Print
XClose
पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
रेल मंत्रालय
21-फरवरी-2020 17:10 IST

ऑनलाइन चैटबॉट का हिंदी भाषा में रेलवे ग्राहकों के साथ बातचीत करने के लिए उन्नयन किया गया

कृत्रिम बुद्धिमत्ता आधारित‘आस्कदिशा’ चैटबॉट को आईआरसीटीसी द्वारा दी जाने वाली विभिन्न सेवाओं के संबंध में इंटरनेट पर प्राप्त रेल यात्रियों की समस्याओं का समाधान करने के लिए विकसित किया गया है

रेल यात्रियों को पेश की गई विभिन्न सेवाओं के संबंध में इंटरनेट पर रेल यात्रियों की समस्याओं के समाधान के लिए भारतीय रेलवे ने अक्टूबर 2018 में कृत्रिम बुद्धिमता (आर्टफिशयल इन्टेलिजेन्स) आधारित आस्कदिशा चैटबॉट की सेवाए शुरु की। ऐसा टिकटिंग वेबसाइट www.irctc.in.in एवं भारतीय रेलवे खानपान और पर्यटन निगम लिमिटेड (आईआरसीटीसी) की पर्यटन वेबसाइट www.irctctourism.com के उपयोगकर्ताओं के लाभ के लिए किया गया है।

आस्कदिशा चैटबोट को प्रारम्भ में अंग्रेजी भाषा में शुरू किया गया था लेकिन ग्राहक सेवाओं को बढ़ाने और चैटबॉट की सेवाओं को और मजबूत बनाने के लिए आईआरसीटीसी ने अब ग्राहकों के साथ हिंदी भाषा में बातचीत करने और ईटिकटिंग साइट www.irctc.co.in के लिए आस्कदिशा का उन्नयन किया है।

आस्कदिशा पर हिंदी भाषा में दैनिक आधार पर औसतन 3000 पूछताछ की जा रही हैं और यह संख्या दिन प्रति-दिन बढ़ रही है जो ग्राहकों में इसकी स्वीकार्यता को दर्शाती है। आईआरसीटीसी की निकट भविष्य में कई अन्य अतिरिक्त सुविधाओं के साथ अधिक से अधिक भाषाओं में इसकी शुरुआत करने की योजना है। शुरुआत से लेकर अब तक आस्कदिशा का 150 मिलियन से अधिक यात्रियों ने लाभ उठाया है।

*****

एस.शुक्‍ला/एएम/आईपीएस/सीएल5882