वस्‍त्र मंत्रालय

श्री पीयूष गोयल ने निफ्ट के दीक्षांत समारोह में कहा कि "यह एक ऐसा भारत है जिसका दिल ज्यादा करने के लिए धड़कता है"


उन लोगों के लिए सहानुभूति और करुणा रखने की आवश्यकता है जो पीछे रह गए हैं - श्री पीयूष गोयल

श्री पीयूष गोयल ने निफ्ट के छात्रों और पूर्व छात्रों से बुनकरों और कारीगरों को बाजार से जोड़कर उन्हें सशक्त बनाने और उनको उचित काम की प्राप्ति में मदद करने के लिए कहा

भारत में क्षमता है कि वह दुनिया का फैशन हब बन सके – श्री पीयूष गोयल

निफ्ट के छात्रों के पास वस्त्र, डिजाइन, कशीदाकारी में हमारी समृद्ध परंपरा को वैश्विक मंच पर लाने और दुनिया को भारतीय रंग में रंगने के साधन उपलब्ध हैं- श्री पीयूष गोयल

वैश्विक फैशन की दुनिया में भारत को एक शोस्टॉपर बनाएं- श्री पीयूष गोयल

Posted On: 12 NOV 2021 6:47PM by PIB Delhi

केंद्रीय मंत्री श्री पीयूष गोयल ने आज नई दिल्ली में निफ्ट के दीक्षांत समारोह में छात्रों और संकाय सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा कि "यह एक ऐसा भारत है जिसका दिल ज्यादा करने के लिए धड़कता है।"

 https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/IMG-5409HJ4C.JPG

 

श्री गोयल ने छात्रों से आह्वान किया कि वे वैश्विक फैशन की दुनिया में भारत को एक शोस्टॉपर बनाएं। उन्होंने कहा कि उन लोगों के प्रति सहानुभूति और करुणा रखने की आवश्यकता है, जो छात्र के रूप में अपने जीवन की नई यात्रा में पीछे रह गए हैं।

उन्होंने कहा कि यह हम सभी लोगों का दायित्व है कि हम उन लाखों लोगों की मदद करें, जिन्हें अच्छी शिक्षा प्राप्त करने का अवसर नहीं मिला या वे पीछे रह गए।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/IMG-54210YDH.JPG

श्री पीयूष गोयल ने निफ्ट के छात्रों और पूर्व छात्रों से कहा कि वे हमारे बुनकरों और कारीगरों को बाजार से जोड़कर उन्हें सशक्त बनाएं। उन्होंने कहा कि हमारे बुनकरों और कारीगरों को उनका उचित काम दिलाने में सहायता प्रदान करके आत्मनिर्भरता की भावना को दिशा प्रदान किया जा सकता है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/IMG-544372WX.JPG

श्री गोयल ने कहा कि कारीगरों के उत्पादों का डिजाइन, पैकेजिंग और ब्रांडिंग करके उन्हें शानदार रिटर्न प्रदान किया जा सकता है। निफ्ट के छात्र इस दिशा में काम करने पर विचार कर सकते हैं।

श्री गोयल ने कहा कि भारतीय गुणवत्ता को वैश्विक स्तर पर परिभाषित करना चाहिए कि वह क्या है। इसमें निफ्ट की अहम भूमिका है। अब समय आ चुका है कि दुनिया को भारतअपने रंग में रंगने लगे। उन्होंने छात्रों से कहा कि हैंडलूम को दुनिया के लिए एक लग्जरी का उत्पाद बनाएं।

उन्होंने कहा कि स्नातक छात्र के रूप में, आपको भारत के भविष्य को डिजाइन करने में उसी प्रकार से मदद करनी चाहिए जिस प्रकार से एक कपड़े को आकार प्रदान करने में टांका मदद करता है।

निफ्ट, दिल्ली के दीक्षांत समारोह में उपस्थित होने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए, श्री गोयल ने 10 विशेषज्ञताओं के साथ एक नई यात्रा की शुरुआत करने के लिए 2020-21 बैच के 339 स्नातक छात्रों को बधाई दी।

यहां पर उल्लेखनीय है कि 1986 में अपनी स्थापना के बाद से, निफ्ट भारत के फैशन उद्योग में अपना बहुमूल्य योगदान दे रहा है।

श्री गोयल ने कहा कि "भारत के प्रमुख फैशन संस्थान के छात्र के रूप में, आपके पास अपने करियर को उच्च कार्यक्षेत्र में लेकर जाने के लिए एक मजबूत मंच उपलब्ध है।"

श्री गोयल ने कहा कि निफ्ट के छात्र भारत में फैशन के भविष्य निर्माता और बदलाव के एजेंट हैं। उन्होंने कहा कि भारत को आत्मनिर्भर बनाने में युवाओं और शिक्षा जगत की अहम भूमिका है।

मंत्री ने निफ्ट, दिल्ली के संकाय सदस्यों द्वारा दायर किए गए दो पेटेंटों पर गर्वान्वित महसूस किया, जिसमें पहला इंटेलिजेंट स्किल मैपिंग एंड रेटिंग टेक्नोलॉजी (आई-स्मार्ट) (निफ्ट का पहला व्यावसायीकृत पेटेंट) और दूसरा सिलाई मशीन के लिए प्रेसर फुट है।

निफ्ट के छात्रों के पास वस्त्र, डिजाइन, कशीदाकारी में हमारी समृद्ध परंपरा को वैश्विक मंच पर लाने और दुनिया को भारतीय रंग में रंगने के साधन उपलब्ध हैं।

