गृह मंत्रालय

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने आज कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में बसव जयंती पर श्री बसवअन्ना को श्रद्धासुमन अर्पित किए

Posted On: 03 MAY 2022 2:25PM by PIB Delhi

श्री अमित शाह ने नृपतुंगा यूनिवर्सिटी के उद्घाटन सहित विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया

बसवअन्ना ने सैकड़ों साल पहले अनुभव मंडपम के द्वारा कर्नाटक की इस महान भूमि पर समाज में सर्वस्पर्शीय और सर्वसमावेशक लोकतंत्र का उदाहरण दिया

अपने वचनों के माध्यम से बसवअन्ना ने समाज के हर वर्ग की समस्याओं के बहुत सुंदर और सरल रास्ते दिखाए, सभी युवाओं को शिक्षा के साथ- साथ बसवअन्ना के वचनों को अवश्य पढ़ना चाहिए

यह वर्ष आज़ादी के अमृत महोत्सव का वर्ष है, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने आज़ादी के इस अमृत महोत्सव को बहुत महत्व के साथ बनाने का फ़ैसला किया है

हम सबको यह संकल्प लेना चाहिए कि अगले 25 वर्षों में हम देश के विकास में योगदान देकर आज़ादी के शताब्दी वर्ष 2047 में भारत को विश्व गुरू बनाकर आज़ादी के नायकों के स्वप्न को साकार करें

130 करोड़ लोग जब संकल्प लेते हैं तो इसका संपुट देश को 130 करोड़ कदम आगे ले जाता है

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी 2020 में एक नई शिक्षा नीति लेकर आए

 इसका उद्देश्य भारत को महान बनाना, युवाओं को अवसर प्रदान करना और एक ऐसा प्लेटफ़ॉर्म देना जिससे कर्नाटक और भारत का युवा विश्व के युवाओं के साथ विश्वास के साथ स्पर्धा कर देश के विकास में योगदान दे सके

नई शिक्षा नीति में भारतीय संस्कृति की समझ को बढ़ावा देने पर ज़ोर दिया गया है, साथ ही इसमें विश्व का मार्गदर्शन करने के भारत के दायित्व के प्रति विद्यार्थियों को जागरूक करने और भारत को नॉलेज सुपर पॉवर बनाने का भी लक्ष्य रखा गया है

श्री नरेन्द्र मोदी जी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद उच्च शिक्षा के लिए बहुत सारे काम किए हैं

 मोदी जी के नेतृत्व में सरकार बनने के बाद देश में 6 नए केन्द्रीय विश्वविद्यालय, सात IIM, सात IIT, 15 AIIMS, 209 नए मेडिकल कॉलेज, 320 नई यूनिवर्सिटी और 5709 नए कॉलेज खोलने का काम किया है

हायर एजुकेशन में ग्रामीण क्षेत्रों का भी ध्यान रखते हुए करीब 410 से ज्यादा ग्रामीण विश्वविद्यालय बनाने का काम किया गया, नार्थ ईस्ट में 22 नए विश्वविद्यालय, लद्दाख में देश की पहली सिंधु सेंट्रल यूनिवर्सिटी बनाने का काम किया

 प्रोफेशनल युवाओं को मौका देने के लिए फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी, रक्षा शक्ति यूनिवर्सिटी, रेल एंड ट्रांसपोर्टेशन यूनिवर्सिटी जैसी प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी की शुरुआत भी श्री नरेंद्र मोदी जी ने की है

मोदी जी को हमेशा इस बात की चिंता रहती है कि हर क्षेत्र के अंदर देश का विकास कैसे हो, हर क्षेत्र में भारत दुनिया में सबसे पहले स्थान पर कैसे पहुंचे, इसके लिए उन्होने अनेक कार्यक्रम बनाए हैं और उन्हे कठोरता के साथ इंप्लीमेंट भी किया है

 2014 से पहले देश के ऊपर आए दिन पाक प्रेरित आतंकवादी हमला करते थे और देश की केंद्र सरकार का रिसपोन्स शुन्य होता था, सिर्फ स्टेटमेंट दिए जाते थे

