वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्रालय
azadi ka amrit mahotsav

वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने इंडियन बिजनेस पोर्टल– ई-कॉमर्स मार्केट प्लेस लांच किया


यह पोर्टल एसएमई, कारीगरों और किसानों को सशक्त बनाएगा तथा वैश्विक उपस्थिति दर्ज कराने में हमारे भारतीय निर्यातकों की सहायता करेगा

पोर्टल भारत से जीआई उत्पादों के संवर्धन पर ध्यान केंद्रित करेगा

Posted On: 27 MAY 2022 8:36PM by PIB Delhi

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने आज हमारे निर्यातकों तथा विदेशी खरीदारों के लिए इंडियन बिजनेस पोर्टल -एक अंतरराष्ट्रीय व्यापार हब लांच किया। फियो ने ग्लोबललिंकर की साझीदारी में निर्यातकों तथा विदेशी खरीदारों के लिए -एक अंतरराष्ट्रीय व्यापार हब ‘‘इंडियन बिजनेस पोर्टल ‘‘की डिजाइन बनाई है तथा इसे विकसित किया है। यह एसएमई निर्यातकों, कारीगरों तथा किसानों को अपने उत्पादों के लिए नए बाजारों की पहचान करने तथा वैश्विक रूप से उनकी बिक्री बढ़ाने में समर्थ बनाने के लिए एक बी2बी डिजिटल मार्केट प्लेस है।

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने पोर्टल लांच करते हुए कहा, ‘‘इंडियन बिजनेस पोर्टल ‘‘उन कई तत्वों पर ध्यान देता है जो माननीय प्रधानमंत्री के विजन तथा निर्यातकों को डिजिटाइज करने, एमएसएमई की सहायता करने एवं मेड इन इंडिया उत्पादों के और अधिक निर्यात को प्रोत्साहित करने के प्रति इस सरकार की प्रतिबद्धता के हिस्से हैं। महामारी के दौरान ऐसा देखने में आया कि ई-कॉमर्स जैसे नलाइन प्लेटफॉर्मों ने खुद को बनाये रखने में लाखों कंपनियों की सहायता करने में असीम क्षमता प्रदर्शित की है।

उन्होंने यह भी उल्लेख किया कि यह पहल बहुत उपयुक्त समय पर की गई है क्योंकि वर्तमान में भारतीय निर्यात में मजबूत वृद्धि देखी जा रही है। वित्तीय वर्ष 2021-2022 में भारत का समग्र निर्यात (अर्थात सेवाएं और वस्तुएं) ने 676.2 बिलियन अमरीकी डॉलर की ऊंचाई छूई, क्योंकि वित्तीय वर्ष 2021-2022 में सेवाओं और वस्तुओं दोनों ने रिकॉर्ड उच्च निर्यात किया। 2019-20 और 2020-21 में भारत का कुल निर्यात क्रमशः 526.6 बिलियन अमरीकी डॉलर और 497.9 बिलियन अमरीकी डॉलर था। उन्होंने यह भी बताया कि भारत का वस्तु निर्यात वित्तीय वर्ष 2021-2022 में 400 बिलियन अमरीकी डॉलर की ऐतिहासिक ऊंचाई को पार कर गया और 421.8 बिलियन अमरीकी डॉलर पर पहुंच गया जो कि 2020-21 और 2019-20 की तुलना में क्रमशः 44.6 प्रतिशत और 34.6 प्रतिशत की अभूतपूर्व वृद्धि दर्शाता है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001Q76O.jpg

फियो की पहल की सराहना करते हुए, उन्होंने कहा कि इंडियन बिजनेस पोर्टल भारतीय स्टार्ट अप्स, एसएमई, कारीगरों तथा किसानों (जीआई उत्पादों) तथा सेवा प्रदाताओं को निर्यात की तरफ उनके पहले कदम को ले जाने में भारी प्रोत्साहन प्रदान करेगा। मुझे उम्मीद है कि और अधिक निर्यातक इंडियन बिजनेस पोर्टल से जुड़ेंगे तथा फियो को अपना मूल्यवान फीडबैक उपलब्ध कराएंगे। श्रीमती पटेल ने यह भी उल्लेख किया कि युवा उद्यमियों के लिए व्यवसाय और निर्यात से जुड़ने का यह सबसे उपयुक्त समय है।

भारत सरकार के विदेश व्यापार महानिदेशक श्री संतोष कुमार सारंगी ने कहा कि तकनीक सक्षम शासन भारत के विकास तथा प्रतिस्पर्धात्मकता को निर्धारित करने में प्रमुख भूमिका निभाएंगे। सरकार का ध्यान कागजरहित, टोमेटेड प्रोसेसिंग सिस्टम्स, व्यापारियों के लिए सरल प्रक्रियाओं, विभागों के बीच नलाइन डाटा एक्सचेंज, डिजिटल भुगतान तथा स्वीकृतियों पर केंद्रित है। फियो के प्रयासों की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकी में प्रगति अर्थव्यवस्था को विकसित करने तथा प्रतिस्पर्धी वैश्विक बाजार में भारतीय कंपनियों की मजबूती में सहायता करती है।

अपने संबोधन में फियो अध्यक्ष डॉ. ए शक्तिवेल ने कहा, ‘‘फियो भारतीय निर्यातकों की बेहतरी के लिए काम करता रहा है और एक डिजिटल युग में, हमने महसूस किया कि एक डिजिटल प्लेटफॉर्म सॉल्यूशन के माध्यम से हम निर्यातकों के लिए काफी कुछ कर सकते हैं तथा भारत के निर्यात अवसरों को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे एसएमई के पास प्रचुर कौशल, अनूठा उत्पाद पोर्टफोलियो तथा विविधता मौजूद है।

