विद्युत मंत्रालय
azadi ka amrit mahotsav

एनटीपीसी और गुजरात गैस लिमिटेड  के बीच पाइप प्राकृतिक गैस में ग्रीन हाइड्रोजन का मिश्रण करने के लिए समझौता

Posted On: 05 APR 2022 7:12PM by PIB Delhi

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001Q3QO.png

स्वच्छ पर्यावरण की प्राप्ति पर लगातार ध्यान केन्द्रित करते हुए, एनटीपीसी द्वारा एनटीपीसी कवास में जीजीएल (गुजरात गैस लिमिटेड) के पाइप्ड नेचुरल गैस (पीएनजी) नेटवर्क में ग्रीन हाइड्रोजन का मिश्रण करने की दिशा में महत्वपूर्ण पहल की गई है। दोनों कंपनियों के बीच आज श्री मोहित भार्गव, सीईओ, एनटीपीसी आरईएल एंड ईडी आरई, एनटीपीसी और श्री संजीव कुमार, एमडी- जीजीएल एंड जीएसपीएल की मौजूदगी में औपचारिक समझौते पर हस्ताक्षर किया गया।

एनटीपीसी कवास की मौजूदा 1 मेगावाट की अस्थायी सौर परियोजना के विद्युत का उपयोग करते हुए ग्रीन हाइड्रोजन का उत्पादन किया जाएगा। इसे पीएनजी के साथ पूर्व निर्धारित अनुपात में मिश्रित किया जाएगा और इसका उपयोग एनटीपीसी कवास टाउनशिप में खाना पकाने वाले अनुप्रयोगों में किया जाएगा। शुरूआत में, पीएनजी में हाइड्रोजन का मिश्रण लगभग 5 प्रतिशत होगा और इसकी सफलता के बाद इसकी मात्रा को और अधिक बढ़ाया जाएगा।

एनटीपीसी 69 गीगावॉट की स्थापित क्षमता और विविध ईंधन मिश्रण के साथ देश की प्रमुख ऊर्जा कंपनी हैएनटीपीसी समूह द्वारा अगले एक दशक में 60 गीगावॉट नवीकरणीय ऊर्जा प्राप्त करने की योजना बनायी जा रही है और ग्रीन हाइड्रोजन के क्षेत्र में कई पायलट परियोजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है।

जीजीएल भारत की सबसे बड़ी सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन (सीजीडी) कंपनी है और 6 राज्यों और 1 केंद्र शासित प्रदेश के 43 जिलों में अपनी सेवाएं प्रदान कर रही है।

एनटीपीसी कवास की हाइड्रोजन सम्मिश्रण परियोजना एक पथप्रदर्शक उद्यम है और यह देश में अपने तरह की पहली परियोजना है। यह खाना पकाने के क्षेत्र को गैर-कार्बनीकृत करने और देश की ऊर्जा आवश्यकताओं को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

****

एमजी/एएम/एके

 



(Release ID: 1815145) Visitor Counter : 116


Read this release in: English , Urdu , Marathi