भारी उद्योग मंत्रालय

‘न्यूजेन मोबिलिटी समिट 2019’ मानेसर में 27 नवंबर से

Posted On: 20 NOV 2019 5:02PM by PIB Delhi

अंतर्राष्‍ट्रीय ऑटोमोटिव प्रौद्योगिकी केन्द्र (आईसीएटी) गुरुग्राम के मानेसर में 27 से 29 नवम्बर, 2019 तक न्यूजेन मोबिलिटी समिट 2019 का आयोजन करेगा। इस शिखर सम्मेलन का उद्देश्य नये विचारों, जानकारियों, वैश्विक अनुभवों, नवाचारों और भावी तकनीकी रुझानों को साझा करना है, ताकि स्मार्ट और हरित भविष्य के लिए उन्नत ऑटोमोटिव (मोटर वाहन) प्रौद्योगिकियों को तेजी से विकसित एवं अपनाया जा सके। इस आयोजन से वैश्विक स्तर पर प्रौद्योगिकियों के क्षेत्र में हुई प्रगति को समझने हेतु ऑटोमोटिव उद्योग के सभी हितधारकों को एकजुट करने के लिए एक प्लेटफॉर्म का निर्माण करने में मदद मिलेगी। इस आयोजन का उद्घाटन 27 नवंबर को केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (एमएसएमई) मंत्री श्री नितिन जयराम गडकरी करेंगे। उद्घाटन सत्र के दौरान वित्त राज्य मंत्री श्री अनुराग ठाकुर भी उपस्थित रहेंगे।

इस शिखर सम्मेलन का आयोजन एसएईएनआईएस, एसएई इंडिया, एसएई इंटरनेशनल, नैट्रिप, डीआईएमटीएस, डीएचआई, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय, सियाम और एसीएमए के सहयोग से किया जा रहा है। यह शिखर सम्मेलन 2500 से भी अधिक प्रतिभागियों और 250 से भी ज्यादा प्रदर्शकों की मेजबानी करेगा तथा इस दौरान 150 मुख्य एवं तकनीकी कागजात पेश किये जाएंगे।

आईसीएटी के निदेशक श्री दिनेश त्यागी ने नई दिल्ली में मीडिया को बताया कि न्यूजेन मोबिलिटी समिट 2019 भारत में सबसे बड़े ऑटोमोटिव आयोजनों में से एक होगी। उन्होंने कहा कि इस आयोजन की खूबियों में ट्रैक को प्रदर्शित करना, ड्राइव-टच-फील की सुविधा और भावी वाहन प्रौद्योगिकियों का प्रयोगशाला में प्रदर्शन करना शामिल हैं। जहां तक भावी वाहन प्रौद्योगिकियों का सवाल है, इनमें कनेक्टेड मोबिलिटी, ऑटोनोमस व्हीकल, इलेक्ट्रिक मोबिलिटी, वैकल्पिक ईंधन, इंटेलिजेंट परिवहन प्रणाली, हाइड्रोजन फ्यूल सेल, हाइड्रोजन आई.सी. इंजन, वाहन की गतिशीलता,  उन्नत सामग्री एवं हल्का भार, एंड-ऑफ-लाइफ व्हीकल और रीसाइक्लिंग शामिल हैं। इस दौरान एसएई एफिसाइकिल और बाजा की टीमों के विद्यार्थी भी अपनी ओर से प्रदर्शन करेंगे। यह शिखर सम्मेलन स्मार्ट एवं हरित गतिशीलता के क्षेत्र से जुड़ी प्रौद्योगिकियों से अवगत कराएगा और इसके साथ ही देश-विदेश के उद्योग विशेषज्ञों एवं मूल उपकरण निर्माताओं (ओईएम) से संवाद का मौका भी देगा।

आईसीएटी मानेसर दरअसल भारत सरकार के भारी उद्योग विभाग के अधीनस्थ नैट्रिप इम्प्लीमेंटेशन सोसायटी (नैटिस) का एक प्रभाग या डिवीजन है।        

***

आरकेमीणा/आरएनएम/एएम/आरआरएस/एम-4392

 



(Release ID: 1593416) Visitor Counter : 65


Read this release in: English