विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • प्रधानमंत्री कार्यालय
  • प्रधानमंत्री ने झारखंड के लोगों को राज्य के स्थापना दिवस पर बधाई दी  
  • अल्‍पसंख्‍यक कार्य मंत्रालय
  • उस्ताद दस्तकारों और शिल्पकारों के लिए "हुनर हाट" सशक्तिकरण एक्सचेंज साबित हुए हैं;  पिछले तीन वर्षों में 2.5 लाख से अधिक ने रोजगार के अवसर प्रदान किए : श्री नकवी  
  • आदिवासी मामलों के मंत्रालय
  • गृह मंत्री श्री अमित शाह कल ‘आदि महोत्सव 2019’ का उद्घाटन करेंगे  
  • आयुष
  • श्री श्रीपद नाइक ने अंतर्राष्ट्रीय योग सम्मेलन का उद्घाटन किया  
  • कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय
  • कौशल विकास मंत्री डॉ. महेंद्र नाथ पांडे ने इंडियास्किल्स 2020 प्रतियोगिता के लिए ऑनलाइन पंजीकरण शुरु करने की घोषणा  
  • नीति आयोग
  •       नीति आयोग  ‘न्‍यू इंडिया के लिए स्‍वास्‍थ्‍य प्रणाली : बिल्डिंग ब्लॉक्स - सुधार के संभावित तरीकों’ पर रिपोर्ट जारी करेगा  
  • युवा मामले और खेल मंत्रालय
  •       राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के खेल एंव युवा मामलों के मंत्रियों की बैठक   
  • रक्षा मंत्रालय
  • रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने अरूणाचल प्रदेश में दिबांग घाटी को सियांग से जोड़ने वाले सिसेरी पुल का उद्घाटन किया  
  • रेल मंत्रालय
  • भारतीय रेलवे ने आईआरसीटीसी के जरिये राजधानी/शताब्दी/दुरंतो ट्रेनों में खानपान शुल्कन और व्यं जन सूची तथा मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों में मानक भोजन को युक्तिसंगत बनाया   
  • वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय
  • पहली अंतर्राष्‍ट्रीय क्रेता-विक्रेता बैठक अरूणाचल प्रदेश में  
  • वित्त मंत्रालय
  • 22 करोड़ रुपये के फर्जी जीएसटी चालान जारी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश  

 
मंत्रिमंडल20-सितम्बर, 2017 17:28 IST

मंत्रिमंडल ने खेलो इंडिया के पुनरूद्धार को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में हुई बैठक में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने वर्ष 2017-18 से 2019-20 की अवधि के लिए 1,756 करोड़ रूपये के खेलो इंडिया कार्यक्रम के पुनरूद्धार को मंजूरी प्रदान कर दी है। इस कार्यक्रम को व्‍यक्तिगत विकास, सामुदायिक विकास, आर्थिक विकास और राष्‍ट्रीय विकास के रूप में खेलों को मुख्‍य धारा से जोड़े जाने के फलस्‍वरूप भारतीय खेलों के इतिहास में यह एक उल्‍लेखनीय उपलब्‍धि का क्षण है।

 

पुनरूद्धार किए गए कार्यक्रम का प्रभाव संरचना, सामुदायिक खेल, प्रतिभा की खोज, उत्‍कृष्‍टता के लिए कोचिंग, प्रतिस्‍पर्धागत ढांचा तथा खेल की अर्थव्‍यवस्‍था सहित सम्‍पूर्ण खेल प्रणाली पर पड़ेगा।

 

मुख्‍य बातें:

 

इस कार्यक्रम की कुछ मुख्‍य बातों में निम्‍नलिखित हैं:-  

 

·           अभूतपूर्व भारतीय खेल छात्रवृति योजना जिसमें चयनित खेल विधाओं में प्रत्‍येक वर्ष 1,000 सर्वाधिक प्रतिभावान युवा खिलाडि़यों को सम्मिलित किया जाएगा।

