श्रम और रोजगार मंत्रालय
azadi ka amrit mahotsav

कृषि एवं ग्रामीण श्रमिकों के लिए अखिल भारत उपभोक्ता मूल्य सूचकांक – सितंबर, 2021

Posted On: 20 OCT 2021 7:16PM by PIB Delhi

कृषि एवं ग्रामीण श्रमिकों के लिए अखिल भारत उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (आधार 1986-87 = 100) माह सितंबर, 2021 में 1 अंक तथा 24 अंक बढ़ कर क्रमशः 1067 अंकों (एक हजार सड़सठ) तथा 1076 अंकों (एक हजार छिहत्तर) के स्तर पर रहे। कृषि मजदूरों और ग्रामीण मजदूरों के सामान्य सूचकांक में वृद्धि की दिशा में प्रमुख योगदान ईंधन और प्रकाश समूहों और वस्त्र, बिस्तर और जूते समूहों का रहा जिसमें क्रमश: 1.93 और 1.86 अंकों और 0.75 तथा 1.45अंकों की वृद्धि हुई और इसकी मुख्य वजह जलाऊ लकड़ी, मिट्टी का तेल, कमीज़ बनाने का कपड़ा कपास (मिल), चमड़े के जूते / चप्पल, प्लास्टिक के जूते / चप्पल आदि की कीमतों में वृद्धि रही है।

सूचकांक में वृद्धि/गिरावट अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग रही। कृषि मजदूरों के मामले में, इसने 16 राज्यों में 1 से 17 अंक की वृद्धि दर्ज की और 4 राज्यों में 1 से 10 अंकों की कमी दर्ज की। कर्नाटक 1244 अंकों के साथ सूचकांक तालिका में सबसे ऊपर है जबकि हिमाचल प्रदेश 856 अंकों के साथ सबसे नीचे है।

ग्रामीण मजदूरों के मामले में, इसने 16 राज्यों में 1 से 12 अंक की वृद्धि दर्ज की और 4 राज्यों में 1 से 8 अंकों की कमी दर्ज की। कर्नाटक 1239 अंकों के साथ सूचकांक तालिका में शीर्ष पर रहा जबकि बिहार 881 अंकों के साथ सबसे नीचे रहा।

प्रधान श्रम एवं रोजगार सलाहकार श्री डीपीएस नेगी ने कहा कि राज्यों में, कृषि और ग्रामीण श्रमिकों के उपभोक्ता मूल्य सूचकांक में अधिकतम वृद्धि हिमाचल प्रदेश राज्य (क्रमशः 17 और 12 अंक) द्वारा दर्ज की गई जिसकी मुख्य वजह दालों, सरसों की कीमतों, दूध, सब्जियां और फल, मिट्टी का तेल, शर्टिंग कपड़ा कपास (मिल), प्लास्टिक चप्पल, बस किराया इत्यादि की कीमतों में वृद्धि रही। इसके विपरीत, कृषि मजदूरों के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या में अधिकतम कमी तमिलनाडु राज्य द्वारा (10 अंक) दर्ज की गई।

सीपीआई-एएल और सीपीआई-आरएल पर आधारित मुद्रास्फीति की बिंदु दर सितंबर, 2021 में 2.89% और 3.16 रही, जो अगस्त, 2021 में क्रमशः 3.90 % &3.97 % थी और इसी तरह यह पिछले वर्ष के इसी महीने के दौरान क्रमशः 6.25% और 6.10% थी। इसी तरह, सितंबर, 2021 में खाद्य मुद्रास्फीति 0.50% और 0.70% रही, जो अगस्त, 2021 में क्रमशः 2.13% और 2.32% और पिछले वर्ष के इसी महीने के दौरान क्रमशः 7.65% और 7.61% थी।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001W3VA.pnghttps://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002N7RO.png

अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या (सामान्य और समूह-वार):

वर्ग

कृषि श्रमिक

ग्रामीण श्रमिक

 

अगस्त 2021

सितंबर 2021

अगस्त 2021

सितंबर 2021

सामान्य सूचकांक

1066

1067

1074

1076

खाद्य

1007

1004

1014

1011

पान,सुपारी आदि

1818

1826

1830

1838

ईंधन एवं प्रकाश

1150

1173

1145

1169

कपड़े,बिस्तरे व जूते

1079

1090

1097

1112

विविध

1120

1128

1123

1130

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003NKRY.pnghttps://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0043PIU.png

अक्टूबर, 2021 के लिए सीपीआई-एएल और आरएल 18 नवंबर, 2021 को जारी किए जाएंगे।

***

एमजी /एएम /केजे



(Release ID: 1765295) Visitor Counter : 260


Read this release in: English , Urdu