विद्युत मंत्रालय
azadi ka amrit mahotsav

राजस्थान सौर ऊर्जा क्षेत्र के लिए पारेषण प्रणाली की शुरूआत

राजस्थान में सबसे बड़ी अंतरराज्यीय टीबीसीबी परियोजनाओं में से एक की स्थापना

पावरग्रिड खेतड़ी ट्रांसमिशन सिस्टम लिमिटेड (पीकेटीएसएल) द्वारा शुरू की गई

Posted On: 07 OCT 2021 1:32PM by PIB Delhi

पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (पॉवरग्रिड) की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी - पावरग्रिड खेतड़ी ट्रांसमिशन सिस्टम लिमिटेड (पीकेटीएसएल) ने 4 अक्टूबर, 2021 को राजस्थान सौर ऊर्जा क्षेत्र (एसईजेड) पार्ट-सी से जुड़ी पारेषण प्रणाली को चालू किया है। यह राजस्थान राज्य में स्थापित सबसे बड़ी अंतरराज्यीय टैरिफ आधारित प्रतिस्पर्धी बोली (टीबीसीबी) वाली परियोजनाओं में शामिल है।

पारेषण परियोजना में खेतड़ी (राजस्थान) में एक नया 765 केवी सब-स्टेशन शामिल है और 765 केवी डबल सर्किट ट्रांसमिशन लाइन के माध्यम से देश की राजधानी झटिकारा (दिल्ली) से जोड़ने के साथ-साथ 400 केवी डबल सर्किट ट्रांसमिशन लाइन के माध्यम से सीकर (राजस्थान) को भी जोड़ता है।

पीकेटीएसएल प्रणाली के चालू होने से राजस्थान से देश के विभिन्न हिस्सों में अक्षय ऊर्जा के अंतरण की सुविधा होगी। यह उद्योगों, घरों और व्यवसायों को लाभान्वित करेगा, जिससे राजस्थान सहित देश के आर्थिक विकास को समग्र रूप से बढ़ावा मिलेगा। यह 2030 तक 450 गीगावॉट अक्षय ऊर्जा का लक्ष्य प्राप्त करने के भारत सरकार के सपने के अनुरूप, नवीकरणीय ऊर्जा का लाभ प्राप्त करने के लिए पारेषण बुनियादी ढांचे को बढ़ाएगा, जिससे जीवाश्म ईंधन पर निर्भरता कम होगी।

इस महत्वपूर्ण पारेषण परियोजना को चालू करने से जीवन अधिक सुगम होगा और साथ ही देश भर में गुणवत्तापूर्ण और विश्वसनीय हरित ऊर्जा की आपूर्ति के माध्यम से बुनियादी ढांचे के विकास की गतिविधियों को बल मिलेगा।

पावरग्रिड में वर्तमान में 263 सब-स्टेशन हैं, जिसमें 1,72,000 सीकेएम एवं 4,47,000 एमवीए से अधिक ट्रांसफोर्मेशन की क्षमता है। नवीनतम तकनीकी उपकरणों और तकनीकों को अपनाने, स्वचालन और डिजिटल समाधानों के उन्नत उपयोग के साथ, पावरग्रिड औसत ट्रांसमिशन सिस्टम की उपलब्धता को  99 प्रतिशत से अधिक बनाए रखने में सक्षम रहा है।

****

एमजी/एएम/एसकेएस/डीके



(Release ID: 1761759) Visitor Counter : 496


Read this release in: English , Urdu , Punjabi , Tamil