पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय

पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय हरियाली महोत्सव मनाएगा

Posted On: 07 JUL 2022 8:32PM by PIB Delhi

'आजादी का अमृत महोत्सव' के 75वें वर्ष के उपलक्ष्य में, इस साल पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (एमओईएफ एंड सीसी) कल तालकटोरा स्टेडियम, नई दिल्ली में 'हरियाली महोत्सव' मनाएगा। ग्लोबल वॉर्मिंग और वायु प्रदूषण के खिलाफ हमारे पर्यावरण की रक्षा के लिए हरित क्षेत्र और पेड़ों के महत्व के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। पारिस्थितिक संतुलन बनाए रखने में पेड़ और जंगल बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और ऑक्सीजन प्रदान कर, वायु गुणवत्ता में सुधार, जलवायु सुधार, जल संरक्षण, मिट्टी का संरक्षण और वन्यजीवों का सहारा बनकर पर्यावरण में योगदान करते हैं।

यह महोत्सव उस प्रयासों का हिस्सा है जिसके तहत पौधे लगाने पर जोर दिया जा रहा है ताकि आने वाली पीढ़ियों को सुरक्षित भविष्य मिल सके। जनसंचार माध्यमों, नागरिक समाज, स्कूलों और कॉलेजों की मदद से देश में हरित आवरण को बढ़ाने के लिए यह आयोजन विभिन्न स्तरों पर व्यापक वृक्षारोपण अभियान में शामिल होने का प्रतीक है।

इस कार्यक्रम के तहत 75 नगर वनों, 75 पुलिस प्रतिष्ठानों के आसपास 75 किमी लंबी सड़क, दिल्ली के 75 स्कूलों और देशभर में 75 बेकार पड़ी जगहों पर पौधे लगाने की गतिविधियां शामिल हैं। यह कार्यक्रम पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन और श्रम एवं रोजगार मंत्री माननीय श्री भूपेंद्र यादव और श्री अश्विनी कुमार चौबे, राज्य मंत्री पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की गरिमामयी उपस्थिति में आयोजित किया जा रहा है। लीना नंदन, सचिव, एमओईएफ एंड सीसी और श्री सीपी गोयल डीजीएफ एंड एसएस, एमओईएफ एंड सीसी और मंत्रालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी इस कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। दिल्ली के विभिन्न स्कूलों के बच्चे और अन्य हितधारक भी समारोह में शामिल होंगे। यह कार्यक्रम हमारे जीवन में पेड़ों के महत्व पर आधारित नुक्कड़ नाटक के साथ शुरू होगा। ग्रैमी पुरस्कार विजेता, भारतीय संगीतकार और पर्यावरणविद रिकी केज की प्रस्तुति के साथ कार्यक्रम का समापन होगा।

*****

एमजी/एएम/एएस



(Release ID: 1840496) Visitor Counter : 689


Read this release in: English , Urdu