आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय

शहरी वातावरण में नवाचार को प्रोत्साहन देने के लिए शहरी नवाचार सूचकांक (सीआईएक्स) लॉन्च

नागरिक संगठनों-शिक्षाविदों-उद्यमों-सरकार को एक साथ लाएगा यह प्लेटफॉर्म

शहरों को नवाचारकर्ताओं से जोड़ेगा सीआईएक्स

Posted On: 25 FEB 2021 6:53PM by PIB Delhi

आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय में सचिव श्री दुर्गा शंकर मिश्रा ने आज यहां एक ऑनलाइन कार्यक्रम में शहरी नवाचार सूचकांक (सीआईएक्स) लॉन्च किया। इस कार्यक्रम में उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग (डीपीआईआईटी), वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय में संयुक्त सचिव श्री अनिल अग्रवाल, संयुक्त सचिव और स्मार्ट सिटी मिशन के मिशन निदेशक श्री कुणाल कुमार, स्मार्ट सिटी के सीईओ और केन्द्र व राज्य सरकारों के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

भारत के नवाचार इकोसिस्टम को मजबूती देने के लिए यह प्लेटफॉर्म खासा अहम होगा और इसमें शहरों में नवाचार प्रक्रियाओं को बढ़ावा देने पर ध्यान केन्द्रित किया गया है। सीआईएक्स, एक मुक्त नवाचार प्रक्रिया के माध्यम से नवाचारकर्ताओं को बढ़ती शहरी चुनौतियों से जुड़े समाधानों पर डिजाइन-परीक्षण-डिलीवर से जोड़ती है। यह पहल शहरों को ज्यादा आत्म निर्भर बनाकर और उनके नागरिकों की जरूरतों को पूरा करके व उन्हें सेवाएं उपलब्ध कराकर प्रधानमंत्री के नए और आत्मनिर्भर भारत के विजन को हासिल करने की दिशा में जारी प्रयासों में शामिल है।

हर कोई नवाचारकर्ता है के सिद्धांत पर तैयार किए गए प्लेटफॉर्म से नागरिक संगठन, शिक्षाविद्, उद्यम और सरकार भविष्य में एक पारदर्शी और टिकाऊ शहरी भारत के निर्माण के लिए एक साथ आएंगे। स्मार्ट सिटी मिशन, भारती नवाचार इकोसिस्टम में स्टार्टअप इंडिया, अटल इनोवेशन मिशन, अग्नि और अन्य पहलों के लिए भागीदारी और प्रभावी रूप से सहयोग करेंगे।

शहरी नवाचार सूचकांक (सीआईएक्स)

शहरी नवाचार सूचकांक (सीआईएक्स) शहरों में बढ़ती चुनौतियों के लिए नवीन समाधान तैयार करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय स्तर पर शहरों के साथ नवाचारकर्ताओं को जोड़ेगा। यह प्लेटफॉर्म एक मजबूत, पारदर्शी और यूजर केन्द्रित प्रक्रिया के माध्यम से समाधानों की खोज, डिजाइन और सत्यापन को आसान बनाएगा।

मुक्त नवाचार की अवधारणा पर बना यह प्लेटफॉर्म बाहर से भीतर और भीतर से बाहर विचारों के प्रवाह में सहायक होगा, स्मार्ट शहरी शासन के लिए जरूरी कौशल और क्षमता में बढ़ोतरी करेगा। शिक्षाविदों और उद्यमों/ स्टार्टअप्स के साथ परामर्श के माध्यम से, यह प्लेटफॉर्म प्रयोगशालाओं से वास्तविक माहौल में विचारों के हस्तांतरण में शहरों को लाभान्वित करेगा। इसी प्रकार, नागरिकों के साथ संवाद से शहरी सरकारों को सहायता के द्वारा यह प्लेटफॉर्म जांचे परखे समाधानों का क्रियान्वयन सुनिश्चित करेगा। इसके तहत प्रभावी और टिकाऊ समाधान लागू किए जाएंगे।

आने वाले समय में यह प्लेटफॉर्म हमारे शहरों में समाधानों को लागू कराने में मददगार होगा। इससे वहां के नागरिकों के जीवन की गुणवत्ता बेहतर होगी और कारोबारी सुगमता में भी खासा सुधार होगा।

शुभारम्भ के समय इस प्लेटफॉर्म पर 400 से ज्यादा स्टार्टअप्स, 100 से स्मार्ट सिटी, 150 से ज्यादा चुनौतियां और 215 से ज्यादा समाधान हैं।

 

***

एमजी/एएम/एमपी/डीए



(Release ID: 1700958) Visitor Counter : 445


Read this release in: English , Urdu