श्री गोयल ने छात्रों से आधुनिक समय की आवश्यकताओं के साथ शाश्वत डिजाइनों और परंपराओं का प्रतिचित्रण करने के लिए कहा। उन्होंने छात्रों से कहा कि वे पूरे देश में कारीगरों, बुनकरों और श्रमिकों के लिए विकास का रास्ते बनाने हेतु इस अवसर का लाभ उठाएं।

उन्होंने कहा कि निफ्ट के छात्र फैशन निर्माता और अन्वेषक हैं, इसलिए वे जो भी करते हैं, वह दूसरों के लिए एक मॉडल बन जाना चाहे। हस्तकौशलआधारित स्टार्ट-अप से लेकर रचनात्मक कौशल तक, निफ्ट के छात्र भारत में फैशन व्यवसाय में बदलाव ला रहे हैं।

श्री गोयल ने कहा कि "भारत में दुनिया का फैशन हब बनने की क्षमता है। निफ्ट फैब्रिक और टेक्सटाइल्स में भारत के लिए अभिनव विचारों का पोषण कर सकता है।"

मंत्री ने एक समग्र योजना तैयार करने के लिए निफ्ट का सहयोग मांगा, जिसके माध्यम से उन कारीगरों को लाभ प्रदान किया जा सके जो हमारे जीवन और राष्ट्र को अपना बहुत कुछ प्रदान करते हैं।

यहां पर उल्लेखनीय है कि निफ्ट की स्थापना वस्त्र मंत्रालय,भारत सरकार के तत्वावधान में दिल्ली में सन् 1986 में हुई थी और बाद में इसे निफ्ट अधिनियम, 2006 द्वारा शासित सांविधिक संस्थान के रूप में मान्यता प्रदान गई।

निफ्ट दिल्ली, प्रमुख परिसर के रूप में, सामाजिक और मानवीय मूल्यों की चिंता करने के साथ-साथ, कुशल नेतृत्व के माध्यम से पेशेवर शिक्षा में फैशन व्यवसाय के विकास को सक्रिय रूप से उत्प्रेरित करते हुए, उत्कृष्टता और नवाचार के केंद्र के रूप में उभरने के लिए निफ्ट के दृष्टिकोण को आगे बढ़ाता है।

निफ्ट दिल्ली को बिजनेस ऑफ फैशन द्वारा फैशन स्कूलों की वैश्विक रैंकिंग में उत्कृष्टता के लिए तीन बैज प्रदान किए गए हैं, जिसमें दिल्ली कैंपस को बेस्ट ओवरऑल, बेस्ट इन ग्लोबल इन्फ्लुएंस और बेस्ट इन लॉन्ग-टर्म वैल्यू के तीन बैज प्राप्त हुए हैं।निफ्ट, दिल्ली को इंडिया टुडे और आउटलुक जैसे प्रमुख प्रकाशनों द्वारा भारत में 'नंबर-1' फैशन डिजाइन संस्थान के रूप में मान्यता प्रदान किया गया है। निफ्ट, दिल्ली को 2021 में विश्व के शीर्ष 100 फैशन स्कूलों की सीईओ विश्व सूची में '09 वां' स्थान प्रदान किया गया है।

परिवर्तन के प्रमुख एजेंट के रूप में निफ्ट के स्नातक, संस्थान की उपलब्धियों और सफलता की कहानियों को फिर से पुर्ननिर्धारित कर रहे हैं। इस संस्थान के पूर्व छात्र भारत और विदेशों दोनो जगहों पर विभिन्न कार्य परिदृश्यों में मूल्यों को जोड़ रहे हैं।निफ्ट के पूर्व छात्र भविष्य के राजदूत हैं और उन्होंने अपनी मातृ संस्था से प्राप्त हुई क्षमता और अंतर्निहित मूल्यों के आधार पर अपने लिए एक सफलतापूर्वक मार्ग तैयार किया है।

पिछले कुछ वर्षों में निफ्ट, दिल्ली द्वारा शुरू की गई परामर्श परियोजनाओं की विस्तृत श्रृंखला उसके अभिनव और बौद्धिक उत्कृष्टता के पूल का परिचायक है। इन परियोजनाओं को संकाय के सदस्यों के लिए उनकी विशिष्ट विशेषज्ञता को साझा करने के लिए एक सुनहरा अवसर के रूप में देखा जाता है जबकि छात्रों के लिए अमूल्य ज्ञान का अनुभव प्राप्त करने के रूप में देखा जाता है। अनुभवात्मक शिक्षा हेतु एक अवसर प्रदान करने के अलावा, यह शिक्षण और अनुसंधान गतिविधियों को भी मजबूती प्रदान करता है।निफ्ट दिल्ली यूनिफॉर्म डिजाइन,प्रोडक्ट डिजाइन से लेकर विजुअल मर्चेंडाइजिंग तक 12 प्रतिष्ठित परियोजनाओं से जुड़ा हुआ है।इसमें से एक भारतीय सेना के लिए कॉम्बेट यूनिफॉर्म परियोजना भी है, जिसकी कुल परियोजना लागत 103.20 लाख रुपये है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/IMG-5437IQ2I.JPG https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/IMG-5422DOR9.JPG

एमजी/एएम/एके



(Release ID: 1771370) Visitor Counter : 489


Read this release in: English , Urdu , Punjabi