 प्रधानमंत्री मोदी जी के आने के बाद उड़ी और पुलवामा में हमला हुआ तो 10 दिन के अंदर सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक कर मुंहतोड़  जवाब देने का काम श्री नरेंद्र मोदी जी ने किया

पहले दुनिया में अपनी सीमा और सेना के साथ छेड़खानी करने वालों को सिर्फ अमेरिका और इजराइल जवाब देते थे, आज इस सूची में मेरे और आपके महान देश भारत का नाम जोड़ने का काम प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने किया है

धारा 370, 35A और सीएए जैसे ढेर सारे मसलों को मोदी जी ने पलक झपकते ही समाप्त कर दिया

5 अगस्त 2019 का दिन भारत के इतिहास में स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाएगा, कश्मीर से धारा 370 को हटा कर हमेशा के लिए कश्मीर को भारत के साथ जोड़ने का काम नरेंद्र मोदी जी ने किया है

 अनेक क्षेत्रों के अंदर नरेंद्र मोदी सरकार ने ढेर सारी उपलब्धियां हासिल की है और इसी के कारण आज देश की जनता का विश्वास बढ़ा है कि जब हमारी आजादी के 100 साल पूरे होंगे तो भारत दुनिया में सर्वोच्च स्थान पर होगा और इसे कोई नहीं रोक सकता

 

     केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने आज कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में बसव जयंती पर श्री बसवअन्ना को श्रद्धासुमन अर्पित किए। एक अन्य कार्यक्रम में श्री अमित शाह ने नृपतुंगा यूनिवर्सिटी के उद्घाटन सहित विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री श्री प्रल्हाद जोशी और कर्नाटक के मुख्यमंत्री श्री बसवराज बोम्मई सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

     अपने सम्बोधन में केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि बसवअन्ना ने सैकड़ों साल पहले अनुभव मंडपम के द्वारा कर्नाटक की इस महान भूमि पर समाज में सर्वस्पर्शीय और सर्वसमावेशक लोकतंत्र का उदाहरण दिया था। अपने वचनों के माध्यम से बसवअन्ना ने समाज के हर वर्ग की समस्याओं के बहुत सुंदर और सरल रास्ते दिखाए। उन्होंने कहा कि मैं यहाँ उपस्थित सभी युवाओं से यही कहना चाहता हूँ कि उन्हें शिक्षा के साथ साथ बसवअन्ना के वचनों को अवश्य पढ़ना चाहिए क्योंकि बसवअन्ना के वचनों को पढ़ने से जीवन में कभी कोई दिक़्क़त नहीं आएगी। आज की सभी समस्याओं का समाधान बसवअन्ना के वचनों में ही दिखाई देता है। श्री शाह ने कहा कि आज बसवअन्ना की जयंती है और इस अवसर पर मैं यही कहना चाहता हूँ कि केवल कर्नाटक बल्कि पूरा देश और दुनिया शांति, सद्भाव और समावेशी लोकतंत्र के मार्ग पर आगे बढ़े।

श्री अमित शाह ने कहा कि किसी भी देश का भविष्य उसके युवाओं और उनके चरित्र में निर्मित होता है। इस कॉलेज में 100 साल से निरंतर विद्या की उपासना होती रही और यहाँ के कई छात्रों ने कर्नाटक और देश में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। इस कॉलेज ने कई मील के पत्थर स्थापित किए हैं। 2020 से इस कॉलेज को नृपतुंगा यूनिवर्सिटी के नाम से जाना जाता है, आज इसका औपचारिक उद्घाटन हुआ है और इसके लोगो का लोकार्पण भी हुआ है।