फियो के महानिदेशक तथा सीईओ डॉ. अजय सहाय ने कहा कि फियो का विजन निर्यातकों को नए तथा मूल्यवर्द्धित सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए नवोन्मेषणों पर फोकस करना है। कुछ समय बाद, हम इस साझीदारी के माध्यम से सुचारू रूप से व्यापार करने के लिए छोटे व्यवसायों के लिए कई देशों के साथ व्यापार गलियारों का निर्माण करने का प्रयास करेंगे। यह प्लेटफॉर्म अंतरराष्ट्रीय बाजारों के साथ भारत के व्यापार संबंध को बढ़ाने में सुविधा प्रदान करेगा। इस पोर्टल के विविध प्रोडक्ट मिक्स हैं जैसे उपभोक्ता एवं जीवनशैली उत्पाद, औद्योगिक उत्पाद, व्यवसाय सेवाएं तथा भौगोलिक संकेतक (जीआई) उत्पाद। यह पोर्टल भारतीय जीआई तथा हस्तशिल्प उत्पादों से संबंधित कारीगरों तथा किसान उत्पादों के लिए विशेष महत्व रखता है। भारत में विभिन्न श्रेणियों में लगभग 370 जीआई-प्रमाणित उत्पाद हैं।

ग्लोबललिंकर के सह-संस्थापक तथा सीईओ श्री समीर वकील ने कहा, ‘‘फियो प्रगतिशील पहलों के अपने व्यापक दायरे के माध्यम से कंपनियों को अंतरराष्ट्रीय बाजार अवसरों को ढूंढने में सहायता कर रहा है। इसकी डोमेन विशेषज्ञता ने ग्लोबललिंकर की साझीदारी के साथ मिल कर इंडियन बिजनेस पोर्टल के निर्माण में सहायता की है जहां कारीगरों से लेकर महिला उद्यमियों तथा जीआई उत्पादों का उत्पादन करने वाले किसानों से लेकर अग्रणी स्टार एक्सपोर्ट हाउस तक के व्यवसाय पूरी दुनिया के लिए खोज करने के लिए डिजिटल कैटेलौग का निर्माण कर सकते हैं।

फियो उपाध्यक्ष श्री खालिद खान ने धन्यवाद ज्ञापन करते हुए प्रतिभागियों से फीडबैक/सुझाव देने का आग्रह किया जिससे कि नियमित रूप से पोर्टल में नए फीचर जोड़े जा सकें तथा उद्योग के लिए इसे और अधिक मूल्यवान बनाया जा सके।

पोर्टल के बारे में:

इंडियन बिजनेस पोर्टल ऐसा एकमात्र मार्केटप्लेस है जो भारत में पंजीकृत निर्यातकों के लिए विशेष रूप से बनाया गया है तथा निर्यातकों की सहायता करने के लिए इस परितंत्र का निर्माण करने के लिए समेकित कई सर्वश्रेष्ठ फीचरों के रेंज तथा प्रासंगिक साझीदारों के साथ जुड़ा हुआ है।

इंडियन बिजनेस पोर्टल के रणनीतिक उद्देश्यः

 

  • भारतीय निर्यातकों को डिजिटाइज करना तथा उन्हें नलाइन खोजने योग्य बनने में सहायता करना
  • सभी भारतीय राज्यों से निर्यात को बढ़ावा देना
  • उत्पादों एवं सेवाओं की विस्तृत श्रंखला में भारत की शक्ति को प्रदर्शित करना
  • खरीदारों तथा विक्रेताओं के बीच वर्चुअल बैठकों को प्रोत्साहित करना
  • विदेशी खरीदारों को भारतीय निर्यातकों का एक विश्वसनीय नेटवर्क प्रदान करना।

14,000 से अधिक एसएमई फियो ग्लोबललिंकर प्लेटफॉर्म पर पंजीकृत हैं तथा उनमें से 2000 से अधिक पहले ही लांच से पहले पायलट के लिए इंडियन बिजनेस पोर्टल पर सूचीबद्ध 40,000 से अधिक उत्पादों और सेवाओं के साथ जुड़ चके हैं।

वैश्विक उपस्थिति- फियो भारतीय निर्यातकों, एसएमई, कारीगरों को वैश्विक रूप से उनके उत्पादों एवं सेवाओं को बढ़ावा देने में सहायता करने के लिए मार्केटप्लेस को विश्वव्यापी तरीके से बढ़ावा देगा।

व्यवसाय बैठकें - क्रेता एवं विक्रेता बैठकों को आयोजित करने के लिए सुविधा प्रदान की गई है तथा विदेशी उपभोक्ताओं के लिए सीधे कारीगरों तथा निर्यातकों से खरीद करने का विकल्प भी प्रदान किया गया है जो अपने उत्पादों को कम मात्रा में प्रस्तुत करते हैं।

भौगोलिक संकेतक (जीआई) उत्पाद - 370 से अधिक भारतीय भौगोलिक संकेतक (जीआई) श्रेणियों से संबंधित भारतीय कारीगरों, किसानों तथा उत्पादकों को उनके कैटेलौग को डिजिटाइज करने एवं इंडियन बिजनेस पोर्टल के माध्यम से वैश्विक रूप से उनकी अनूठी पेशकशों को प्रदर्शित करने में सहायता करने के द्वारा उन्हें सक्षम बनाने पर विशेष फोकस किया गया है। 

***

एमजी/एमए/एसकेजे/डीसी



(Release ID: 1828999) Visitor Counter : 193


Read this release in: English , Urdu