नागरिक उड्डयन मंत्रालय

​​​​​​​श्री ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया ने खजुराहो में हेलीशिखर सम्‍मेलन 2023 और उड़ान 5.2 का उद्घाटन किया


उड़ान 5.2 श्रेणी 1ए (<9 सीट) और श्रेणी 1 (<20 सीट) जैसे  छोटे विमानों के जरिये दूर-दराज के क्षेत्रों तक कनेक्टिविटी  सुनिश्चित करने पर केंद्रित है

Posted On: 25 JUL 2023 4:18PM by PIB Delhi

नागरिक उड्डयन और इस्पात मंत्री श्री ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया ने आज मध्य प्रदेश के खजुराहो में हेली शिखर सम्‍मेलन 2023 का उद्घाटन किया ।श्री सिंधिया ने कार्यक्रम के दौरान आरसीएस उड़ान 5.2 और हेली सेवा-ऐपको भी लॉन्च किया।

इस 5वें हेलीकॉप्टर एवं लघुविमान शिखर सम्मेलन (हेलीशिखर सम्मेलन 2023) का आयोजन नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा मध्य प्रदेश सरकार, पवन हंस लिमिटेड और फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंडइंडस्ट्री (फिक्की) के सहयोग से संयुक्‍त रूप से किया गया। कार्यक्रम का विषय था' रीचिंग द लास्‍ट माइल: रीजनल कनेक्टिविटी थ्रू हेलीकॉप्‍टर्स एंड स्‍मॉल एयरक्राफ्ट' यानी दूर-दराज तक पहुंच: हेलीकॉप्टर एवं छोटे विमानों के जरिये क्षेत्रीय कनेक्टिविटी। कार्यक्रम के दौरान एक उद्घाटन सत्र और उसके बाद एक तकनीकी सत्र का आयोजन किया गया। इस शिखर सम्मेलन के मुख्‍य उद्देश्य इस प्रकार हैं:

  • भारतीय हेलीकॉप्टर एवं लघु विमान उद्योग के विकास गाथा पर चर्चा करने के लिए उद्योग के सभी हितधार कों और नीति निर्माताओं के लिए एक साझा प्‍लेटफॉर्म उपलब्‍ध कराना।
  • सुदूर एवं पहाड़ी इलाकों में उड़ान योजना का दायरा बढ़ाना और देश में ग्रामीण से शहरी कनेक्टिविटी का विस्तार करना।
  • निर्बाध सेवाएं उपलब्‍ध कराते हुए मौजूदा एवं संभावित पर्यटन हॉटस्पॉट के लिए हेलीकॉप्टर और छोटे विमानों के जरिये कनेक्टिविटी को बढ़ावा देना।

 

उड़ान 5.2 को देश में दूरदराज के क्षेत्रों एवं क्षेत्रीय इलाकों में कनेक्टिविटी को बेहतर करने और 1 (<9 सीट) एवं श्रेणी 1 (<20 सीट) जैसे छोटे विमानों के जरिये अंतिम छोर तक कनेक्टिविटी सुनिश्चित करने के लिए लॉन्च किया गया है।

 

 

श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, पिछले नौ वर्षों में देश के नागर विमानन क्षेत्र का लोकतांत्रिकरण हुआ है। एयरपोर्ट्स की संख्या के साथ-साथ विमानों और मार्किट साइज का भी व्यापक विस्तार हुआ है।  और इस विस्तार में जितने महत्वपूर्ण महानगरों के एयरपोर्ट और बड़े एयरलाइन्स हैं उतने ही महत्वपूर्ण छोटे शहरों के एयरपोर्ट, छोटी एयरलाइन्स एवं हेलीकाप्टर हैं।

श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बताया , “हमने आज हेलीकॉप्टर के लिए उड़ान 5.2 की शुरुआत की है और इसके तहत हमने वीजीएफ में वृद्धि की है और फेयर कैप कम किया। इसी के साथ हमने हेली सेवा का सिंगल विंडो सेवा प्लेटफॉर्म भी आरम्भ किया है। इसके माध्यम से ATC से सारी स्वीकृतियां आप अपने मोबाइल पर प्राप्त कर सकेंगे।

श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा आज हमने छोटे एयरक्रॉफ्ट के लिए उड़ान 5.2 का भी आरम्भ किया। साथ ही उड़ान 5.0. के 22 रुट आज हमने अवार्ड किये हैं जो इसी बात को रेखांकित करते हैं कि दूरदराज के क्षेत्रों में रहने वाले नागरिकों को भी हवाई यात्रा की सुविधा प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में उपलब्ध कराई जा रही है। 

श्री सिंधिया ने कार्यक्रम के दौरान हेली-सेवा मोबाइल ऐप्लिकेशन को भी लॉन्च किया। हेली सेवा पोर्टल डिजिटल इंडिया के तहत नागरिक उड्डयन मंत्रालय की एक पहल है। इसके तहत हेलीकॉप्टर ऑपरेटरों और जिला अधिकारियों के बीच एक परिवेश तैयार करने के लिए एक साझा प्‍लेटफॉर्म स्‍थापित किया गया है।यह मोबाइल ऐप्लिकेशन इसे उपयोगकर्ता अनुभव, सामग्री अपलोड करने और उपयोग करने के लिहाज से कहीं अधिक सुविधाजनक बना देगा।

भारत में हेलीकॉप्टर और लघुविमान क्षेत्र को आगे बढ़ाने के लिए पवनहंस और जेट सर्व के बीच एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर भी हस्ताक्षर किए गए।

 

*******

एमजी/एमएस/एससी/



(Release ID: 1942449) Visitor Counter : 496


Read this release in: English