गृह मंत्री ने कहा कि यह वर्ष आज़ादी के अमृत महोत्सव का वर्ष है। आज हमारे देश को आज़ाद हुए 75 साल हो गए हैं और सभी लोगों ने अपने अपने तरीक़े से देश को बनाने में योगदान दिया है। 75 साल की इस यात्रा में देश कई मंजिलें पार कर आज यहाँ तक पहुँचा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने आज़ादी के इस अमृत महोत्सव को बहुत महत्व के साथ बनाने का फ़ैसला किया है। आज़ादी के इस अमृत महोत्सव का प्रमुख उद्देश्य है कि हमारी युवा पीढ़ी आज़ादी के जन नायकों को जाने-पहचाने और उनसे देशभक्ति के संस्कार ग्रहण कर देश को आगे बढ़ाए। श्री शाह ने कहा कि आज़ादी का यह 75 वाँ साल संकल्प लेने का भी साल है। हम सबको यह संकल्प लेना चाहिए कि अगले 25 वर्षों में हम देश के विकास में योगदान देकर आज़ादी के शताब्दी वर्ष 2047 में भारत को विश्व गुरू बनाकर आज़ादी के नायकों के स्वप्न को साकार करें। उन्होंने कहा कि130 करोड़ लोग जब संकल्प लेते हैं तो इसका संपुट देश को 130 करोड़ कदम आगे ले जाता है।

श्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी 2020 में एक नई शिक्षा नीति लेकर आए। इसका उद्देश्य भारत को महान बनाना, युवाओं को अवसर प्रदान करना और एक ऐसा प्लेटफ़ॉर्म देना जिससे कर्नाटक और भारत का युवा विश्व के युवाओं के साथ विश्वास के साथ स्पर्धा कर देश के विकास में योगदान दे सके। उन्होंने कहा कि देश में सबसे पहले कर्नाटक ने नई शिक्षा नीति को स्वीकार किया है और इसके लिए कर्नाटक राज्य को बहुत बहुत बधाई देना चाहता हूँ। श्री शाह ने कहा कि नई शिक्षा नीति में भारतीय संस्कृति की समझ को बढ़ावा देने पर ज़ोर दिया गया है। साथ ही इसमें विश्व का मार्गदर्शन करने के भारत के दायित्व के प्रति विद्यार्थियों को जागरूक करने और भारत को नॉलेज सुपर पॉवर बनाने का भी लक्ष्य रखा गया है। नई शिक्षा नीति में शिक्षा का मूल आधार भारत की स्थानीय भाषाएँ हों इस पर भी बल दिया गया है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक ने नई शिक्षा नीति के लिए एक टास्क फ़ोर्स का गठन कर देश के सामने एक उदाहरण प्रस्तुत किया है।

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि श्री नरेन्द्र मोदी जी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद उच्च शिक्षा के लिए बहुत सारे काम किए हैं। मोदी जी के नेतृत्व में सरकार बनने के बाद देश में 6 नए केन्द्रीय विश्वविद्यालय, 7 भारतीय प्रबंधन संस्थान (IIM), 7 भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान(IIT), 15 अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS), 209 नए मेडिकल कॉलेज, 320 नई यूनिवर्सिटी और 5709 नए कॉलेज खोलने का काम किया है। उन्होने कहा कि हायर एजुकेशन में ग्रामीण क्षेत्रों का भी ध्यान रखते हुए करीब 410 से ज्यादा ग्रामीण विश्वविद्यालय बनाने का काम किया गया है। नार्थ ईस्ट में 22 नए विश्वविद्यालय खोले गए हैं, लद्दाख में देश की पहली सिंधु सेंट्रल यूनिवर्सिटी बनाने का काम भी नरेंद्र मोदी सरकार ने किया है। प्रोफेशनल युवाओं को मौका देने के लिए फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी, रक्षा शक्ति यूनिवर्सिटी, रेल एंड ट्रांसपोर्टेशन यूनिवर्सिटी जैसी प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी की शुरुआत भी श्री नरेंद्र मोदी जी ने की है।

 

