Print
XClose
पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय
31-जुलाई-2020 17:57 IST

पिछले वर्ष की तुलना में खरीफ फसलों के बुवाई रकबे में कुल 13.92 प्रतिशत की वृद्धि

जूट और मेस्ता को छोड़कर सभी फसलों के बुवाई रकबे में उल्लेखनीय वृद्धि

भारत सरकार के कृषि, सहकारिता और किसान कल्याण विभाग द्वारा कोविड - 19 महामारी के दौरान किसानों और कृषि गतिविधियों की सुविधा के लिए कई उपाय किये जा रहे हैं।

(1) खरीफ फसलों के बुआई रकबे में संतोषजनक वृद्धि हुई है, अद्यतन  स्थिति निम्न है:

खरीफ फसलों का बुवाई रकबा - पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 774.38 लाख हेक्टेयर क्षेत्र की तुलना में इस वर्ष 31 जुलाई, 2020 तक खरीफ फसलों का बुवाई रकबा 882.18 लाख हेक्टेयर है, इस प्रकार देश में पिछले वर्ष की तुलना में बुवाई रकबे में 13.92 % की वृद्धि हुई है। विभिन्न फसलों के लिए बुवाई का रकबा निम्न है:

चावल: पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 223.96 लाख हेक्टेयर की तुलना में चावल की बुवाई लगभग 266.60 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में हुई है।

 

दलहन: पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 93.84 लाख हेक्टेयर की तुलना में दलहन की बुवाई लगभग 111.91 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में हुई है।

मोटे अनाज: पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 139.26 लाख हेक्टेयर की तुलना में मोटे अनाज की बुवाई लगभग 148.34 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में हुई है।

 

तिलहन: पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 150.12 लाख हेक्टेयर की तुलना में तिलहन की बुवाई लगभग 175.34 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में हुई है।

 

गन्ना: पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 51.20 लाख हेक्टेयर की तुलना में गन्ने की बुवाई लगभग 51.78 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में हुई है।

 

जूट और मेस्ता: पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 7.05 लाख हेक्टेयर की तुलना में जूट और मेस्ता की बुवाई लगभग 6.95 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में हुई है।

 

कपास: पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 108.95 लाख हेक्टेयर की तुलना में कपास की बुवाई लगभग 121.25 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में हुई है।

इसलिए, कुल मिलाकर, खरीफ फसलों के तहत बुवाई क्षेत्र कवरेज की प्रगति पर कोविड -19 का कोई प्रभाव नहीं है।

(2) 30 जुलाई, 2020 तक, देश में प्राप्त होने वाली वास्तविक वर्षा, सामान्य के 443.3 मिमी के मुकाबले 447.1 मिमी है अर्थात 01 जून, 2020 से 30 जुलाई, 2020 की अवधि के दौरान (+) 1% का विचलन दर्ज किया गया है। केंद्रीय जल आयोग (सीडब्ल्यूसी) ने कहा है कि देश के विभिन्न भागों में स्थित  123 जलाशयों में पानी का भंडारण पिछले वर्ष की इसी अवधि का 141% है।

****

एसजी / एएम / जेके / डीए