पृथ्‍वी विज्ञान मंत्रालय

दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी एवं समीपस्थ दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक निम्न दबाव क्षेत्र का निर्माण और 16 मई की शाम तक इसके एक चक्रवाती तूफान के रूप में तीव्र हो जाने का अनुमान

Posted On: 13 MAY 2020 6:30PM by PIB Delhi

भारत मौसम विज्ञान विभाग के चक्रवात चेतावनी प्रभाग का कहना है कि आज, 13 मई की सुबह में दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी एवं समीपस्थ दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक निम्न दबाव क्षेत्र का निर्माण हुआ है।

इसकी बहुत संभावना है कि यह 15 मई को दक्षिण बंगाल की खाड़ी के मध्य भागों के ऊपर दबाव के रूप में संकेंद्रित हो जाएगा और 16 मई की शाम तक दक्षिण पश्चिम और समीपवर्ती पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक चक्रवाती तूफान के रूप में और तीव्र हो जाने का अनुमान है। इसके आरंभ में 17 मई तक उत्तर पश्चिम दिशा में आगे बढ़ने और फिर से उत्तर उत्तर-पूर्व दिशा में मुड़ जाने का अनुमान है।

उपरोक्त प्रणाली के साथ, स्थितियां 16 मई, 2020 के आसपास दक्षिण बंगाल की खाड़ी, अंडमान सागर एवं अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह के ऊपर दक्षिण पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए अनुकूल हैं।

इसके प्रभाव के तहत, 15 मई के बाद से दक्षिण एवं मध्य बंगाल की खाड़ी तथा समीपवर्ती अंडमान सागर के ऊपर निम्नलिखित प्रतिकूल मौसम रहने का अनुमान है।

चेतावनी:

(1)  वर्षा (अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह के ऊपर):

  • 15 एवं 16 मई को अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह के ऊपर अधिकांश स्थानों पर हल्की से भारी बारिश होने का अनुमान है। इन दो दिनों में अंडमान द्वीपसमूह में कुछ स्थानों पर भारी वर्षा होने का भी अनुमान है।

(2)  हवा की चेतावनी

  • 45-55 से लेकर 65 किमी प्रति घंटे तक की तूफानी हवाओं के 15 मई, 2020 को दक्षिण एवं निकटवर्ती मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर तथा 16 मई को 55-65 से लेकर 75 किमी प्रति घंटे तक की तूफानी हवाओं के इसी क्षेत्र में चलने का अनुमान है। 16 मई की शाम से हवा की गति के बढ़ कर 65-75 से लेकर 85 किमी प्रति घंटे तक की आंधी वाली हवाओं के दक्षिण पश्चिम और समीपवर्ती पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर चलने का अनुमान है। 45-55 किमी प्रति घंटे तक की तूफानी हवाओं के 15 एवं 16 मई को अंडमान सागर के ऊपर चलने की संभावना है।

(3) समुद्र की स्थिति

  • समुद्र की स्थिति 15 मई-16 मई के दोपहर से दक्षिण और समीपवर्ती मध्य बंगाल की खाड़ी तथा अंडमान सागर के ऊपर उग्र से बहुत उग्र होगी तथा 16 मई की शाम से दक्षिण पश्चिम और समीपवर्ती पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर बहुत उग्र से उच्च रहेगी।

(4) मछुआरों को चेतावनी

  • मछुआरों को 15 मई 2020 से दक्षिण एवं मध्य बंगाल की खाड़ी में नहीं जाने की सलाह दी जाती है। जो मछुआरे इन क्षेत्रों में समुद्र में गए हुए हैं, उन्हें कल तक तटों पर लौट आने का सुझाव दिया जाता है।

प्रणाली सतत निगरानी के तहत है और संबंधित राज्य सरकारों को नियमित रूप से सूचित किया जा रहा है।

कृपया प्रणाली के बारे में अपडेट जानने के लिए www.rsmcnewdelhi.imd.gov.in एवं www.mausam.imd.gov.in   पर जाएं।

****

एएम/एसकेजे/एसएस



(Release ID: 1623652) Visitor Counter : 234