श्री अमित शाह ने कहा कि मोदी जी को हमेशा इस बात की चिंता रहती है कि हर क्षेत्र के अंदर देश का विकास कैसे हो, हर क्षेत्र में भारत दुनिया में सबसे पहले स्थान पर कैसे पहुंचे और इसके लिए उन्होने अनेक कार्यक्रम बनाए हैं और उन्हे कठोरता के साथ इंप्लीमेंट भी किया है। देश की सुरक्षा का जिक्र करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि 2014 से पहले देश के ऊपर आए दिन पाक प्रेरित आतंकवादी हमला करते थे और देश की केंद्र सरकार का रिसपोन्स शुन्य होता था, सिर्फ स्टेटमेंट दिए जाते थे। प्रधानमंत्री मोदी जी के आने के बाद उड़ी और पुलवामा में हमला हुआ तो 10 दिन के अंदर सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक कर मुंहतोड़  जवाब देने का काम श्री नरेंद्र मोदी जी ने किया। इससे बहुत बड़ा फर्क पड़ा है और आज पूरी दुनिया जानती है कि भारत की सीमाओं के साथ कोई छेड़खानी नहीं कर सकता वरना माकूल जवाब दिया जाएगा। श्री शाह ने कहा कि पहले दुनिया में अपनी सीमा और सेना के साथ छेड़खानी करने वालों को सिर्फ अमेरिका और इजराइल जवाब देते थे, आज इस सूची में मेरे और आपके महान देश भारत का नाम जोड़ने का काम प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने किया है।

श्री अमित शाह ने कहा धारा 370, 35A और सीएए जैसे ढेर सारे मसलों को मोदी जी ने पलक झपकते ही समाप्त कर दिया। उन्होने कहा कि 5 अगस्त 2019 का दिन भारत के इतिहास में स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाएगा। कश्मीर से धारा 370 को हटा कर हमेशा के लिए कश्मीर को भारत के साथ जोड़ने का काम श्री नरेंद्र मोदी जी ने किया है। उद्योग के क्षेत्र में ढेर सारी स्कीमें लाकर भारत को इंडस्ट्रियल हब बनाने का काम किया है, अगर भारत मैन्युफैक्चरिंग हब बनता है तो हमारे लिए दो दृष्टि से महत्वपूर्ण है। 130 करोड़ का मार्केट हमारे देश में ही उपलब्ध है और अगर भारत मैन्युफैक्चरिंग हब बनता है तो देश के युवाओं को अपोर्च्यूनिटी भी मिलेंगी। उन्होने कहा कि अनेक क्षेत्रों के अंदर नरेंद्र मोदी सरकार ने ढेर सारी उपलब्धियां हासिल की है और इसी के कारण आज देश की जनता का विश्वास बढ़ा है कि जब हमारी आजादी के 100 साल पूरे होंगे तो भारत दुनिया में सर्वोच्च स्थान पर होगा और इसे कोई नहीं रोक सकता।

गृह मंत्री ने कहा कि आज बेलारी में एक फॉरेंसिक साइंस लैब का भी उद्घाटन किया गया है। क्षेत्रीय फॉरेंसिक साइंस लैबोरेट्री के कांसेप्ट को कर्नाटक ने बहुत अच्छे तरीके से क्रियान्वयन किया है और इसके लिए कर्नाटक के मुख्यमंत्री और गृहमंत्री दोनों को बहुत-बहुत बधाई देना चाहता हूँ। उन्होने कहा कि साइंटिफिक इन्वेस्टिगेशन के बगैर दोष सिद्धि का रेशो नहीं बढ़ सकता। जब तक प्रॉसीक्यूशन एजेंसी के पास साइंटिफिक एविडेंस हो तब तक दोष सिद्धी नहीं हो सकती। श्री शाह ने कहा कि आज यहाँ पुलिस बीट का एक नया कांसेप्ट बीट (E Beat) भी लॉन्च किया गया है। जब बीट का कांसेप्ट पूरे कर्नाटक में लॉन्च हो जाएगा तो पुलिस की सेवाओं को अनेक गुना स्पीड से गरीब से गरीब व्यक्ति तक पहुंचाने में मदद मिलेगी।

 

*****

एनडब्ल्यू/आरके/एवाई



(Release ID: 1822308) Visitor Counter : 456


Read this release in: English