वित्‍त मंत्रालय

डीआरआई ने अमृतसर के अटारी में एक इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट पर 5.480 किलो हेरोइन जब्त की जिसकी अंतर्राष्ट्रीय बाजार में लगभग 38.36 करोड़ रुपए कीमत है

Posted On: 12 MAY 2023 4:33PM by PIB Delhi

मादक पदार्थों की तस्करी पर अंकुश लगाने के अपने प्रयास में, राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरई) ने भारत-पाकिस्तान सीमा पर भूमि मार्ग के माध्यम से भारत में हेरोइन की तस्करी के एक नए तौर-तरीके का खुलासा किया। डीआरआई अधिकारियों द्वारा विशिष्ट खुफिया जानकारी और आगे की प्रोफाइलिंग के आधार पर अमृतसर के अटारी में एक इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट पर झाडू की एक खेप को रोका गया। जांच के दौरान यहां कल अंतर्राष्ट्रीय बाजार में 38.36 करोड़ रुपये मूल्य की 5.480 किलोग्राम बरामद हेरोइन जब्त की गई।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image00120TS.png https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002H1LY.png

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0030ZB4.png https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image004ODEH.png

40 बैग में 4000 झाडू थे जिनमें हेरोइन को बांस के 442 खोखले छोटे टुकड़ों या डंडियों में छिपाकर भरा गया था। इन डंडियों को 3 बैग में भरा गया था जिनके सिरों को फिर से सील कर दिया गया था और ऐसी छड़ियों को आगे अफगान झाडू के अंदर छिपाकर पैक कर दिया गया था जो बाहर लोहे के तार से बंधा हुआ था।

अफगानिस्तान से "अफगान ब्रूम्स" की कार्गो खेप को एक अफगान नागरिक ने अपनी भारतीय नागरिकता वाली पत्नी के साथ मिलकर नकली भारतीय आईडी के साथ आयात किया था। उक्त अफगान नागरिक 2018 में दिल्ली पुलिस द्वारा दर्ज एनडीपीएस मामले में जमानत पर बाहर था। अफगान नागरिक और उसकी पत्नी दोनों को एनडीपीएस अधिनियम, 1985 के तहत गिरफ्तार किया गया था। आगे, पूरी साजिश और तस्करी का पता लगाने के लिए कार्रवाई और जांच का पालन करें। मॉड्यूल और सबूत जुटाने का काम किया जा रहा है।

***

एमजी/एसएस/आरपी/पीके/एसएस



(Release ID: 1923762) Visitor Counter : 229


Read this release in: English , Urdu , Tamil