कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन मंत्रालय

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा, प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने पिछले 8 वर्षों के दौरान आम भारतीयों के मन में आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को बहाल किया है


डॉ. जितेंद्र सिंह ने जम्मू के कठुआ में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया

Posted On: 20 JUN 2022 7:23PM by PIB Delhi

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने आज यहां कहा कि पिछले आठ वर्षों के दौरान प्रधानमंत्री के तौर पर नरेन्‍द्र मोदी का एक प्रमुख योगदान यह है कि उन्होंने आम भारतीयों के मन में आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को बहाल किया है।

दूरदराज के इस क्षेत्र में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि मोदी शासन के 8 वर्षों की सराहना करने का सबसे अच्छा तरीका उस परिदृश्य को याद करना है जो उससे पहले के 8 वर्षों में मौजूद था। उन्होंने कहा कि मोदी ने 2014 में जब प्रधानमंत्री के तौर पर पदभार संभाला था तो पूरा देश निराशावाद की छाया में डूब रहा था। मंत्रियों और अधिकारियों की संलिप्‍तता के साथ बड़े-बड़े घोटालों के शोर में आम नागरिकों की सभी उम्‍मीदें खो चुकी थीं। उन्होंने कहा कि 26 मई 2014 की शाम को भारत के प्रधानमंत्री के रूप में मोदी के शपथ ग्रहण समारोह ने निराशावाद से आशावाद की ओर देश के सफर की शुरुआत की।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने याद किया कि 2014 से पहले विदेश जाने वाले युवाओं को भी अपना पूरा परिचय देने में शर्मिंदगी महसूस होती थी, जबकि महज 8 साल की इस छोटी सी अवधि में समय का चक्र पूरी तरह बदल गया है। आज भारतीय युवा न केवल विदेश में अपना सिर ऊंचा करके चलते हैं बल्कि आगे भी बढ़ रहे हैं। भारतीय युवाओं को विदेश में पेशेवर एवं स्टार्टअप कार्यों के लिए स्थानीय लोगों के मुकाबले प्राथमिकता भी दी जाती है।

बानी जैसे दूरदराज के पहाड़ी क्षेत्रों में दिख रहे व्‍यापक विकास कार्यों का उल्‍लेख करते हुए डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि मोदी ने वादा किया था कि वह देश के उपेक्षित और दूरदराज के क्षेत्रों को कहीं अधिक विकसित क्षेत्रों के बराबर लाएंगे और वह ऐसा करने में सफल रहे हैं। उन्होंने कहा कि बानी जम्मू डिवीजन के सबसे दुर्गम क्षेत्रों में से एक था। पिछले 8 वर्षों के दौरान यहां केंद्रीय निधि से सड़कों का एक नेटवर्क तैयार किया गया है और नए राजमार्ग निर्माणाधीन हैं।

पिछली सरकारों पर दूरदराज के पहाड़ी क्षेत्रों की जानबूझकर उपेक्षा करने का आरोप लगाते हुए डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि शायद इसका उद्देश्‍य यह था कि इन दूरदराज के इलाकों में रहने वाले लोगों को दुनिया के बाकी हिस्सों में आने वाले अवसरों से हमेशा वंचित रखा जाए ताकि चुनाव दर चुनाव वोट हासिल करने में उनकी उपेक्षा का इस्‍तेमाल किया जा सके। उन्होंने नई कार्यशैली की शुरुआत करने और सबसे अधिक जरूरतमंद लोगों तक पहुंचने, चाहे उन्होंने किसी भी राजनीतिक दल को वोट दिया हो, के लिए मोदी की प्रशंसा की।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि इस क्षेत्र में कई राष्ट्रीय परियोजनाएं प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के व्यक्तिगत हस्तक्षेप के कारण संभव हो पाई हैं। इस संबंध में उन्होंने चत्तरगला सुरंग का उल्लेख किया जो लखनपुर से बसोहली-बानी से डोडा तक नए राष्ट्रीय राजमार्ग का एक हिस्सा होगाइस प्रकार यह परियोजना सभी मौसम के लिए एक विकल्‍प और कम समय में यात्रा सुनिश्चित करने वाली सड़क संपर्क उपलब्‍ध कराएगी।

मंत्री ने बताया कि बीआरओ की एजेंसी बीकंस चत्तरगला सुरंग के लिए डीपीआर पहले ही तैयार कर चुकी है जिसकी अनुमानित लागत 4,000 करोड़ रुपये है। उन्होंने बताया कि इसे भारतमाला योजना के अगले चरण में इसे शामिल कराने के लिए उन्होंने सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से अनुरोध किया है।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने बानी के लिए स्वीकृत नए केंद्रीय विद्यालय का भी उल्लेख किया। उन्‍होंने कहा कि बिलावर और बानी के बीच महत्वपूर्ण मोटर योग्य सड़क के लिए निर्माण कार्य को तेजी से आगे बढ़ाया जाएगा क्योंकि इसमें कुछ तकनीकी कारणों और कोविड वैश्विक महामारी के कारण देरी हुई है।

इस अवसर पर बानी के पूर्व विधायक जगजीवन लाल, डीडीसी अध्यक्ष कर्नल (सेवानिवृत्त) भान सिंह और वरिष्ठ भाजपा नेता उत्तम गोस्वामी ने भी अपने विचार रखे। उन्होंने बानी के विकास के लिए डॉ. जितेंद्र सिंह द्वारा की गई कड़ी मेहनत की सराहना की। उन्होंने कहा कि पिछले 8 वर्षों के दौरान जो विकास हुआ है वह पिछले 60 वर्षों के मुकाबले कहीं अधिक है।

 

*****

 

एमजी/एएम/एसकेसी



(Release ID: 1835794) Visitor Counter : 155


Read this release in: English , Urdu