रक्षा मंत्रालय

सीमा सड़क संगठन- बीआरओ ने मनाया 'आजादी का अमृत महोत्सव'

Posted On: 15 AUG 2021 11:15PM by PIB Delhi

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0019YXJ.jpg

मुख्य बिंदु :

  • सीमा सड़क संगठन ने 75 सबसे ऊंचे दर्रों और प्रमुख स्थानों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया
  • 'उमलिंग ला दर्रा',  इनमें से दुनिया की सबसे ऊंची मोटरवाहन चलाने योग्य सड़क
  • रक्षा मंत्री ने शुक्रवार को 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की टीमों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था
  • बीआरओ ने वृक्षारोपण अभियान, विद्यालय संवाद और चिकित्सा शिविर भी आयोजित किये

 

सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने 'आजादी का अमृत महोत्सव' के रूप में मनाए जा रहे 75वें स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में देश के 75 सबसे ऊंचे दर्रों और प्रमुख स्थानों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया है। इस महत्वपूर्ण अवसर को ऐतिहासिक रूप से दर्ज कराने के लिए बीआरओ के कर्मचारियों ने अत्यधिक परेशानी भरे मौसम और दुर्गम इलाकों की कठिन परिस्थितियों में ध्वजारोहण किया। इनमें से अधिकांश दर्रे करीब 10,000 फीट की ऊंचाई से ऊपर स्थित हैं और लगभग 15 दर्रे औसतन समुद्र तल से 15,000 फीट से अधिक ऊंचाई पर मौजूद हैं। इनमें से सबसे प्रमुख है 'उमलिंग ला दर्रा', जो पूर्वी लद्दाख में 19,300 फीट की ऊंचाई पर बीआरओ द्वारा बनाई गई दुनिया की सबसे ऊंची मोटर वाहन चलाने योग्य सड़क है। बीआरओ में सभी रैंकों के कर्मचारियों की एक टीम में शामिल व्यक्तियों ने उमलिंग ला दर्रे पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया।

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0010NAO.jpg

 

 

'आजादी का अमृत महोत्सव' मनाने के लिए रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने 13 अगस्त 2021 को 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से बीआरओ की टीमों को देश भर के 75 पर्वतीय दर्रों तथा महत्वपूर्ण स्थलों पर पहुंचने के लिए नई दिल्ली से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। 15 अगस्त 2021 को राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए टीमों ने वाहनों, मोटरसाइकिलों और साइकिलों से दर्रे की ओर प्रस्थान किया।

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002MAUV.jpg

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003O21Z.jpg

 

नई दिल्ली में बीआरओ मुख्यालय के साथ-साथ देश भर में स्थित बीआरओ के सभी कार्यालयों में ध्वजारोहण करने के अलावा स्वतंत्रता दिवस समारोह के कार्यक्रम आयोजित किए गए। स्थानीय लोगों को इन समारोह में शामिल करने के लिए कई नई शुरुआत की गईं। इनमें 75 वृक्षारोपण अभियान, 75 विद्यालय संवाद और 75 चिकित्सा शिविर जैसे कार्यक्रम शामिल थे।

***

एमजी/एएम/एनकेएस/एसएस



(Release ID: 1746330) Visitor Counter : 448


Read this release in: English , Urdu