·           इस योजना के अंतर्गत चयनित प्रत्‍येक खिलाड़ी को लगातार 8 वर्षों के लिए 5.00 लाख रूपये राशि की वार्षिक छात्रवृति दी जाएगी।

·           अब तक का यह पहला अवसर है, जिसमें दीर्घकालिक खिलाड़ी विकास का मार्ग प्रशस्‍त हुआ है, जो प्रतिभावान युवाओं को प्रतिस्‍पर्धी खेलों में उत्‍कृष्‍ट प्रदर्शन के लिए उपलब्‍ध होगा और जिससे अत्‍यधिक प्रतिस्‍पर्धी खिलाडि़यों की श्रृंखला का निर्माण होगा जो विश्‍व स्‍तर पर जीत हासिल करने के लिए मुकाबला कर सकेंगे।

·           इस कार्यक्रम में देशभर में 20 विश्‍वविद्यालयों को खेलों में उत्‍कृष्‍टता के हब के रूप में विकसित करने का लक्ष्य है, जिससे प्रतिभाशाली खिलाड़ी शिक्षा के साथ-साथ प्रतिस्‍पर्धी खेलों में अपनी दोहरी भूमिका निभाने में समर्थ हो सकें।

·           इस कार्यक्रम का एक लक्ष्य यह भी है कि स्‍वस्‍थ जीवनशैली के साथ  गतिशील जनसंख्‍या का निर्माण किया जा सके।

·           इस कार्यक्रम से व्‍यापक राष्‍ट्रीय शारीरिक फिटनेस अभियान के अंतर्गत 10-18 आयुवर्ग के करीब 200 मिलियन बच्‍चों को लाभ मिलेगा, जिससे इस आयु वर्ग के सभी बच्‍चों की शारीरिक फिटनेस का आभास होगा, अपितु इससे उनके फिटनेस से संबंधित क्रियाकलापों को भी सहारा मिलेगा।

 

प्रभाव:

 

·           लिंग साम्‍यता एवं सामाजिक सहभागिता को बढ़ावा देने में खेलों के  महत्‍व से सभी भलि-भांति परिचित है और इन लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए विशेष उपाय किये जाते है।

·           इस कार्यक्रम का उद्देश्‍य अशांत एवं सुविधाओं से वंचित क्षेत्रों में रह रहे युवावर्ग को अनुत्‍पादक एवं विध्‍वंसकारी गतिविधियों से हटाकर खेल-कूद के क्रियाकलापों से जोड़ कर उन्‍हें राष्‍ट्र निर्माण की प्रक्रिया में मुख्‍य धारा से जोड़ना है।

·           इस कार्यक्रम में स्‍कूल और कॉलेज दोनों ही स्‍तर पर प्रतिस्‍पर्धा के मानकों का स्‍तर बढ़ाना और खेल-कूद प्रतियोगिताओं तक बच्‍चों की अधिकतम पहुंच कायम करना है।

·           इसमें खेल संवर्धन के सभी पहलुओं जैसे – खेल प्रशिक्षण के ज्ञान के विस्‍तार के लिए मोबाइल ऐप के इस्‍तेमाल, प्रतिभा की खोज के लिए राष्‍ट्रीय प्रतिभा खोज पोर्टल, स्‍वदेशी खेलों के लिए इंटरेक्टिव वेबसाइट, खेल संरचना की तलाश एवं इस्‍तेमाल के लिए जी.आई.एस. सूचना प्रणाली के नवीनतम उपभोक्‍ता अनुकूल प्रौद्योगिकी का इस्‍तेमाल शामिल है।

·           इस कार्यक्रम में सभी के लिए खेलके साथ-साथ उत्‍कृष्‍टता के लिए खेलकी भावना पर जोर दिया गया है।

 

 

*****

अतुल तिवारी/हिमांशु सिंह/बाल्‍मीकि महतो/सुरेन्‍द्र कुमार/हेमा  

 

 

(Release ID 67220)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338