गृह मंत्रालय

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने आज गुजरात के कलोल में 150 बेड के ESIC अस्पताल व उमिया माता क. पा. एजुकेशनल ट्रस्ट के 750 बेड के आदर्श मल्टीस्पेशियलिटी अस्पताल का शिलान्यास किया


प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश के हर व्यक्ति, विशेषकर गरीबों, को आरोग्य का संपूर्ण अधिकार देने का काम किया है

प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना के अंतर्गत देश के 60 करोड़ गरीबों को 5 लाख रूपए तक की स्वास्थ्य सुविधाएं मुफ्त देने की व्यवस्था मोदी जी ने की है

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देशभर में श्रमिक बीमा राज्य योजना को पुनर्जीवित कर इसका फायदा देशभर के कामगारों को पहुँचाया है

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी नेआयुष्मान हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर मिशन के तहत 64 हजार करोड़ रूपए से 600 से ज्यादा जिलों में क्रिटीकल केयर वाले 35 हजार नये बेड उपलब्ध कराने का काम किया है

देश के 730 जिलों में इन्टीग्रेटेडेट पब्लिक हेल्थ लेबोरेटरी और महामारी के साथ जुड़ी अलग-अलग बड़ी बीमारियों के लिए 1600 करोड़ रूपए के आवंटन के साथ रिसर्च सेन्टर शुरु करने का भी काम मोदी सरकार ने किया है

2013-14 में देश में सिर्फ़ 387 मेडिकल कॉलेज थे और 2021-22 में इनकी संख्या बढ़ाकर 596 करने का काम देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने किया

एमबीबीएस की सीटों की संख्या 51000 से बढ़ाकर 89 हज़ार करने और पीजी सीटें 31000 से बढ़ाकर 60 हजार करने का काम मोदी सरकार ने किया है

माता मृत्युदर, शिशु मृत्युदर और संस्थागत डिलीवरी जैसे कठिन मानकों में गुजरात ने काफी सुधार किया है

तपेदिक (क्षयरोग या टीबी) और कैन्सर के लिये एक विशेष अभियान चलाया जा रहा है जिसके तहत इन बीमारियों का शुरूआत में ही निदान किया जा सके

Posted On: 27 SEP 2022 2:51PM by PIB Delhi

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने आज गुजरात के कलोल में 150 बेड के ESIC अस्पताल व उमिया माता क. पा. एजुकेशनल ट्रस्ट के 750 बेड के आदर्श मल्टीस्पेशियलिटी अस्पताल का शिलान्यास किया। इस अवसर पर गुजरात के मुख्यमंत्री श्री भूपेन्द्र पटेल, केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री मनसुख मांडविया, केन्द्रीय श्रम एवं रोज़ग़ार मंत्री श्री भूपेन्द्र यादव और श्रम एवं रोज़ग़ार राज्यमंत्री श्री रामेश्वर तेली सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

 

अपने संबोधन में श्री अमित शाह ने कहा कि आज कलोल में दो बड़े अस्पतालों का भूमिपूजन हो रहा है। उन्होंने कहा कि इन अस्पतालों से कलोल तहसील और शहर के सभी नागरिको को अच्छे इलाज की सुविधा मिलेगी। श्री शाह ने कहा कि उमिया माताजी कडवा पाटीदार ट्रस्ट द्वारा बनने वाले अस्पताल में 35 प्रतिशत गरीब मरीजों को निशुल्क स्वास्थ्य सेवा मिलेगी। श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व और केन्द्रीय श्रम मंत्री श्री भूपेन्द्र यादव के मार्गदर्शन में देशभर में श्रमिक बीमा राज्य योजना पुनर्जीवित हुई है और इसका फ़ायदा देशभर के कामगारों को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश के हर व्यक्ति, विशेषकर ग़रीबों, को आरोग्य का संपूर्ण अधिकार देने का काम किया है। प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना के अंतर्गतदेश के 60 करोड़ गरीबों को 5 लाख रूपए तक की स्वास्थ्य सुविधाएं मुफ़्त देने की व्यवस्था प्रधानमंत्री मोदी ने की है।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा 64 हजार करोड़ रूपएका आयुष्मान हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर मिशन देश के ग़रीबों के लिए पहली इतनी बड़ी योजना है। इसके तहत 600 से ज्यादा जिलों में क्रिटीकल केयर वाले 35 हजार नये बेड उपलब्ध कराने का काम देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने किया है। देश के 730 जिलों में इन्टीग्रेटेडेट पब्लिक हेल्थ लेबोरेटरी और महामारी के साथ जुड़ी अलग-अलग बड़ी बीमारियों के लिए 1600 करोड़ रूपए के आवंटन के साथ रिसर्च सेन्टर शुरु करने का भी काम मोदी सरकार ने किया।

श्री अमित शाह ने कहा कि 2013-14 में देश में सिर्फ़ 387 मेडिकल कॉलेज थे और 2021-22 में इनकी संख्या बढ़ाकर 596 करने का काम देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने किया। एमबीबीएस की सीटों की संख्या 51000 से बढ़ाकर 89 हज़ार करने का काम मोदी सरकार ने किया। पीजी सीटें 31000 से बढ़ाकर 60 हज़ार करने का भी काम मोदी सरकार ने किया। इसके अलावा 10 नये एम्स शुरु हो गए हैं, 75 नए मेडिकल कॉलेजों की स्वीकृति आ गई है, और, 22 और एम्स बनाने की योजना है।

श्री अमित शाह ने कहा कि गुजरातने भी 2018 के आंकड़ों की तुलना में माता मृत्युदर,शिशु मृत्युदर और संस्थागत डिलीवरी के क्षेत्रों में खूब प्रगति की है। उन्होंने कहा कि माता मृत्युदर और शिशु मृत्युदर को सुधारना बहुत कठिन होता है और संस्थागत डिलीवरी मे 100 में से 96 डिलीवरी आज अस्पताल में होती हैं। श्री शाह ने कहा कि लिंगानुपात में भी गुजरात ने बहुत अच्छी प्रगति की है। उन्होंने कहा कि तपेदिक और कैन्सर के लिये एक विशेष अभियान चलाया जा रहा है जिसके तहत इन बीमारियों की शुरूआत में ही इनका निदान किया जा सके। गांधीनगर जिले की दोनों तहसील गांधीनगर और कलोल में लगभग 80 प्रतिशत ग्रामीण क्षेत्र में कैन्सर की जांच का काम पूर्ण हो चुका है।

*****

एनडब्ल्यू / एवाई / एके / आरआर / एएस



(Release ID: 1862522) Visitor Counter : 407


Read this release in: English