रक्षा मंत्रालय

सहयोगात्मक साझेदारी के लिए रक्षा उद्योग की वैश्विक पहुंच पर ऑस्ट्रेलिया के साथ वेबिनार और प्रदर्शनी का आयोजन किया गया

Posted On: 03 DEC 2020 10:14PM by PIB Delhi

आज भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच एक वेबिनार का आयोजन हुआ। इस वेबिनार का विषय सहयोगात्मक साझेदारी के लिए भारतीय रक्षा उद्योग की वैश्विक पहुंच : वेबिनार और एक्सपोथा। इसका आयोजन एसआईडीएम के माध्यम से रक्षा उत्पादन विभाग, रक्षा मंत्रालय की देख-रेख में किया गया।

यह वेबिनार उ वेबिनारों की श्रृंखला का हिस्सा है जो अगले पांच वर्षों में रक्षा निर्यात को बढ़ाने और 5 अरब डॉलर का रक्षा निर्यात लक्ष्य पाने के लिए मैत्रीपूर्ण देशों के साथ आयोजित की जा रही हैं।

ऑस्ट्रेलिया में भारत के उच्चायुक्त, भारत में ऑस्ट्रेलिया के उपउच्चायुक्त और दोनों तरफ से रक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने वेबिनार में हिस्सा लिया और दोनों देशों के रक्षा उत्पादन और विनिर्माण पारिस्थितिकी तंत्रों के बीच संबंधों को मजबूत बनाने के बारे में बात की। श्री संजय जाजू, अपर सचिव (डीपी) ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया-भारत के रक्षा संबंध में सैन्य साझेदारी के लगभग सभी प्रमुख क्षेत्र शामिल हैं, जो दोनों देशों के बीच रक्षा और तकनीकी सहयोग में एक-दूसरे पर परस्पर निर्भरता के व्यापक विस्तार का संकेत है। उन्होंने आगे कहा कि हमारे देश में रक्षा विनिर्माण के लिए आत्मनिर्भरता एक आदर्श वाक्य होने के बावजूद हमने अपनरक्षा सौदों की प्रक्रिया के साथ-साथ एफडीआई के नियमों को भी उदार बनाया है।

भारतीय कंपनियों में बीईएल, एचएएल और निजी कंपनियों ने प्रमुख प्लेटफार्मों पर कंपनी और उत्पादों का प्रदर्शन किया। ऑस्ट्रेलियाई उद्योगों में क्विंटेंस लैब्स, मेम्को, मिल-स्पेक मैन्युफैक्चरिंग, प्रिज्म डिफेंस और सेंटिएंट विज़न ने कंपनी प्रस्तुतियां दीं।

वेबिनार में 140 से ज्यादा प्रतिनिधियों ने भाग लिया। प्रदर्शनी में भारतीय कंपनियों द्वारा 100 से अधिक और ऑस्ट्रेलियाई कंपनियों द्वारा 12 वर्चुअल स्टॉल्स भी लगाए गए।

***

एमजी/एएम/आरकेएस/डीसी



(Release ID: 1678220) Visitor Counter : 162


Read this release in: English , Urdu