Print
XClose
पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
गृह मंत्रालय
17-नवंबर-2019 16:05 IST

केन्द्रीय गृह मंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से लद्दाख के लिए पहले विंटर ग्रेड डीजल बिक्री केन्द्र का उद्घाटन किया

इस कदम से अत्यन्त प्रतिकूल मौसम में भी पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और क्षेत्र के आर्थिक विकास में मदद मिलेगी संविधान के अनुच्छेद 370 को समाप्त करने से लद्दाख क्षेत्र के लिए नया सवेरा : श्री अमित शाह मोदी सरकार लद्दाख के लोगों को देश के शेष हिस्सों के साथ लाने के लिए वचनबद्ध : श्री अमित शाह 50,000 करोड़ रुपये की लागत से देश की सबसे बड़ी 7,500 मेगावॉट क्षमता वाली सौर बिजली परियोजना पूरा होने से क्षेत्र के लोगों की समृद्धि बढ़ेगी : श्री अमित शाह

गृह मंत्री श्री अमित शाह ने आज लद्दाख क्षेत्र के लिए पहले विंटर ग्रेड डीजल बिक्री केन्‍द्र का शुभारंभ किया, जिससे अत्‍यंत ठंड के मौसम में डीजल ईंधन के जम जाने के कारण लोगों की समस्‍याओं के समाधान में मदद मिलेगी। उन्‍होंने कहा कि पानीपत रिफाइनरी द्वारा पहली बार उत्‍पादित विंटर ग्रेड डीजल इस क्षेत्र में -33 डिग्री की अत्‍यधिक सर्दी में भी नहीं जमता, जबकि सामान्‍य ग्रेड के डीजल के इस्‍तेमाल में कठिनाई होती है।

इस अवसर पर, श्री शाह ने कहा कि श्री नरेन्‍द्र मोदी के नेतृत्‍व में सरकार 2014 से लद्दाख क्षेत्र के विकास के लिए प्रतिबद्ध है, जो पिछले 70 वर्षों से उपेक्षित था। संविधान के अनुच्‍छेद 370 को समाप्‍त करना इस दिशा में एक महत्‍वपूर्ण कदम है।  श्री शाह ने कहा कि लद्दाख अधिनियम में बदलाव करके, स्‍वायत्‍त पर्वतीय विकास परिषद को अधिक बजट देने के अलावा अधिक स्‍वायत्तता भी दी गई। उन्‍होंने कहा कि स्‍थानीय करारोपण की शक्ति मिलने से वे खुद वित्‍तीय संसाधन भी जुटा पाएंगे।

बिजली के लिए श्रीनगर-लेह ट्रांसमिशन लाइन, लेह एवं करगिल के लिए 14 सोलर परियोजनाओं, लद्दाख विश्‍वविद्यालय, दो नये महाविद्यालयों, दो नये टर्मिनलों, पांच नये टूरिस्‍ट सर्किटों और पर्यटकों तथा पर्वतारोहियों के लिए ट्रैकों, 75 प्रतिशत केन्‍द्रीय सहायता सहित विमान यात्रा सब्सिडी एवं जिला अस्‍पताल का उन्‍नयन सहित जैसे नरेन्‍द्र मोदी सरकार द्वारा पिछले पांच वर्षों में किये गये अनेक उपायों की चर्चा करते हुए, श्री शाह ने कहा कि लद्दाख, लेह और करगिल के लोगों को समान अधिकार मिलेंगे और वे देश के विकास में एकसमान भागीदार होंगे।

श्री शाह ने कहा कि 9 मेगावॉट पनबिजली परियोजना के अलावा, 50,000 करोड़ रुपये की लागत वाली भारत की सबसे बड़ी 7,500 मेगावॉट क्षमता वाली सौर बिजली परियोजना अगले चार वर्षों में पूरी होगी। इससे लद्दाख क्षेत्र का विकास होगा और रोजगार के नये अवसर सृजित होंगे।

गृह मंत्री ने कहा कि इस विंटर ग्रेड डीजल से अत्‍यन्‍त ठंड के समय पर्यटकों को यात्रा के दौरान आसानी होगी और क्षेत्र के लोगों की जरूरतों को पूरा करने के साथ-साथ पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा तथा कुल मिलाकर आर्थिक विकास में मदद मिलेगी।

लेह से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्‍यम से जुड़े टूर और टैक्‍सी ऑपरेटरों एवं आम लोगों ने इस ऐतिहासिक कदम के लिए केन्‍द्रीय गृह मंत्री को धन्‍यवाद दिया और कहा कि डीजल के इस नये वर्जन से इस क्षेत्र में एक नया सवेरा आएगा।

इस अवसर पर केन्‍द्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री श्री धर्मेन्‍द्र प्रधान,  लद्दाख से सांसद श्री जामियांग सेरिंग नामग्‍याल और गृह मंत्रालय तथा पेट्रोलियम मंत्रालय के अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।   

*******

वीजी/एसएनसी/आरकेमीणा/आरएनएम/एएम/एसकेएस/जीआरएस – 4236