वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्रालय
azadi ka amrit mahotsav

अगस्त, 2021 के लिए आठ कोर उद्योगों का सूचकांक(आधार:2011-12=100) जारी

Posted On: 30 SEP 2021 5:00PM by PIB Delhi

उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग के आर्थिक सलाहकार कार्यालय (डीपीआईआईटी) ने अगस्त, 2021 के लिए आठ कोर उद्योगों(आईसीआई) का सूचकांक जारी किया है। आईसीआई चयनित आठ प्रमुख उद्योगों- कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्‍पाद, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट और बिजली में संयुक्त और व्यक्तिगत उत्पादन का आकलन करता है। औद्योगिक उत्‍पादन सूचकांक (आईआईपी) में शामिल वस्तुओं के कुल भारांक (वेटेज) का 40.27 प्रतिशत हिस्सा आठ कोर उद्योगों में ही निहित होता है। वार्षिक/मासिक सूचकांक और वृद्धि दर का विवरण अनुलग्नक I और II में दिया गया है।

आठ कोर इंडस्ट्रीज का संयुक्त सूचकांक अगस्त, 2021 में 133.5  पर रहा जिसमें अगस्त, 2020 की तुलना में 11.6 फीसदी (अनंतिम) की वृद्धि दर्ज की गई। कोयला, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट और बिजली उद्योग के उत्पादन में अगस्त 2021 में गत वर्ष की समान अवधि की तुलना में वृद्धि हुई।

मई, 2021 में आठ कोर उद्योगों के सूचकांक की अंतिम वृद्धि दर को इसके अनंतिम स्तर  16.8  % से संशोधित कर 16.4 % कर दिया गया है। अप्रैल-अगस्त 2021-22 के दौरान आईसीआई की वृद्धि दर गत वित्तीय वर्ष की समान अवधि की तुलना में 19.3  % (अनंतिम) थी।

आठ कोर उद्योगों के सूचकांक का सार नीचे दिया गया है:

कोयला

अगस्त, 2021 में कोयला उत्‍पादन (भारांक: 10.33%) अगस्त, 2020 के मुकाबले 20.6 प्रतिशत बढ़ गया। वर्ष 2021-22 की अप्रैल-अगस्त अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में 12.5 प्रतिशत बढ़ गया।

कच्‍चा तेल

अगस्त, 2021 के दौरान कच्‍चे तेल का उत्‍पादन (भारांक: 8.98%) अगस्त, 2020 की तुलना में 2.3 प्रतिशत गिर गया। वर्ष 2021-22 की अप्रैल-अगस्त अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक बीते वित्‍त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 3.2 प्रतिशत कम रहा।

प्राकृतिक गैस

अगस्त, 2021 में प्राकृतिक गैस का उत्‍पादन (भारांक: 6.88%) अगस्त, 2020 के मुकाबले 20.6 प्रतिशत बढ़ गया। वर्ष 2021-22 की अप्रैल-अगस्त अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वित्‍त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 21.0 प्रतिशत बढ़ गया।

पेट्रोलियम रिफाइनरी उत्‍पाद

पेट्रोलियम रिफाइनरी उत्‍पादों का उत्‍पादन (भारांक: 28.04%) अगस्त, 2021 में अगस्त, 2020 के मुकाबले  9.1 प्रतिशत बढ़ गया। वहीं, वर्ष 2021-22 की अप्रैल-अगस्त अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वित्‍त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 12.3 प्रतिशत बढ़ गया।

उर्वरक

अगस्त, 2021 के दौरान उर्वरक उत्‍पादन (भारांक: 2.63%) अगस्त, 2020 के मुकाबले 3.1 प्रतिशत कम हो गया। उधर, वर्ष 2021-22 की अप्रैल-अगस्त अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक बीते वित्‍त वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 1.5 प्रतिशत कम रहा।

इस्‍पात

अगस्त, 2021 में इस्‍पात उत्‍पादन (भारांक: 17.92%) अगस्त, 2020 के मुकाबले  5.1  प्रतिशत बढ़ गया। वर्ष 2021-22 की अप्रैल-अगस्त अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वित्‍त वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 44.2 प्रतिशत अधिक रहा।

सीमेंट

अगस्त, 2021 के दौरान सीमेंट उत्‍पादन (भारांक: 5.37%) अगस्त, 2020 के मुकाबले 36.3 प्रतिशत बढ़ गया। वर्ष 2021-22 की अप्रैल-अगस्त अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक बीते वित्‍त वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 44.3 प्रतिशत अधिक रहा।

बिजली

अगस्त, 2021 के दौरान बिजली उत्‍पादन (भारांक: 19.85%) अगस्त, 2020 के मुकाबले  15.3 प्रतिशत बढ़ गया। वर्ष 2021-22 की अप्रैल-अगस्त, 2020-21 अवधि के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वित्‍त वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 15.2  प्रतिशत अधिक रहा।

नोट 1: जून 2021, जुलाई 2021 और अगस्त, 2021 के आंकड़े अनंतिम हैं।

नोट 2: अप्रैल, 2014 से ही बिजली उत्पादन के आंकड़ों में नवीकरणीय अथवा अक्षय स्रोतों से प्राप्त बिजली को भी शामिल किया जा रहा है।

नोट 3: ऊपर दिए गए उद्योग-वार भारांक दरअसल आईआईपी से प्राप्त अलग-अलग उद्योग भारांक हैं और इसे 100 के बराबर आईसीआई के संयुक्त भारांक में समानुपातिक आधार पर बढ़ाकर दिखाया गया है।

नोट 4: मार्च 2019 से ही तैयार इस्पात के उत्‍पादन के अंतर्गत कोल्ड रोल्ड (सीआर) क्‍वायल्‍समद के तहत हॉट रोल्ड पिकल्‍ड एंड ऑयल्‍ड (एचआरपीओ) नामक एक नए स्टील उत्पाद को भी शामिल किया जा रहा है।

नोट 5: सितंबर, 2021 के लिए सूचकांक शुक्रवार 29 अक्टूब, 2021 को जारी किया जाएगा।

 

अनुलग्नक देखने के लिए यहां क्लिक करें।

 

***

एमजी /एएम /केजे



(Release ID: 1760579) Visitor Counter : 96


Read this release in: English