिए खुल सकती हैं, के लिए योग्य होंगी। योजना के आकार, निवेशकों की संख्या, अनुमति योग्य निवेश आदि आवश्यकताओं की विनियमनों में विस्तृत जानकारी दी गई है।
  3. एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ): इस पर विचार करते हुए कि ईटीएफ कम लागत पर विशिष्ट बाजारों या परिसंपत्ति वर्गों में एक्सपोजर हासिल करने का एक साधन प्रदान करते हैं, आईएफएससी में पंजीकृत फंड मैनेजर न केवल इंडेक्स आधारित ईटीएफ बल्कि सक्रिय ईटीएफ तथा कमोडिटी आधारित ईटीएफ भी लॉन्च करने में सक्षम होंगे।
  • IV. दबावग्रस्त परिसंपत्तियां: बैंकों के सामने आने वाले एनपीए के मुद्दे पर विचार करने की सरकार की पहल में आईएफएससी की महत्वपूर्ण भूमिका को समझते हुए, आईएफएससी में फंड प्रबंधकों द्वारा शुरू की जाने वाली विशेष स्थिति फंड के लिए एक रूपरेखा निर्धारित की गई है।
  1. पर्यावरणगत सामाजिक शासन (ईएसजी): निवेशकों की बढ़ती संख्या को फंड मैनेजरों से उम्मीद है कि वे ईएसजी मुद्दों को उनकी निवेश रणनीतियों का अभिन्न अंग बना देंगे। आईएफएससी को स्थिर वित्त से संबंधित कई कार्यकलापों के लिए एक हब बनाने के इरादे से, इनटिटी लेवल और स्कीम लेवल पर प्रकटीकरण अनिवार्य करने का प्रस्ताव किया गया है।
  • VI. परिवार कार्यालय: वैश्विक स्तर पर, उच्च नेटवर्थ व्यक्तियों (एचएनआई) और अल्ट्रा एचएनआई और उनके परिवारों की संपत्ति के प्रबंधन और संरक्षण के लिए औपचारिक संरचना रखने की आवश्यकता बढ़ रही है। तदनुसार, विनियमनों में एक परिवार कार्यालय के स्व-प्रबंधित निवेश फंड को सुगम बनाने के लिए एक संरचना उपलब्ध कराई गई है।
  1. विनियमन नियंत्रित तरीके से विभिन्न नवोन्मेषणों के लिए सहायता भी प्रदान करते हैं:

 

  1. फंड लैब: फंड मैनेजर नियंत्रित तरीके से नई रणनीतियां का प्रयास कर सकते हैं और अपने फंड के लिए एक ट्रैक रिकॉर्ड बना सकते हैं।
  2. सह-निवेश संरचना और लाभ के रूप में विशेष प्रयोजन वाहन (एसपीवी): एफएमई को कुछ शर्तों के अध्यधीन फंड/योजना के साथ सह-निवेश या लाभ को सक्षम करने के लिए मुख्य योजना के तहत एसपीवी बनाने की अनुमति होगी।
  3. निजी बाजारों में खुदरा भागीदारी: निजी बाजारों में निवेश करने के लिए व्यापक स्तर पर निवेशकों को सुविधा प्रदान करने की आवश्यकता बढ़ रही है। तदनुसार, कुछ शर्तों के अध्यधीन गैर-सूचीबद्ध प्रतिभूतियों में निवेश करने के लिए रिटेल क्लोज एंडेड योजनाओं को सुविधाजनक बनाने का प्रस्ताव है।

उपरोक्त के अलावा, विनियमनों में विभिन्न संस्थाओं की भूमिका, आचार संहिता, विज्ञापन कोड, निवेश मूल्यांकन मानदंड और धन की आवश्यकता सहित महत्वपूर्ण शासन आवश्यकताओं का विवरण प्रस्तुत किया गया है। संदर्भ के लिए विनियमन आईएफएससीए की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं।

****

एमजी/एएम/एसकेजे/डीसी



(Release ID: 1819571) Visitor Counter : 165


Read this release in: English , Urdu