उपभोक्‍ता कार्य, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय

आरएमएस 2022-23 में 444 एलएमटी गेहूं की खरीद का अनुमान


वर्तमान केएमएस 2021-22 में 42.92 एलएमटी चावल (रबी फसल) की खरीद का अनुमान

खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण विभाग के सचिव ने राज्यों के खाद्य सचिवों और एफसीआई के साथ बैठक की अध्यक्षता की

Posted On: 25 FEB 2022 7:29PM by PIB Delhi

उपभोक्ता कार्य, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय के अंतर्गत खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग (डीएफपीडी) के सचिव ने आज नई दिल्ली में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राज्यों के खाद्य सचिवों और भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के साथ बैठक की अध्यक्षता की, जिसमें आगामी रबी विपणन सत्र (आरएमएस) 2022-23 और खरीफ विपणन सत्र (केएमएस) 2021-22 की रबी फसल की खरीद व्यवस्था पर चर्चा की गई।

आगामी आरएमएस 2022-23 सत्र के दौरान खरीद के लिए 444 एलएमटी गेहूं की मात्रा का अनुमान लगाया गया है, जो पिछले वर्ष आरएमएस 2021-22 सत्र के दौरान की गई खरीद के अनुमान से अधिक है।

 

साथ ही, सात राज्यों से चावल (रबी फसल) खरीद के वर्तमान केएमएस 2021-22 सत्र की आगामी रबी फसल के दौरान 42.92 एलएमटी चावल (रबी फसल) की खरीद का अनुमान लगाया गया है। महाराष्ट्र, तमिलनाडु और तेलंगाना राज्य सरकारों से चावल (रबी फसल) की खरीद का अनुमान प्रतीक्षित है।

बैठक के दौरान, मोटे अनाज को बढ़ावा देने, ऑनलाइन खरीद कार्यों के लिए न्यूनतम सीमा मानकों को लागू करने, जूट बैग और पैकेजिंग सामग्री की आपूर्ति, भंडारण स्थान, खरीद कार्यों में दक्षता और पारदर्शिता में सुधार और खाद्य सब्सिडी दावों के ऑनलाइन निपटान पर भी चर्चा की गई।  

परिशिष्ठ

आरएमएस 2022-23 के दौरान गेहूं की राज्यवार खरीद का अनुमान

क्रम संख्या

राज्य

खरीद का अनुमान (लाख मीट्रिक टन में)

1.

पंजाब

132.00

2.

मध्य प्रदेश

129.00

3.

हरियाणा

85.00

4.

उत्तर प्रदेश

60.00

5.

राजस्थान

23.00

6.

बिहार

10.00

7.

उत्तराखंड

2.20

8.

गुजरात

2.00

9.

हिमाचल प्रदेश

0.27

10.

जम्मू-कश्मीर

0.35

11.

दिल्ली

0.18

 

कुल योग

444

 

केएमएस 2021-22 . के दौरान रबी फसल की तुलना में चावल की राज्यवार खरीद का अनुमान

क्रम संख्या

राज्य

चावल की खरीद का अनुमान (लाख मीट्रिक टन में)

1.

आंध्र प्रदेश

25.00

2.

ओडिशा

10.00

3.

पश्चिम बंगाल

3.00

4.

केरल

2.55

5.

असम

2.00

6.

त्रिपुरा

0.25

7.

कर्नाटक

0.12

8.

तेलंगाना

प्रतीक्षित

9.

तमिल नाडु

प्रतीक्षित

10

महाराष्ट्र

प्रतीक्षित

 

कुल योग

42.92

 

**********

एमजी/एएम/एमकेएस/



(Release ID: 1801227) Visitor Counter : 574


Read this release in: English , Urdu